ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News उत्तर प्रदेशपूर्व सांसद के खिलाफ गैंगस्‍टर मामले में जांच अधिकारी की सैलरी रोकने का आदेश, जानें वजह 

पूर्व सांसद के खिलाफ गैंगस्‍टर मामले में जांच अधिकारी की सैलरी रोकने का आदेश, जानें वजह 

पूर्व सांसद अशोक सिंह चंदेल पर गैंगस्टर के मामले में सुनवाई के दौरान नोएडा में तैनात विवेचक धर्मप्रकाश शुक्ला हाजिर नहीं हुए। इस पर एमपी एमएलए कोर्ट ने सख्त नाराजगी जताते हुए उनका वेतन रोक दिया।

पूर्व सांसद के खिलाफ गैंगस्‍टर मामले में जांच अधिकारी की सैलरी रोकने का आदेश, जानें वजह 
Ajay Singhप्रमुख संवाददाता,कानपुरSat, 02 Dec 2023 10:49 AM
ऐप पर पढ़ें

Former MP Ashok Singh Chandel Gangster Case: पूर्व सांसद अशोक सिंह चंदेल पर गैंगस्टर के मामले में शुक्रवार को सुनवाई के दौरान नोएडा में तैनात विवेचक धर्मप्रकाश शुक्ला हाजिर नहीं हुए। इस पर एमपी/एमएलए एडीजे 11 सत्येंद्र नाथ त्रिपाठी की कोर्ट ने सख्त नाराजगी जताई और विवेचक का वेतन रोकने का आदेश दिया। वारंट जारी कर उन्हें तलब भी किया गया।

इस मामले में अब अगली सुनवाई आठ दिसंबर को होगी। आगरा जेल में उम्रकैद की सजा काट रहे पूर्व सांसद अशोक सिंह चंदेल के खिलाफ कानपुर के बर्रा थाने में दर्ज किए गए गैंगस्टर मामले की सुनवाई एमपी/एमएलए एडीजे 11 सत्येंद्र नाथ त्रिपाठी की कोर्ट में हो रही है।

शुक्रवार को विवेचक से बचाव पक्ष को जिरह करनी थी। कानपुर देहात में पेशी की वजह से नोएडा में तैनात विवेचक धर्मप्रकाश शुक्ला कोर्ट के समक्ष हाजिर न हो सके। इस पर कोर्ट ने काफी नाराजगी जताई। एडीजीसी भाष्कर मिश्रा ने बताया कि तारीख होने के बावजूद विवेचक गैरहाजिर रहे।

कोर्ट ने उनका वेतन रोकने का आदेश दिया है। गैर जमानती वारंट जारी कर आठ दिसंबर को विवेचक को तलब किया गया है। अब बचाव पक्ष की ओर से सातवें गवाह के रूप में धर्मप्रकाश शुक्ला से जिरह होगी।

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें