DA Image
28 फरवरी, 2020|11:23|IST

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

CAA Protest : यूपी में PFI संगठन के हाथ होने की आशंका - केशव प्रसाद मौर्य

keshav prasad maurya

डिप्टी सीएम केशव प्रसाद मौर्य ने कहा कि सिमी के प्रतिबंध के बाद बने संगठन पीएफआई का यूपी की हिंसा में हाथ हो सकता है इसके लिए जांच एजेंसियां अपना काम कर रही हैं। नागरिकता संशोधन एक्ट पर विरोध करने वाले दलित पिछड़े गरीबों का विरोध करने वाले हैं।

उन्होंने आगे कहा कि कांग्रेस और सपा लोगों को उकसा कर प्रदेश में हिंसा करवा रही है ऐसे लोग पिछड़े और दलितों के हितैषी नहीं नहीं हो सकते। उन्होंने कहा कि प्रियंका को राजस्थान जाना चाहिए जहां स्थितियां ज्यादा खराब हैं। वहां बच्चे इलाज के अभाव में मर रहे हैं। वह यूपी में घूम रहे रही हैं। डिप्टी सीएम केशव प्रसाद मौर्य ने कहा कि कांग्रेस और सपा इस देश के मुसलमानों को गुमराह करके वोट हथियाने की राजनीति कर रही है। एनपीआर पर इन सियासी दलों का राजनीतिक बचकाना पन है जिसे वह जाहिर कर रहे हैं।

कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी को यूपी के डिप्टी सीएम केशव प्रसाद ने प्रियंका ट्वीटर गांधी वड्रा बताया। 120 करोड़ की योजनाओं का लोकार्पण और शिलान्यास भी उन्होंने मुरादाबाद में किया। हेलीपैड पर भाजपा के नेताओं ने उनका स्वागत किया इसके बाद प्रेस कांफ्रेंस में शामिल हुए प्रेस कॉन्फ्रेंस के बाद वह पार्टी कार्यकर्ताओं से मिले।  उसके बाद पार्टी कार्यकर्ताओं फिर घर मिलने जाएंगे।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:PFI organization feared in Uttar Pradesh behind Violence in CAA protest says Keshav Prasad Maurya