ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News उत्तर प्रदेशगंगा और काल भैरव का पूजन कर तीसरी बार मोदी ने वाराणसी से किया नामांकन, NDA नेताओं का जमावड़ा

गंगा और काल भैरव का पूजन कर तीसरी बार मोदी ने वाराणसी से किया नामांकन, NDA नेताओं का जमावड़ा

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मंगलवार को वाराणसी में गंगा और काल भैरव का पूजन कर तीसरी बार नामांकन दाखिल कर दिया। इस दौरान कई मुख्यमंत्रियों के साथ NDA नेताओं का भी जमावड़ा वाराणसी के कलक्ट्रेट पर हुआ।

गंगा और काल भैरव का पूजन कर तीसरी बार मोदी ने वाराणसी से किया नामांकन, NDA नेताओं का जमावड़ा
Yogesh Yadavहिन्दुस्तान,वाराणसीTue, 14 May 2024 11:57 PM
ऐप पर पढ़ें

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मंगलवार को वाराणसी लोकसभा सीट से लगातार तीसरी बार भाजपा प्रत्याशी के रूप में नामांकन किया। इस दौरान रक्षामंत्री राजनाथ सिंह, गृहमंत्री अमित शाह, भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा सहित विभिन्न प्रदेशों के आधा दर्जन मुख्यमंत्री और एनडीए के विभिन्न घटक दलों के नेता मौजूद रहे। नरेंद्र मोदी ने यहां से 2014 में पहली बार और 2019 में दूसरी बार जीत हासिल की थी। वाराणसी में लोकसभा चुनाव के सातवें चरण के तहत पहली जून को मतदान होना है।

नामांकन दाखिला का मंगलवार को अंतिम दिन था। पर्चा दाखिल करने से पहले प्रधानमंत्री ने गंगा सप्तमी, पुष्य नक्षत्र, सर्वार्थसिद्धि और रवि योग के सुखद संयोग के मध्य दशाश्वमेध घाट के सामने गंगा पूजन किया। फिर काशी के कोतवाल बाबा कालभैरव का दर्शन-पूजन कर उनसे आशीर्वाद लिया। नरेन्द्र मोदी विवेकानंद क्रूज से दशाश्वमेध घाट से गंगा विहार करते हुए आदिकेशव घाट तक गए, फिर नमो घाट पर उतरे। वहां से सड़क मार्ग से कालभैरव मंदिर गए। 

चार लोग बने प्रस्तावक
सफेद कुर्ता-पायजामा और नीली सदरी पहने मोदी प्रवेश द्वार तक वाहन से पहुंचे। वहां से कलक्ट्रेट सभागार तक पैदल आए। वहां मौजूद भाजपा एवं एनडीए के नेताओं का अभिवादन किया। फिर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ और अयोध्या में रामलला के विग्रह की प्राण प्रतिष्ठा का मुहूर्त निकालने वाले आचार्य पं. गणेश्वर शास्त्री एवं जनसंघ काल के कार्यकर्ता बैजनाथ पटेल के साथ नामांकन कक्ष में दाखिल हुए। गणेश्वर शास्त्री द्रविड़ और बैजनाथ पटेल के अलावा लालचंद कुशवाहा एवं संजय सोनकर प्रधानमंत्री के चार प्रस्तावक बने। चार सेट में पर्चा दाखिला के बाद प्रधानमंत्री सभी विशिष्टजनों के साथ कलक्ट्रेट से निकले।

नामांकन पत्र दाखिल करने के बाद प्रधानमंत्री ने रुद्राक्ष कन्वेंशन सेंटर में भाजपा कार्यकर्ताओं के साथ बैठक भी की। इसमें बूथ से राष्ट्रीय स्तर तक के पदाधिकारी रहे। करीब घंटेभर तक चुनाव जीतने का मंत्र देने के बाद मोदी सड़क मार्ग से बाबतपुर एयरपोर्ट रवाना हुए। वहां से गया के लिए उड़ान भरी। मोदी दो दिनी दौरे पर सोमवार को काशी पहुंचे थे। यहां उन्होंने छह किमी रोड शो करने के बाद विश्वनाथ मंदिर में दर्शन-पूजन किया था। 

