ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News उत्तर प्रदेशयूपी के इस जिले में मकान टूटने के डर से लोगों की नींद उड़ी, बुलडोजर रोकने के लिए BJP सांसद के घर धरना  

यूपी के इस जिले में मकान टूटने के डर से लोगों की नींद उड़ी, बुलडोजर रोकने के लिए BJP सांसद के घर धरना  

प्रयागराज में सड़क चौड़ीकरण के लिए घरों को तोड़ने के खिलाफ बड़ा बघाड़ा, सादियाबाद, चांदपुर सलोरी और सलोरी के लोगों ने रविवार को फूलपुर की सांसद केशरी देवी के आवास के सामने धरना दिया।

यूपी के इस जिले में मकान टूटने के डर से लोगों की नींद उड़ी, बुलडोजर रोकने के लिए BJP सांसद के घर धरना  
Ajay Singhप्रमुख संवाददाता,प्रयागराजMon, 12 Feb 2024 12:25 PM
ऐप पर पढ़ें

Prayagraj News: यूपी के प्रयागराज में सड़क चौड़ीकरण के लिए घरों को तोड़ने के खिलाफ बड़ा बघाड़ा, सादियाबाद, चांदपुर सलोरी और सलोरी के लोगों ने रविवार को फूलपुर की सांसद केशरी देवी के आवास के समक्ष धरना दिया। प्रयागराज विकास प्राधिकरण की ओर से इन मोहल्लों में सड़क चौड़ीकरण के लिए मकानों को तोड़ने की लगातार मिल रही चेतावनी से नाराज लोग छह महीने से क्षेत्र में प्रदर्शन कर रहे थे। पीडीए के एक अधिकारी ने शनिवार को चेतावनी दी तो लोग बिफर पड़े। सांसद आवास पहुंच गए।

मकान बचाओ आंदोलन के तहत मकान मालिक पुलिस लाइन के पास सांसद आवास के सामने धरने पर बैठकर नारेबाजी करने लगे। इसकी जानकारी होने के बाद सांसद आवास से बाहर आईं और लोगों से बातचीत की। धरना देने वालों ने पीडीए के अधिकारियों पर तानाशाही रवैया अपनाने का आरोप लगाया। सभी ने एकसुर में कहा कि अधिकारी सांसद को नहीं जानते। अधिकारियों ने सांसद से बात करने से भी इनकार कर दिया। अधिकारियों का यह रुख देख आक्रोशित लोग यहां आए।

लोगों की शिकायत सुनने के बाद सांसद ने पीडीए के उपाध्यक्ष अरविंद चौहान से टेलीफोन पर बात की। लोगों ने दावा किया कि सांसद ने मार्ग चौड़ीकरण की जगह गंगा के कछार से रास्ता बनाने की बात उपाध्यक्ष से कही। मंजीत निषाद ने कहा कि सोमवार सुबह 10 बजे चौड़ीकरण के लिए प्रस्तावित मार्ग किनारे रहने वाले लोग पीडीए के उपाध्यक्ष से मुलाकात करेंगे। लोगों के मुताबिक पीडीए ने चौड़ीकरण की योजना 18 मीटर से घटाकर 14 मीटर की, लेकिन इसमें भी 400 से अधिक घर प्रभावित हो रहे हैं। कई घरों का 75 फीसदी हिस्सा टूट जाएगा। धरना और वार्ता में ब्रजेश उपाध्याय, पप्पू, बबली, काजू, सुधीर, निषाद आदि शामिल रहे।

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें