DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

GOOD NEWS पीएफ अंशधारक तीन साल बाद ले सकेंगे घर के लिए एडवांस

प्रतीक फोटो।

ईपीएफओ ने अपने अंशधारकों के लिए नए सिरे से हाउसिंग स्कीम शुरू कर दी है। अब नौकरी में एक बार अंशधारक घर के लिए एडवांस ले सकेगा जिसमें उसे उसके पीएफ खाते में जमा 90 फीसदी धन तक भुगतान किया जाएगा। घर के लिए अब अंशधारक तीन साल लगातार पीएफ खाता चलाने पर भी एडवांस पा सकेंगे। साथ ही स्कीम को क्रेडिट लिंक्ड सब्सिडी स्कीम से भी जोड़ दिया गया है। जिसमें अंशधारक 2.20 लाख की सब्सिडी भी पाने की सुविधा ले सकेंगे। 
ईपीएफओ ने संशोधित हाउसिंग स्कीम को लांच किया है। घर का सपना पूरा करने के लिए अंशधारक अपने पीएफ खाते से अब 90 फीसदी धन निकाल सकेंगे। अभी तक एडवांस में पचास फीसदी ही देने का प्रावधान रहा है। साथ ही घर के लिए एडवांस लेने में पांच वर्ष तक पीएफ खाता का लगातार संचालन होने का नियम रहा जिसे अब घटाकर तीन साल कर दिया गया है। ईपीएफओ ने अंशधारकों की सुविधा के लिए अब सरकारी के बाद निजी संस्थाओं के आवासों के लिए भी एडवांस देने के दरवाजे खोल दिए हैं। ईपीएफओ आवेदन के साथ ही संस्थाओं को एक साथ या फिर किस्तों में भुगतान की सुविधा रखेगा। 
क्रेडिट लिंक्ड सब्सिडी स्कीम का विकल्प मिलेगा
पीएफ अंशधारकों को आवेदन के समय ही क्रेडिट लिंक्ड सब्सिडी स्कीम का विकल्प देना होगा। विकल्प देने के बाद स्कीम के लिए ईपीएफओ के आयुक्त शहरी एवं आवास मंत्रालय के जरिए हुडको और नेशनल हाउसिंग बैंक को प्रस्ताव भेजेंगे। सब्सिडी इन्हीं के जरिए अंशधारक को मिलेगी लेकिन इसमें पात्रता का फैसला मंत्रालय करेगा। स्कीम में यह भी प्रावधान दिया गया है कि ईपीएफओ सीधे तौर पर अंशधारक के प्रस्ताव पर एडवांस का भुगतान संस्था के नाम भी कर सकता है। ईपीएफओ के बोर्ड सदस्य सुखदेव प्रसाद मिश्र ने बताया कि इस बार की नई स्कीम से अंशधारक घर का सपना पूरा कर सकता है। स्कीम ने प्रदेश के बीस लाख अंशधारकों को फायदा होगा। सबसे ज्यादा फायदा केन्द्र की सीएलसीसी से होगा जिसमें कम वेतन वाले अंशधारक घर का सपना पूरा कर सकेंगे।  
 

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:PF shareholders will be able to get advance for home after three years