नामांकन कक्ष में शपथ पत्र भी पढ़ा 
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने जिला निर्वाचन अधिकारी एस. राजलिंगम को नामांकन पत्र सौंपने के बाद खड़े होकर शपथ पत्र पढ़ा। उसका मजमून था-‘मैं नरेंद्र दामोदार दास मोदी लोकसभा में स्थान के लिए अभ्यर्थी के तौर पर नाम निर्दिष्ट किया हूं।, ईश्वर की शपथ लेता हूं और सत्यनिष्ठा से प्रतिज्ञा करता हूं कि मैं विधि द्वारा स्थापित भारत के संविधान में सच्ची श्रद्धा व निष्ठा रखूंगा और मैं भारत की एकता व अक्षुण्णता में विश्वास करता हूं।’ 

नामांकन के दौरान ये रहे मौजूद 
कलक्ट्रेट में नरेन्द्र मोदी के नामांकन के दौरान भाजपा अध्यक्ष जगत प्रकाश नड्डा, रक्षामंत्री राजनाथ सिंह, गृहमंत्री अमित शाह, मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ, महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री एकनाथ शिंदे, मेघालय के मुख्यमंत्री कोनरॉड संगमा, राकांपा नेता प्रफुल्ल पटेल, केंद्रीय मंत्री रामदास आठवले और हरदीप सिंह पुरी, चंद्रबाबू नायडू, पवन कल्याण, जीतन राम मांझी, उपेंद्र कुशवाहा, संजय निषाद, अनुप्रिया पटेल, ओमप्रकाश राजभर, जयंत चौधरी, अंबुमणि रामदास, जीके वासन, देवनाथन यादव, तुषार वेल्लापल्ली और अतुल बोरा मौजूद थे। नामांकन कार्यक्रम में बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार को भी आना था लेकिन स्वास्थ्य संबंधी कारणों से वह नहीं आ सके।

काशी के मेरे परिवारजनों का हृदय से आभार! 
नामांकन के बाद नरेंद्र मोदी ने एक्स पर लिखा कि, ‘वाराणसी से लगातार तीसरी बार नामांकन कर बेहद उत्साहित हूं। बीते 10 वर्षों में आप सबसे जो अद्भुत स्नेह और आशीर्वाद मिला है, उसने मुझे निरंतर सेवाभाव और पूरे संकल्प के साथ काम करने के लिए प्रेरित किया है। आपके भरपूर समर्थन और सहभागिता से मैं अपने तीसरे टर्म में भी नई ऊर्जा-शक्ति के साथ यहां के चौतरफा विकास और जनता-जनार्दन के कल्याण में जुटा रहूंगा।’

कश्मीर में अधिक मतदान मेरे जीवन की सबसे बड़ी घटना : मोदी
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का मंगलवार को एक कुशल संगठनकर्ता का भी रूप दिखा। मौका था बूथ स्तरीय कार्यकर्ताओं की बैठक का। कलक्ट्रेट परिसर में नामांकन के बाद मोदी सिगरा स्थित रुद्राक्ष कन्वेंशन सेंटर पहुंचे और बैठक में बूथ मैनेजमेंट का अपना अनुभव साझा किए। फिर, कार्यकर्ताओं से हर बूथ पर 370 अधिक वोट डलवाने का संकल्प भी करवाया। 

बैठक की शुरुआत में प्रधानमंत्री ने बूथों पर 370 अधिक वोट को अनुच्छेद 370 से जोड़ा। कहा, उसे हटाने के लिए डॉ. श्यामा प्रसाद मुखर्जी ने बलिदान दिया था। वह सपना अब पूरा हुआ है। मोदी ने कहा कि मेरे जीवन की सबसे बड़ी घटना जम्मू-कश्मीर और श्रीनगर में बड़ी संख्या में मतदान होते देखना है। आजादी के बाद पहली बार 40 फीसदी से अधिक मतदान यह बताता है कि कश्मीर के लोग धारा 370 हटाने से खुश हैं।

