DA Image
हिंदी न्यूज़ › उत्तर प्रदेश › 3.42 लाख लाभार्थियों को मिली पीएम आवास की सौगात, CM योगी बोले-BJP सरकार में रोटी-कपड़ा-मकान नारा नहीं, गारंटी है
उत्तर प्रदेश

3.42 लाख लाभार्थियों को मिली पीएम आवास की सौगात, CM योगी बोले-BJP सरकार में रोटी-कपड़ा-मकान नारा नहीं, गारंटी है

मुख्‍य संवाददाता ,गोरखपुर Published By: Ajay Singh
Wed, 27 Jan 2021 07:31 PM
3.42 लाख लाभार्थियों को मिली पीएम आवास की सौगात, CM योगी बोले-BJP सरकार में रोटी-कपड़ा-मकान नारा नहीं, गारंटी है

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि पूर्ववर्ती सरकारों में रोटी, कपड़ा और मकान सिर्फ नारा था लेकिन भाजपा सरकार मेें यह गारंटी है। इन बुुनियादी जरूरतों के साथ ही सरकार, आजीविका के इंतजाम की गारंटी भी दे रही है। यह सब इसलिए संभव हो सका क्योंकि प्रदेश की जनता ने अपार जनसमर्थन के साथ अच्छे जन प्रतिनिधियों को चुन कर सरकार में भेजा है।

मुख्यमंत्री, बुधवार को एनेक्सी भवन के सभागार से प्रदेश के शहरी क्षेत्र के प्रधानमंत्री आवास योजना (शहरी) के 3 लाख 42 हजार 322 लाभार्थियों के खातों में 2409 करोड़ रुपये की धनराशि ऑनलाइन ट्रांसफर कार्यक्रम को संबोधित कर रहे थे। उन्होंने कार्यक्रम की शुरुआत लाभार्थियों के खाते में योजना की किस्त एक क्लिक से भेज कर की। सीएम ने कहा कि 2017 में पीएम आवास योजना में सूबे का देश में 27वां स्थान था। पूर्ववर्ती सरकार लोगों को इसका लाभ नहीं दिला रही थी। 2017 में हमारी सरकार आई तो युद्धस्तर काम कर तीन साल में इस योजना में प्रदेश को नम्बर वन बना दिया। अब तक प्रदेश के शहरी क्षेत्र में 16.82 लाख से अधिक और ग्रामीण क्षेत्र में 23 लाख से अधिक लोगों को पीएम आवास योजना का लाभ मिल चुका है।

सीएम ने कहा कि यह लक्ष्य ईमानदारी, बिना सिफारिश, बिना रिश्वत और बिना इंतज़ार सिर्फ तीन साल में हासिल किया गया है। विश्वास दिलाया कि पीएम मोदी की मंशा के अनुरूप सबके लिए आवास के लक्ष्य को 2022 तक हासिल कर लेंगे। बताया कि शहरी क्षेत्र में इस योजना के तहत 2.5 लाख की सहायता मिलती है। 1.5 लाख रुपये केंद्र और 1 लाख राज्य सरकार देती है। योजना के अंतर्गत हर वह व्यक्ति पात्र है जिसके पास शहर में अपनी जमीन है और सालाना आय 03 लाख से कम है। कार्यक्रम में मुख्यमंत्री का स्वागत नगर विकास, शहरी समग्र विकास, नगरीय रोजगार एवं गरीबी उन्मूलन विभाग के कैबिनेट मंत्री आशुतोष टण्डन ने किया। उन्होंने योजना की अब तक की उपलब्धियां गिनाई। कहा कि मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के मार्गदर्शन में इस योजना में यूपी देश में सर्वश्रेष्ठ है। मिर्जापुर नगरपालिका और मलिहाबाद नगर पंचायत अपने अपने संवर्ग में पूरे देश मे नम्बर वन आए हैं। विभाग के राज्य मंत्री महेश गुप्ता भी ऑनलाइन शामिल हुए। आभार ज्ञापन नगर विकास विभाग के प्रमुख सचिव दीपक कुमार ने किया। गोरखपुर एनेक्सी भवन के कार्यक्रम में राज्य सभा सदस्य जयप्रकाश निषाद, महापौर सीताराम जायसवाल, विधायकगण डॉ राधामोहन दास अग्रवाल, बिपिन सिंह, महेंद्र पाल सिंह, शीतल पांडेय, संगीता यादव मौजूद रहीं।

विपक्ष पर हमला, बोले-पहले गरीबों के लिए सिर्फ नारे

सीएम योगी ने विपक्ष पर हमला बोला, कहा कि लाभार्थियों की खुशी और उत्साह देखते ही बन रहा है। यह खुशी पहले भी आ सकती थी लेकिन पूर्ववर्ती सरकारों में गरीबों के लिए सिर्फ नारे लगते थे, उनकी चिंता नहीं की जाती थी। पूर्ववर्ती सरकारों के एजेंडे में गरीब थे ही नहीं थे। आज गरीबों को आवास, सौभाग्य योजना के तहत बिजली, उज्ज्वला योजना के तहत रसोई गैस, आयुष्मान योजना के तहत स्वास्थ्य सुविधा, पोषण की योजनाओं का लाभ उनके द्वार पर जाकर दिया जा रहा है।

पूर्ववर्ती सरकारों ने बिगाड़ी आदत, कोई पैसा मांगेे तो करें शिकायत

सीएम योगी ने कहा कि कांग्रेस, सपा और बसपा की सरकारी संस्कृति में वसूली और रिश्वतखोरी के चलते 100 में से 85 रुपये दलालों और घोटालेबाजों की जेब मे चले जाते थे। पीएम ने जनधन खाता खुलवाया ताकि पूरा का पूरा रुपया लाभार्थी के खाते में जाए। लाभार्थियों को विश्वास दिलाया कि कोई रुपया मांगे तो अपने विधायक, सांसद, मुख्यमंत्री हेल्पलाइन व आईजीआरएस पर शिकायत करें। रुपये मांगने वालों की पूरी संपति जब्त कर कड़ी कार्रवाई की जाएगी। जनप्रतिनिधियों से अपील की कि वे पीएम आवास योजना में बन रहे आवासों की साप्ताहिक समीक्षा करें। लाभार्थियों की कॉउंसिलिंग कर सुनिश्चित करें कि रकम का इस्तेमाल आवास बनाने में ही हो।

आजीविका मिशन से जुड़कर स्वयं को स्वावलम्बी बनाएं

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने वाराणसी, मथुरा, अयोध्या, सहारनपुर, गाजियाबाद की दस लाभार्थियों से वर्चुअल संवाद किया। उन्होंने बड़े ही आत्मीयता के साथ आवास निर्माण की जानकारी ली। उनके परिजनों के बारे में भी पूछा। बच्चों के पठन पाठन की जानकारी ली। सलाह दिया कि आजीविका मिशन से जुड़कर स्वयं को स्वावलंबी बनाएं। सरकार की योजनाओं के साथ जुड़ कर अपने परिवार की आय बढ़ाएं। सीएम ने गोरखपुर की दस लाभार्थियों को आवास की चाबी भी सौंपी।

संबंधित खबरें