DA Image
हिंदी न्यूज़   ›   उत्तर प्रदेश  ›  लखनऊ: विवेक तिवारी के शव को देखकर बोली बेटी- "पापा उठो, मैं अच्छे नंबर लाऊंगी"

उत्तर प्रदेशलखनऊ: विवेक तिवारी के शव को देखकर बोली बेटी- "पापा उठो, मैं अच्छे नंबर लाऊंगी"

लखनऊ, निज संवाददाताPublished By: Shivendra
Sun, 30 Sep 2018 09:45 AM
लखनऊ: विवेक तिवारी के शव को देखकर बोली बेटी- "पापा उठो, मैं अच्छे नंबर लाऊंगी"

ऐपल कम्पनी के प्रोडेक्ट की लांचिंग के चलते विवेक देर से घर आने की बात कह कर निकले थे। शाम के वक्त पत्नी कल्पना को फोन किया तो बेटी सीवी से बात हुई। उसे पढ़ाई करने और जल्दी सोने की नसीहत दे विवेक ने फोन रख दिया। शनिवार की सुबह जब सीवी को पापा की हत्या किए जाने की खबर मिली तो मासूम मां के सीने से लिपट गई। विवेक का शव देख सीवी बोली पापा मै अच्छे नम्बर लाऊंगी, प्लीज उठ जाओ। फूल सी बच्ची को पिता के शव पर बिलखते देख वहां मौजूद हर शख्स की आंख भर आई।

मुझे भी पापा के पास ले चलो
विवेक की बेटी शानू को लेकर उसकी ताई कमरे में बैठी थी। शानू बार-बार उनसे पूछ रही थी कि आंटी इतने लोग घर पर क्यों आयें हैं। पापा के साथ क्या हुआ है। मुझे भी बाहर ले चलो। पापा से मिलना है। शानू के यह शब्द विवेक की भाभी को नश्तर की तरह चूभ रहे थे। 

आपको बता दें कि शुक्रवार देर रात लखनऊ के गोमती नगर में मकदूमपुर पुलिस चौकी के पास दो सिपाहियों ने एसयूवी में सवार ‘ऐपल’ के एरिया सेल्स मैनेजर विवेक तिवारी को गोली मार दी थी। गोली लगते ही विवेक की मौके पर ही मौत हो गई थी। यह देखते ही दोनों आरोपी सिपाही मौके से भाग निकले। दूसरे पुलिसकर्मियों ने विवेक को अस्पताल पहुंचाया जहां डॉक्टरों ने उन्हें मृत घोषित कर दिया। इस हादसे के बाद एडीजी आनन्द कुमार ने बताया कि यह हत्या का मामला है। गोली चलाने वाले सिपाही प्रशांत चौधरी और उसके साथी सिपाही संदीप कुमार को बर्खास्त कर दिया गया है। दोनों को गिरफ्तार कर उनके खिलाफ हत्या का मुकदमा दर्ज कर किया है। मामले की जांचके लिए एसआईटी का गठन का कर दिया गया है। इस बीच, मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने गोरखपुर में कहा कि यह एनकाउंटर नहीं है। प्रथम दृष्टया दोषी गिरफ्तार हो गए हैं। जरूरत पड़ी तो सीबीआई जांच भी कराएंगे।

Lucknow Shootout: हादसे के बाद नजरबंद सा कर दिया गया था सना को

संबंधित खबरें