मुझे संतोष है कि जम्मू कश्मीर में लोकतंत्र मजबूत हुआ है। अब डॉ. श्यामा प्रसाद मुखर्जी को सच्ची श्रद्धांजलि यही होगी कि पिछले चुनाव में बूथ पर जितने वोट पड़े थे, उनमें 370 वोट ज्यादा पड़ें। कार्यकर्ताओं को हर बूथ पर पिछले चुनाव से 370 ज्यादा वोट दिलाने के लिए जुटना होगा। एक कार्यकर्ता कम से कम 30 मतदाता को मतदान केंद्र तक पहुंचाने की जिम्मेदारी ले। 

बूथों पर मनाएं उत्सव 
मोदी ने सोमवार के रोड शो के लिए सभी कार्यकर्ताओं के प्रति आभार जताया। साथ ही, ‘अपना बूथ सबसे मजबूत’ का मंत्र दिया। उन्होंने कहा कि एक जून को मतदान तक पोलिंग बूथों पर लोकतंत्र का उत्सव मनाएं। बूथों से जुड़े मोहल्लों, अपार्टमेंट के लोगों को आमंत्रित करें। वहां रंगोली सजाएं।
 
...तब क्या मुंह दिखाऊंगा
उन्होंने कहा कि जुलूस, रोड शो से चुनाव में बूथ पर असर नहीं पड़ता। हार-जीत से फर्क नहीं पड़ता है, लेकिन अगर मतदान प्रतिशत में पीछे रह गए तो काशी का प्रतिनिधि होने के नाते क्या मुंह दिखाऊंगा। इसलिए पोलिंग बूथ जीतना ही संकल्प होना चाहिए। प्रधानमंत्री ने कहा कि रोड शो में कार्यकर्ताओं का उत्साह देखने को मिला। बैठकों में भी वे उत्साहित दिखते हैं। इसबार यह उत्साह ईवीएम में भी दिखाई  इस बार हर एक पोलिंग बूथ जीतना है। 

काशी फिर करेगी मोदी सरकार की अगुवाई : योगी
वाराणसी। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि काशी फिर एक बार मोदी सरकार की अगुआई काशी करेगी। मंगलवार को रुद्राक्ष कन्वेंशन सेंटर में भाजपा कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए उन्होंने कहा कि काशी को नए रिकॉर्ड बनाने की तरफ अग्रसर होना है। क्योंकि काशीवासियों से जनप्रतिनिधि तथा कार्यकर्ताओं से मार्गदर्शक के रूप में प्रधानमंत्री का गहरा जुड़ाव है। 

सीएम ने कहा कि काशी से प्रधानमंत्री का तीसरी बार नामांकन न केवल उत्तर प्रदेश बल्कि देशवासियों और उसकी आस्था का सम्मान है। काशी का हर नागरिक, हर तबका इससे जुड़ा है। विपक्ष की विखंडनकारी नकारात्मक राजनीति की समाप्ति के संकल्प के साथ पूरा देश नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में तीसरी बार बहुमत से सरकार बनाएगा और काशी उसकी अगुआई करेगी। बैठक में भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष चौधरी भूपेन्द्र सिंह, केन्द्रीय मंत्री डॉ. महेन्द्रनाथ पांडेय और काशी क्षेत्र अध्यक्ष दिलीप पटेल ने भी विचार व्यक्त किए। 
  
महिला कार्यकत्रियों के साथ बैठक जल्द
वाराणसी। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जल्द ही बनारस में महिला और युवा कार्यकर्ताओं संग बैठक करेंगे। रुद्राक्ष में कार्यकर्ता बैठक में उन्होंने कहा कि नारी शक्ति का आशीर्वाद लेने के लिए मैं जल्द बनारस में महिला कार्यकत्रियों के साथ अलग सम्मेलन करना चाहता हूं। इस बारे में योगी आदित्यनाथ से बातचीत हुई है। मोदी ने कहा कि मुझे जब भी बनारस के आसपास आने का अवसर मिलेगा, मैं काशी में ही ठहरूंगा और अपने युवा कार्यकर्ताओं संग भी संवाद करूंगा। उल्लेखनीय है कि प्रधानमंत्री का अगले दस दिनों में भदोही, आजमगढ़ समेत पूर्वांचल के दूसरे जिलों में तीन बार दौरा प्रस्तावित है।

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें