ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News उत्तर प्रदेशपीएम मोदी फिर आ रहे काशी, 21 को महिलाओं से करेंगे संवाद, पिछली बार नामांकन के बाद नहीं किया था प्रचार

पीएम मोदी फिर आ रहे काशी, 21 को महिलाओं से करेंगे संवाद, पिछली बार नामांकन के बाद नहीं किया था प्रचार

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी एक बार फिर 21 मई को वाराणसी आ रहे हैं। इस दौरान उनका मुख्य कार्यक्रम मातृशक्ति यानी महिलाओं के साथ संवाद का है। इसके लिए घर-घर से महिलाओं को सभा में लाने की तैयारी हो रही है।

पीएम मोदी फिर आ रहे काशी, 21 को महिलाओं से करेंगे संवाद, पिछली बार नामांकन के बाद नहीं किया था प्रचार
Yogesh Yadavलाइव हिन्दुस्तान,वाराणसीThu, 16 May 2024 09:11 PM
ऐप पर पढ़ें

लोकसभा चुनाव के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ताबड़तोड़ सभाएं कर रहे हैं। गुरुवार को ही उन्होंने अपने संसदीय क्षेत्र वाराणसी के आसपास की चार सीटों पर जनसभाओं को संबोधित किया। सोमवार-मंगलवार को दो दिनों तक वाराणसी में रहे और नामांकन दाखिल करने से पहले रोड शो और उसके बाद कार्यकर्ताओं के साथ बैठक की थी। इस दौरान वाराणसी में उन्होंने 80 किलोमीटर की दूरी सड़क और गंगा से तय करते हुए माहौल बनाने की कोशिश की थी। अब एक बार फिर वह 21 मई को आ रहे हैं। इस दौरान उनका मुख्य कार्यक्रम मातृशक्ति यानी महिलाओं के साथ संवाद का है। इसके लिए घर-घर से महिलाओं को सभा में लाने की तैयारी हो रही है। 

इस आयोजन को लेकर मंगलवार को रुद्राक्ष कन्वेंशन सेंटर में हुए कार्यकर्ता सम्मेलन में उन्होंने संकेत दिया था। नामांकन के बाद वाराणसी में प्रचार के लिए पीएम मोदी दस साल बाद आएंगे। 2019 के चुनाव में उन्होंने यहां का चुनाव स्थानीय नेताओं पर छोड़ दिया था। नामांकन के बाद चुनाव जीतने के बाद ही वाराणसी आए थे। माना जा रहा है कि 21 मई को अंतिम समय में कुछ और कार्यक्रम जुड़ सकते हैं।आसपास के जिलों में भी उनकी जनसभाएं हो सकती हैं। वाराणसी से सटे सोनभद्र, मिर्जापुर, चंदौली और गाजीपुर में अभी पीएम मोदी की इस चुनाव में सभा नहीं हुई है। 

अमेठी से गए रायबरेली से भी जाएंगे खटा खट खटा खट, पीएम मोदी का राहुल गांधी पर तीखा हमला

भाजपा के मीडिया सेल की ओर से दी गई जानकारी के अनुसार इस आयोजन की जिम्मेदारी भाजपा की महिला मोर्चा ही संभाल रहा है। 21 मई को यह आयोजन संपूर्णानंद संस्कृत विश्वविद्यालय में प्रस्तावित हैं। इससे पहले भी संपूर्णानंद संस्कृत विश्वविद्यालय में महिला सम्मलेन हो चुका है जिसे पीएम मोदी ने संबोधित किया था। रोड शो में महिलाओं की भागीदारी और उत्साह को देखकर पीएम मोदी अत्यंत प्रसन्न हुए थे। उन्होंने अपने नामांकन के बाद रुद्राक्ष कनवेंशन सेंटर में आयोजित कार्यकर्त्ता संवाद कार्यक्रम में अपनी इच्छा व्यक्त करते हुए कहा था कि इसी तरह का एक बड़ा सम्मेलन काशी की मातृशक्ति के साथ भी किया जाना चाहिए। 

पीएम मोदी की इसी इच्छा के अनुरूप 21 मई को संपूर्णानंद संस्कृत विश्वविद्यालय में मातृशक्ति सम्मेलन का आयोजन होने जा रहा है। इस सम्मेलन की सबसे बड़ी और खास बात यह होगी कि इस बार पीएम मोदी के स्वागत से लेकर कार्यक्रम के संचालन तक की जिम्मेदारी महिलाओं को ही दी गई है। प्रदेश मंत्री व महिला मोर्चा प्रभारी अर्चना मिश्रा ने महमूरगंज स्थित केंद्रीय चुनाव कार्यालय पर आयोजित महिला मोर्चा की बैठक को संबोधित करते हुए कहा कि प्रधानमंत्री के रोड शो में हम महिलाओं ने अपनी जिम्मेदारी को बखूबी निभाया।

इससे प्रधानमंत्री अत्यंत प्रसन्न हुए और उन्होंने अपनी प्रसन्नता को मंच से जाहिर भी किया। कहा कि पीएम मोदी का फिर से काशी आगमन विशेष रूप से माताओं बहनों का आभार व्यक्त करने के लिए ही हो रहा है। इसलिए हम माताओं बहनों की जिम्मेदारी और भी बढ़ जाती है। कहा कि मातृशक्ति सम्मेलन में ज्यादा से ज्यादा महिलाएं सम्मिलित हों इसकी चिंता हम सभी को करनी है।

महिला मोर्चा घर-घर जाकर आधी आबादी को दे निमंत्रण 
प्रदेश मंत्री मीना चौबे ने कहा कि संपूर्णानंद विश्वविद्यालय में प्रस्तावित इस अभूतपूर्व कार्यक्रम को ऐतिहासिक बनाने के लिए हम सभी माताओं बहनों को पूरी निष्ठा से जुट जाना होगा और काशी के प्रत्येक घरों में जाकर सभी माताओं बहनों को इस कार्यक्रम में सहभागी होने के लिए आमंत्रित करना होगा। कहा कि हमें पूरी तैयारी के साथ मंडल, शक्ति केंद्र और बूथ की टीमों को सक्रिय करना होगा। कहा कि पीएम मोदी का यह कार्यक्रम विशेष रूप से हम माताओं-बहनों को समर्पित है। इसलिए हम माताओं बहनों को भी अपने प्रधानमंत्री के स्वागत में कोई कमी न रह जाए, इस बात की पूरी चिंता करनी है।