DA Image
हिंदी न्यूज़   ›   उत्तर प्रदेश  ›  पीएम स्वनिधि योजना: 10 हजार का लोन चुकाओ 20 हजार तुरंत ले जाओ
उत्तर प्रदेश

पीएम स्वनिधि योजना: 10 हजार का लोन चुकाओ 20 हजार तुरंत ले जाओ

वरिष्ठ संवाददाता,आगरा Published By: Amit Gupta
Thu, 17 Jun 2021 12:18 PM
पीएम स्वनिधि योजना: 10 हजार का लोन चुकाओ 20 हजार तुरंत ले जाओ

कोरोना काल में रेहड़ी, ठेल वालों के जीवन यापन के लिए शुरू की गई पीएम स्वनिधि योजना में उन लोगों को तोहफा मिलने जा रहा है, जिन्होंने पिछले वर्ष लिया 10 हजार का लोन चुका दिया है। योजना के तहत ऐसे लोगों को अब 20 हजार का लोन मिलेगा। साफ है कि 10 हजार का लोन चुकाओ तो 20 हजार का लोन ले जाओ। आगरा जिले में इस योजना में लगभग 30 हजार लोगों को लाभ मिल सकता है, लेकिन फिलहाल करीब 214 लोगों ने शतप्रतिशत लोन की अदायगी की है। उन्हें डूडा के अधिकारियों ने 20 हजार का लोन ऑफर दिया है।

डूडा के परियोजना प्रबंधक मनीष कुमार के मुताबिक शासन के निर्देश पर ऐसे लोगों का सत्यापन किया जा रहा है, जिन्होंने शत प्रतिशत लोन अदायगी कर दी है। शत प्रतिशत लोन अदायगी करने वाले यदि चाहेंगे तो उन्हें तुरंत 20 हजार लोन दोबारा मिल जाएगा। आगरा जिले में 10 हजार का लोन पाने के लिए करीब 62 हजार आवेदन आाए थे। इनमें से करीब 33352 लोग पात्र मिले थे। अब तक करीब 30351 लोगों को लोन का आवंटन किया गया है। इनमें से करीब 26775 लाभार्थी शहरी सीमा के हैं, शेष गामीण क्षेत्र के हैं। शहरी सीमा के करीब 26 हजार लाभार्थियों में से करीब 214 ने लोन चुका दिया है।

प्रदेश में पहला जिला बना आगरा
पूरे प्रदेश में आगरा पहला जिला है, जहां लोन की अदायगी का सिलसिला शुरू हो गया है। पिछले दिनों शासन ने योजना के दूसरे चरण के लिए पूरे प्रदेश में सत्यापन कराया था। ताकि यह पता चल सके कि कितने लाभार्थी हैं, जिन्होंने लोन वापस करना शुरू कर दिया है। हैरत की बात है कि केवल आगरा ऐसा जिला मिला है, जहां लाभार्थियों ने लोन वापस करना शुरू किया और करीब 214 लोगों ने शत-प्रतिशत लोन की अदायगी कर दी है।

27 अक्टूबर को पीएम ने लाभार्थियों से की थी बात
पीएम स्वनिधि योजना की लॉन्चिंग जून 2020 में हुई थी। इस योजना का मकसद कोरोना की वजह से अपना काम धंधा गंवा चुके रेहड़ी, ठेल, खोखे, छोटी दुकान चलाने वालों को आर्थिक मदद मुहैया कराना था। योजना में बंपर आवेदन आए थे। योजना लॉन्च होने के बाद इसकी हकीकत जानने के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 27 अक्टूबर 2020 को वीडियो कांफ्रेंसिंग के माध्यम से लाभार्थियों से सीधा संवाद किया था। आगरा में 6 लाभार्थियों को इसके लिए चुना गया था। प्रधानमंत्री ने शिल्पग्राम में मौजूद प्रीति से बात की थी।
 

संबंधित खबरें