ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News उत्तर प्रदेशअच्‍छे काम लोग मेरे लिए ही छोड़ गए...कल्कि धाम से विपक्ष पर जमकर बरसे पीएम मोदी 

अच्‍छे काम लोग मेरे लिए ही छोड़ गए...कल्कि धाम से विपक्ष पर जमकर बरसे पीएम मोदी 

पीएम मोदी आज यूपी के दौरे पर हैं। उन्‍होंने संभल में कल्कि धाम मंदिर का शिलान्‍यास किया। उन्‍होंने विपक्ष पर जमकर हमला बोला। कहा कि ऐसे कई अच्‍छे काम हैं तो कुछ लोग मेरे लिए ही छोड़ गए हैं।

अच्‍छे काम लोग मेरे लिए ही छोड़ गए...कल्कि धाम से विपक्ष पर जमकर बरसे पीएम मोदी 
Ajay Singhलाइव हिन्‍दुस्‍तान,लखनऊMon, 19 Feb 2024 12:06 PM
ऐप पर पढ़ें

PM Modi in Kalki Dham: प्रधानमंत्री नरेन्‍द्र मोदी आज यूपी के दौरे पर हैं। उन्‍होंने संभल में कल्कि धाम मंदिर का शिलान्‍यास किया। इस मौके पर उन्‍होंने विपक्ष पर जमकर हमला बोला। पीएम ने कहा कि ऐसे कई अच्‍छे काम हैं तो कुछ लोग मेरे लिए ही छोड़ कर चले गए हैं। आगे भी जितने अच्‍छे काम रह गए हैं, उनका भी संतों और जनता-जनार्दन के आशीर्वाद से हम पूरा करेंगे। 

पीएम ने कहा कि आज यूपी की धरती से भक्ति, भाव और आध्‍यात्‍म की एक और धारा प्रवा‍हित होने को लालायित है। आज एकऔर पवित्र धाम की नींव रखी जा रही है। मुझे भव्य कल्कि धाम के शिलान्यास को सौभाग्य मिला है। मुझे विश्वास है कि कल्कि धाम भारतीय आस्था के एक और विराट केंद्र के रूप में उभरकर सामने आएगा। उन्‍होंने कहा कि आज एक ओर हमारे तीर्थों का विकास हो रहा है तो दूसरी ओर शहरों में हाई टेक इंफ्रास्ट्रक्चर भी तैयार हो रहा है। आज अगर मंदिर बन रहे हैं तो देश भर में नए मेडिकल कॉलेज भी बन रहे हैं। 

समय का चक्र घूम चुका है 
पीएम मोदी ने कहा कि यह परिवर्तन इस बात का प्रमाण है कि समय का चक्र घूम चुका है, एक नया दौर आज हमारे दरवाजे पर दस्तक दे रहा है इसलिए मैंने लाल किले से कहा था 'यही समय है, सही समय है। उन्‍होंने कहा कि मैं प्रमोद कृष्णम को एक राजनैतिक व्यक्ति के रूप में दूर से जानता था लेकिन जब कुछ दिन पहले उनसे मुलाकात हुई तो पता चला कि वे ऐसे धार्मिक-अध्यात्मिक कार्यों में कितनी मेहनत से लगे रहते हैं। कल्कि मंदिर के लिए इन्हें पहले की सरकारों के समय लंबी लड़ाई लड़नी पड़ी, कोर्ट के चक्कर भी लगाने पड़े। आज हमारी सरकार में वे निश्चिंत होकर इस काम को शुरु कर पाए हैं। पीएम ने कहा कि आज पहली बार भारत उस मकाम पर है जहां हम अनुसरण नहीं कर रहे, उदाहरण पेश कर रहे हैं। आज पहली बार भारत को टेक्नोलॉजी और डिजिटल टेक्नोलॉजी के क्षेत्र में संभावनाओं के केंद्र के रूप में देखा जा रहा है। 

...तो कृष्‍ण-सुदामा पर दाखिल हो जाती पीआईएल 
उन्‍होंने कहा कि आचार्य प्रमोद कृष्णम ने  कहा कि हर किसी के पास देने के लिए कुछ न कुछ होता है लेकिन मेरे पास कुछ नहीं है, मैं सिर्फ अपनी भावना व्यक्त कर सकता हूं। अच्छा हुआ कुछ दिया नहीं, ज़माना ऐसा बदल चुका है कि आज के युग में अगर सुदामा श्री कृष्ण को एक पोटली चावल देते और वीडियो सामने आता तो सुप्रीम कोर्ट में PIL दाखिल हो जाती और फैसला आता कि भगवान कृष्ण को भ्रष्टाचार में कुछ दिया गया था और भगवान कृष्ण भ्रष्टाचार कर रहे थे। 

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें