DA Image
हिंदी न्यूज़ › उत्तर प्रदेश › पंचायत सहायक भर्ती: आज से शुरू हुई भर्ती प्रक्रिया, कोरोना से मरने वालों के परिजनों को वरीयता  
उत्तर प्रदेश

पंचायत सहायक भर्ती: आज से शुरू हुई भर्ती प्रक्रिया, कोरोना से मरने वालों के परिजनों को वरीयता  

वरिष्ठ संवाददाता,प्रयागराज Published By: Amit Gupta
Mon, 02 Aug 2021 12:13 PM
पंचायत सहायक भर्ती: आज से शुरू हुई भर्ती प्रक्रिया, कोरोना से मरने वालों के परिजनों को वरीयता  

पंचायत सहायक की भर्ती प्रक्रिया सोमवार से शुरू होगी। शासन ने इस भर्ती में कोरोना से जान गंवाने वालों के आश्रितों को वरीयता देने के लिए व्यवस्था की है। भर्ती का आधार इंटर की मेरिट होगी, लेकिन गांव में कोई ऐसा व्यक्ति आवेदन करता है जिसके पिता या पति की मृत्यु कोरोना से हुई है और वो आरक्षण नियमों को पूरा कर रहा है तो उसकी मेरिट नहीं देखी जाएगी। उसे अन्य अभ्यर्थियों पर वरीयता दी जाएगी। 

अगर गांव में दो या इससे अधिक लोग ऐसे आवेदन करते हैं, जिनके पिता या पति की मृत्यु कोरोना से हुई है तो फिर ऐसे लोगों की मेरिट देखी जाएगी। डीपीआरओ आलोक कुमार सिन्हा ने बताया कि जो शासनादेश आया है उसमें यह व्यवस्था की गई है। अपर मुख्य सचिव मनोज कुमार सिंह की ओर से जारी शासनादेश में फॉर्म का एक प्रारूप भी है। इसमें आवेदक का नाम, पता, पिता या पति का नाम, गांव, शैक्षणिक योग्यता आदि के बारे में पूछा गया है। वहीं एक कॉलम में यह भी दिया गया है कि आवेदक कोरोना से जान गंवाने वालों के आश्रित हैं या नहीं। इस बाबत पूछने पर डीपीआरओ ने बताया कि यह व्यवस्था है कि कोरोना से जान गंवाने वालों के परिजनों की मेरिट नहीं देखी जाएगी। 

आवेदन की प्रक्रिया  

पंचायत सहायक के लिए आवेदन दो से 17 अगस्त तक होना है। इन दिनों विकास भवन में पंचायती राज विभाग, अपने ब्लॉक के विकास खंड कार्यालय या फिर ग्राम पंचायत कार्यालय में आवेदन कर सकते हैं। 18 से 23 अगस्त के बीच सभी आवेदन डीपीआरओ और बीडीओ दफ्तर से ग्राम पंचायत दफ्तर भेजे जाएंगे। 24 से 31 अगस्त तक इसकी ग्राम पंचायत स्क्रूटनी करके डीपीआरओ को देगी। एक से सात सितंबर तक डीएम की अध्यक्षता वाली जिला स्तरीय समिति आए आवेदनों की एक बार फिर जांच करेगी। आठ सितंबर से 10 सितंबर के बीच नियुक्ति प्रक्रिया पूरी होगी। 

आरक्षण

आरक्षण ठीक वैसा ही होगा, जैसा पंचायत चुनाव में रहा। यानी महिला आरक्षित ग्राम सभा में पंचायत सहायक महिला, अनुसूचित जाति में अनुसूचित जाति वर्ग का या जैसा ग्राम पंचायत का आरक्षण होगा, वैसा ही आरक्षण मान्य होगा। 

कंप्यूटर सहायक पर अनिवार्य नहीं कंप्यूटर

जो भर्ती होनी है वो कंप्यूटर सहायक की होगी। लेकिन इसके लिए कंप्यूटर अनिवार्य नहीं किया गया है। अब सवाल उठता है कि कंप्यूटर सहायक बिना कंप्यूटर जाने कैसे काम करेंगे। 
 

संबंधित खबरें