ट्रेंडिंग न्यूज़

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

हिंदी न्यूज़ उत्तर प्रदेशचीफ जस्टिस यूयू ललित के बेटे श्रीयश को सुप्रीम कोर्ट में यूपी सरकार का वकील बनाने का आदेश स्थगित

चीफ जस्टिस यूयू ललित के बेटे श्रीयश को सुप्रीम कोर्ट में यूपी सरकार का वकील बनाने का आदेश स्थगित

यूपी सरकार ने राज्य की ओर से मुकदमों में पैरवी के लिए चार अधिवक्ताओं के राज्य विधि अधिकारी के रूप में आबद्धीकरण से संबंधित शासनादेशों का क्रियान्वयन अगले आदेशों तक के लिए स्थगित कर दिया है।

चीफ जस्टिस यूयू ललित के बेटे श्रीयश को सुप्रीम कोर्ट में यूपी सरकार का वकील बनाने का आदेश स्थगित
Dinesh Rathourप्रमुख संवाददाता,लखनऊMon, 26 Sep 2022 11:03 PM

इस खबर को सुनें

0:00
/
ऐप पर पढ़ें

यूपी सरकार ने सुप्रीम कोर्ट में राज्य की ओर से मुकदमों में पैरवी व बहस के लिए चार अधिवक्ताओं के राज्य विधि अधिकारी के रूप में आबद्धीकरण से संबंधित शासनादेशों का क्रियान्वयन अगले आदेशों तक के लिए स्थगित कर दिया है। इसमें सुप्रीम कोर्ट के अधिवक्ता श्रीयश यू ललित भी शामिल हैं।

सभी शासनादेश गत 21 सितंबर को जारी किए गए थे। सोमवार को शासनादेशों का क्रियान्वयन स्थगित किए जाने का आदेश जारी किया गया। यीश्रश यू ललित को वरिष्ठ पैनल अधिवक्ता के रूम में आबद्ध किया गया था। इसी तरह यशार्थ कांत को कनिष्ठ पैनल अधिवक्ता के रूप में आबद्ध किए जाने का शासनादेश जारी किया गया था। साथ ही प्रीति गोयल को विशेष पैनल अधिवक्ता और नमित सक्सेना को एडवोकेट आन रिकार्ड के रूप में आबद्ध किया गया था।

बतादें कि योगी सरकार ने भारत के चीफ जस्टिस यूयू ललित के बेटे श्रीयश यू ललित को सुप्रीम कोर्ट में राज्य सरकार का पक्ष रखने के लिए वरिष्ठ अधिवक्ताओं के पैनल में नियुक्त किया था। इस बाबत यूपी प्रशासन की तरफ से नोटिफिकेशन जारी कर दिया गया था। हाल ही में एनवी रमण की रिटायरमेंट के बाद जस्टिस यूयू ललित ने सुप्रीम कोर्ट के 49वें चीफ जस्टिस का पद संभाला है। महाराष्ट्र के सोलापुर में जनमे जस्टिस यूयू ललित की चार पीढ़ियां वकालत से जुड़ी हुई है।

जस्टिस यूयू ललित के दादा रंगनाथ ललित सोलापुर में आजादी से पहले वकालत किया करते थे। जस्टिस यूयू ललित के पिता उमेश रंगनाथ ललित भी वकील रह चुके हैं जो बाद में हाईकोर्ट के जज भी बने। जस्टिस यूयू ललित को बार से सीधा सुप्रीम कोर्ट जस्टिस के तौर पर नियुक्त किया गयाद। वहीं उनके बेटे श्रीयश यू ललित भी वकील हैं जिन्हें यूपी सरकार ने राज्य सरकार का पक्ष रखने के लिए वरिष्ठ अधिवक्ताओं के पैनल में नियुक्त किया था। 

आठ नवंबर को रिटायर हो रहें सीजेआई यूयू ललित

जस्टिस उदय उमेश ललित का बतौर सीजेआई कार्यकाल 100 दिनों से कम का होगा। जस्टिस यूयू ललित 8 नवंबर को बतौर सीजेआई 74 दिनों का कार्यकाल पूरा कर रिटायर होंगे। गौरतलब है कि सुप्रीम कोर्ट जस्टिस 65 साल और हाईकोर्ट में जस्टिस 62 साल में रिटायर होते हैं।

epaper