DA Image
19 दिसंबर, 2020|8:17|IST

अगली स्टोरी

पीलीभीत टाइगर रिजर्व के हटों की ऑनलाइन बुकिंग 14 से

hut in pilibhit tiger reserve

पीलीभीत टाइगर रिजर्व के चूका में बनी हटों का आनंद लेने के लिए पर्यटक 14 अक्तूबर से बुकिंग कर सकते हैं। वन निगम ने इसका दावा करते हुए व्यवस्थाएं पूरी होने की बात कही है। बताया कि ऑफलाइन बुकिंग की भी सेवा शुरू की जाएगी। वन निगम के अधिकारियों ने भी चूका का निरीक्षण कर इसका जायजा लिया था।

15 नवंबर से सैलानियों के लिए चूका खोल दिया जाएगा। हर साल चूका पर बनी हटों को लोग ऑनलाइन बुक करा देते थे, लेकिन इस बार यह सेवा अब तक शुरू नहीं हो सकी। ऑनलाइन बुकिंग के लिए साइट के बंद होने से लोगों में मायूसी साफ देखी जा रही है। इसके पीछे इस बार चूका में पर्यटन विभाग के स्तर से काम कराने के निर्देश होने के बाद वन निगम ने हटों पर काम शुरू नहीं किया था। इधर, पयर्टन विभाग की ओर से भी काम नहीं हो पा रहा था। दो विभागों के बीच हटों की मरम्मत का मामला फंस जाने से साइट को बंद कर दिया गया। अब जब पयर्टन विभाग की ओर से कुछ नहीं हुआ तो वन निगम ने आनन फानन में हटों को ठीक करने के बाद 14 से ऑनलाइन बुकिंग के लिए साइट को खोल देने का दावा किया है।

वन निगम का दावा है कि चूका पर बनी हटों को ठीक करा दिया गया। अभी ट्री हट को ठीक नहीं किया जा सका है वह काफी क्षतिग्रस्त थी। हटों पर हुए कार्यों का वन निगम के अधिकारियों ने निरीक्षण करने के बाद शेष बचे कार्य को पूरा करने के आदेश दिए थे। सब दुरुस्त होने के बाद हटों के  लिए बुकिंग की साइट को 14 से खोलने का दावा किया गया है।

सज संवर रहा है चूका का वन प्रवेश द्वार
चूका के लिए महोफ में प्रवेश द्वार बनाया गया है। यहां से सैलानी सफारी से चूका जंगल होते हुए घूमते हैं और इस बीच कई वन्यजीवों के दीदार भी होते हैं। सैलानियों को आकर्षित करने के लिए अंतिम दौर में महोफ को सजाया जा रहा है। यहां गेट पर रंगाई पुताई के बाद पेंटिंग का कार्य अंतिम चरण में है तो साफ सफाई भी शुरू कर दी गई है।

मुस्तफाबाद में सैलानियों के लिए तैयार खड़ी गाड़ियां
चूका भ्रमण पर आने वाले सैलानियों के निजी वाहनों की पार्किंग के लिए मुस्तफाबाद में व्यवस्था की गई है। यही से उनको गाड़ियां मिलती है। इसके अलावा गाइडों को भी लिया जाता है। मात्र दो दिन शेष होने के कारण चालकों ने अपने अपने वाहनों को साफ सुथरा कर लाइन से खड़ा कर दिया और अब सत्र के शुभारंभ का इंतजार कर रहे हैं।

महोफ प्रवेश द्वार से मिले सैलानियों को प्रवेश
पीलीभीत टाइगर रिजर्व में टूरिज्म सत्र शुरू होने से पहले समितियों का विवाद बढ़ता नजर आ रहा है पिछले दिनों मुस्तफाबाद में संचालित समिति को लेकर काफी विवादित चर्चा बनी थी। ग्रामीणों ने डीडी से पीलीभीत टाइगर रिजर्व के महोफ गेट नंबर एक को पूर्ण रूप से संचालित करने की मांग की। ग्रामीणों का कहना है कि मुस्तफाबाद में आपसी मिलीभगत के चलते मुस्तफाबाद गेस्ट हाउस से शुरू कर दिया गया, जबकि महोफ गांव के लोगों को रोजगार नहीं मिल पाया।

दागी गाइड इस बार नहीं कर पाएंगे काम
पिछले पयर्टन सत्र में सैलानियों के साथ ठीक प्रकार से पेश न आने और काम में लापरवाही करने की गाइडों की शिकायतें मिली थीं। यही नहीं एक गाइड ने चूका में ही वन्यजीव को मानवों का भोजन कराया था। फोटो वायरल होने के बाद कार्रवाई हुई थी। इस बार ऐसे किसी गाइड को मौका नहीं दिया जाएगा। पिछले साल तीन गाइडों का काम संतोषजनक नहीं था। पीटीआर के डिप्टी डायरेक्टर नवीन खंडेलवाल ने बताया कि तीनों को इस बार मौका नहीं दिया जाएगा। यदि कोई गाइड और चालक बिना वर्दी के पाया जाता है या फिर वन्यजीवों को दिखाने की बात कहता है तो सेवा समाप्त की जाएगी।

पयर्टन विभाग की ओर से एक संस्था को हटों पर काम करने लिए ठेका दिया गया था। संस्था की ओर से कोई कार्य नहीं कराया गया और सत्र शुरू होने का समय आ गया। इस दशा में साइट भी नहीं खुल सकी थी। वन निगम की ओर से ही हटों को ठीक कराया गया है। मैंने खुद चूका जाकर जायजा भी लिया था। 14 नवंबर से बुकिंग के लिए साइट को खोल दी जाएगी। -अतुल अस्थाना, प्रभागीय प्रबंधक, ईको पयर्टन लखनऊ

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Online booking of Pilibhit Tiger Reserve huts started from 14 November