ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News उत्तर प्रदेशदलितों के नाम जमीन खरीद कर हो रही थी प्लाटिंग, अतीक की बेनामी संपत्तियों को जब्त करेगी ईडी और एसटीएफ

दलितों के नाम जमीन खरीद कर हो रही थी प्लाटिंग, अतीक की बेनामी संपत्तियों को जब्त करेगी ईडी और एसटीएफ

माफिया अतीक अहमद और अशरफ की हत्या के एक साल हो गए हैं। पुलिस दोनों की मौत से पहले से गैंग के खिलाफ गैंगस्टर एक्ट में अवैध रूप से अर्जित संपत्तियों व बेनामी संपत्तियों को जब्त करने में लगी थी।

दलितों के नाम जमीन खरीद कर हो रही थी प्लाटिंग, अतीक की बेनामी संपत्तियों को जब्त करेगी ईडी और एसटीएफ
Dinesh Rathourवरिष्ठ संवाददाता,प्रयागराजTue, 16 Apr 2024 04:18 PM
ऐप पर पढ़ें

माफिया अतीक अहमद और अशरफ की हत्या के एक साल हो गए हैं। पुलिस दोनों की मौत से पहले से गैंग के खिलाफ गैंगस्टर एक्ट में अवैध रूप से अर्जित संपत्तियों व बेनामी संपत्तियों को जब्त करने में लगी थी, लेकिन अभी भी बेनामी संपत्तियों का खुलासा हो रहा है। दलितों के नाम जमीन खरीद कर प्लॉटिंग चल रही थी। प्रयागराज पुलिस ने इन बेनामी संपत्तियों को जब्त करने के लिए प्रवर्तन निदेशालय के दिल्ली स्थित एसटीएफ और इनकम टैक्स को पत्राचार किया है। प्रयागराज पुलिस ने हुबलाल के नाम से 12 करोड़ से अधिक की प्रॉपर्टी का पता लगाकर उसे गैंगस्टर एक्ट में कुर्क किया था। इसके बाद पता चला कि गंगापार और यमुनापार में एक और दलित व्यक्ति के नाम से खेल हुआ है।

पुलिस ने श्यामजी सरोज के नाम से करोड़ों की संपत्ति का पता लगाया। जांच में खुलासा हुआ कि एक और श्यामजीत के नाम से बेनामी प्रॉपर्टी बनाई गई है। डीसीपी नगर दीपक भूकर ने बताया कि बेनामी संपत्तियों की ईडी की एसटीएफ जांच कर रही है। ईडी और इनकम टैक्स को रिपोर्ट भेज दी गई है। इससे पूर्व प्रवर्तन निदेशालय की प्रयागराज शाखा ने अतीक एंड कंपनी के खिलाफ मनी लॉन्ड्रिंग एक्ट के तहत केस दर्ज करके अतीक की करोड़ों की प्रॉपर्टी को अटैच किया था। अतीक के 11 बैंक खातों को सीज किया। अतीक की हत्या से पहले अप्रैल 2023 में ईडी टीम ने अतीक अहमद के आर्थिक मददगारों के 15 ठिकानों पर छापामारी की थी।

बिल्डर संजीव अग्रवाल, अमितदीप मोटर्स के मालिक दीपक भार्गव, करेली में बिल्डर काली, मोहसिन, सीए सबीह अहमद, अतीक के अधिवक्ता खान हनीफ सौलत, खालिद जफर, लूकरगंज में सीताराम शुक्ला, करेली में पूर्व विधायक आसिफ जाफरी और कौशाम्बी में वदूद अहमद के घर पर छापामारी की थी। जांच के दौरान 100 करोड़ से अधिक की प्रॉपर्टी के पेपर मिले थे। इसके अलावा विदेशी करेंसी, हीरे और सोने के गहने ईडी ने बरामद किए थे। अगले चरण में बिल्डर अमित गोयल के कार्यालय और बिल्डर अतुल के यहां छापामारी करके कागजात बरामद किए। इनके खिलाफ बड़ी कार्रवाई के लिए केस को प्रयागराज से ईडी की दिल्ली एसटीएफ को सौंप दिया गया।