DA Image
हिंदी न्यूज़   ›   उत्तर प्रदेश  ›  पंचायत चुनाव परिणाम: सोनिया गांधी के संसदीय क्षेत्र रायबरेली में सपा का दबदबा, भाजपा और कांग्रेस टक्कर में

उत्तर प्रदेशपंचायत चुनाव परिणाम: सोनिया गांधी के संसदीय क्षेत्र रायबरेली में सपा का दबदबा, भाजपा और कांग्रेस टक्कर में

वरिष्ठ संवाददाता,रायबरेली Published By: Amit Gupta
Tue, 04 May 2021 10:24 AM
पंचायत चुनाव परिणाम: सोनिया गांधी के संसदीय क्षेत्र रायबरेली में सपा का दबदबा, भाजपा और कांग्रेस टक्कर में

यूपी में चल रहे पंचायत चुनाव की मतगणना में कई चौकाने वाले परिणाम आ रहे हैं। कांग्रेस सुप्रीमों सोनिया गांधी के संसदीय क्षेत्र रायबरेली की  जिला पंचायत में सपा का दबदबा दिखा। जिला पंचायत सदस्य के 52 पदों के लिए वोटों की गिनती का काम सोमवार को दोपहर बाद पूरा हो गया। सभी परिणाम आ गए हैं, हालांकि देर रात तक सभी परिणामों की अधिकृत घोषणा प्रशासन ने नहीं की थी।

ब्लाकों में रिटर्निंग अफसरों के हवाले से जो जानकारी मिली, उसके मुताबिक दो दर्जन से अधिक सीटों पर सपा अथवा सपा के समर्थित प्रत्याशी जीते हैं, वहीं सपा जिलाध्यक्ष वीरेंद्र यादव का कहना है कि 15 सीटों पर पार्टी को जीत मिल चुकी है। भाजपा और कांग्रेस में बराबर की टक्कर बताई जा रही। उनके प्रत्याशियों की जीत नौ-नौ सीटों पर होने का पता चला है। जिला पंचायत के लिए भाजपा ने 52 सीटों पर प्रत्याशी खड़े किए थे, वहीं सपा ने 35 तथा कांग्रेस और बीएसपी ने 33-33 सीटों पर प्रत्याशियों के नामों की अधिकृत घोषणा की थी। रात 9.30 बजे तक प्रशासन ने अधिकृत रूप से सरेनी के दो विजेता प्रत्याशियों की घोषणा करते हुए उन्हें प्रमाणपत्र जारी किए थे। यह क्रम रात में जारी था।

शिवगढ़ तृतीय से जीते एमएलसी प्रतिनिधि विनय :

जिला पंचायत सदस्य प्रथम पर निर्दलीय अनुपमा मिश्रा ने प्रतिद्वंदी महेंद्र को 524 मतों से शिकस्त देकर जीत हासिल की। उन्हें कुल मत 5450 मिले, जबकि महेंद्र को 4926 मत ही प्राप्त हो सके। जिला पंचायत द्वितीय पर कांग्रेस समर्थित प्रत्याशी अंजली पासी ने अपने निकटतम प्रतिद्वंदी अर्चना रावत को 2472 मतों से हरा दिया। अंजली को 5962 मत मिले, जबकि अर्चना को 3490 वोट मिले। शिवगढ़ तृतीय पर एमएलसी प्रतिनिधि विनय कुमार वर्मा ने अपने निकटतम प्रतिद्वंदी रागिनी को 3273 मतों से शिकस्त दी। विनय को 6566 मत एवं रागिनी को कुल 3293, मत मिले। 

पति पत्नी दोनों के सिर बंधा जीत का ताज
लालगंज ब्लाक के पलिया विरसिंहपुर से दीपक पासवान प्रधान चुने गए हैं। वह पिछले जिला पंचायत चुनाव में लालगंज से चुनाव लड़े थे और कम मतों के अंतर से पराजित हो गए थे। परंतु वह निरन्तर क्षेत्र में सभी से मिलते जुलते रहे। अबकी बार महिला सीट आरक्षित होने से पत्नी नीतू पासवान को लड़ाया, जो लालगंज द्वितीय जिला पंचायत से विजयी हुई। खुद दीपक पलिया गांव से प्रधान चुने गए हैं।

मित्रों की मदद से मिली जिला पंचायत में विजय
आज का चुनाव जहां पैसा और धनबल का माना जाता है वही लालगांज प्रथम से भाजपा समर्थित सुनील गौतम को उनके मिलने वाले व मित्रो ने सभी प्रकार का सहयोग करके चुनाव जिता दिया। सुनील गौतम भाजपा के पूर्व महामंत्री और नरसिंहपुर ग्राम सभा के प्रधान रह चुके हैं। एक सामान्य परिवार से हैं। अनुसूचित जाति की सीट आरक्षित होने पर उनके मित्रो ने उनको चुनाव लड़ाया। उन्होंने खुद स्वीकार किया कि मेरा पूरा चुनाव मेरे मित्रो ने लड़ा है। 

जि पंचायत में राकेश सिंह राना को मिली जीत
जिला पंचायत जगतपुर प्रथम से राकेश सिंह राना विजयी घोषित किए गए हैं। उन्हें 6100 मत मिले। दूसरे नंबर पर गरीबदास रहे। 1834 वोटों से राकेश सिंह विजयी घोषित किए गए। कांग्रेस के जगतपुर के ब्लाक अध्यक्ष के पद पर रहकर क्षेत्र के लोगों के सुख दुख में शामिल होने का फायदा उनको मिला। सांसद सोनिया गांधी की निधि से गांव के गली गलियारों सीसी रोड व इंटरलकिंग कराई थी। क्षेत्र में लोगों के दुख सुख में रहने का फायदा मिला। 

संबंधित खबरें