DA Image
29 अक्तूबर, 2020|12:51|IST

अगली स्टोरी

सरकारी मेडिकल कालेजों में सामान्य ऑपरेशन व टेलीमेडिसिन से चलेगी ओपीडी

medical college project passed from efc in pilibhit

तीन मई लॉकडाउन खुले या न खुले, लेकिन सरकार मेडिकल कालेजों के अस्पतालों में सामान्य तरीके के ऑपरेशन जरूर शुरू कर देगी। इसके साथ टेलीमेडिसिन के जरिए ओपीडी भी शुरू किया जाएगा। इस सिलसिले में शासन के निर्देश पर चिकित्सा शिक्षा निदेशालय ने अपना प्रस्ताव भी बनाकर सरकार के पास भेज दिया है।

हजार से ढाई हजार तक ओपीडी में आते हैं मरीज
दो सरकारी विश्वविद्यालय, एसजीपीजीआई, डा.राममनोहर लोहिया,ग्रेटर नोएडा व नोएडा के चिकित्सा संस्थान समेत 18 सरकारी मेडिकल कालेजों के अस्पतालों में मरीज अपने इलाज के लिए ओपीडी में आते हैं। इनमें से विश्वविद्यालय, चिकित्सा संस्थान और छह पुराने मेडिकल कालेज झांसी, कानपुर, प्रयागराज, मेरठ, आगरा और गोरखपुर में प्रतिदिन ढाई हजार और नए 12 मेडिकल कालेज में एक हजार मरीज प्रतिदिन ओपीडी में आते हैं। 

प्रधानाचार्य बनाएंगे कॉल सेंटर 
इन सभी मेडिकल कालेजों में टेलीमेडिसिन के सहारे डॉक्टर मरीजों को चिकित्सीय सलाह देंगे। सभी मेडिकल कालेजों के प्रधानाचार्यों को आदेश दिए गए हैं कि वे अपने मेडिकल कालेज में एक हफ्ते के अंदर फोन, आडियो व वीडियो कांफ्रेसिंग के जरिए टेलीमेडिसिन की व्यवस्था करें। प्रधानाचार्यों से कहा गया है कि अपने अस्पताल में एक कॉल सेंटर बनाएं, ताकि मरीज का फोन आने पर संबधित डॉक्टर से उसको चिकित्सीय सलाह दिलाई जा सके। 

रुके हुए ऑपरेशन अब होंगे
अभी तक मेडिकल कालेजों में इमरजेंसी ही संचालित हो रही है। अब डॉक्टर उन ऑपरेशनों को भी करेंगे, जिनको कोरोना वायरस के मरीजों को इलाज की सुविधा देने के लिए स्थगित कर दिया गया है। मरीजों से ऑपरेशन बाद में कराने के लिए कहा गया था। अब ऐसे इलेक्टिव ऑपरेशन भी मेडिकल कालेज में संभव हो सकेंगे। मेडिकल कालेजों के प्रधानाचार्यों को ऑपरेशन थिएटर को तैयार करने के निर्देश दिए गए हैं। सर्जरी करने वाले डॉक्टरों को नियमित रूप से ड्यूटी पर बुलाने के भी निर्देश दिए गए हैं। 

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:OPD will run with telemedicine and normal operation in government medical colleges from 3 may