ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News उत्तर प्रदेशअब बीजेपी के असंतुष्‍टों पर नज़र, यूपी में पांव जमाने का कांग्रेसी प्‍लान; ये मुद्दा भी बनेगा हथियार 

अब बीजेपी के असंतुष्‍टों पर नज़र, यूपी में पांव जमाने का कांग्रेसी प्‍लान; ये मुद्दा भी बनेगा हथियार 

कांग्रेस की नजर अब BJP के असंतुष्टों पर भी है। BJP का अंतर्कलह उजागर करने की रणनीति के तहत पार्टी उसके हर घटनाक्रम को तूल देने में भी लग गई है। कांग्रेस UP में पांव जमाने की पूरी कोशिश में है।

अब बीजेपी के असंतुष्‍टों पर नज़र, यूपी में पांव जमाने का कांग्रेसी प्‍लान; ये मुद्दा भी बनेगा हथियार 
Ajay Singhप्रमुख संवाददाता ,लखनऊSun, 19 Nov 2023 06:10 AM
ऐप पर पढ़ें

BJP vs Congress: यूपी में पांव जमाने की जद्दोजहद में लगी कांग्रेस की नजर अब भाजपा के असंतुष्टों पर भी है। भाजपा का अंतर्कलह उजागर करने की रणनीति के तहत पार्टी उसके हर घटनाक्रम को तूल देने में भी लग गई है। सपा और बसपा के नाराज नेताओं को पार्टी में लाने का सिलसिला पहले से चल रहा है। 

पिछले दो लोकसभा चुनावों में लगातार खराब प्रदर्शन के चलते यूपी में पार्टी कार्यकर्ताओं का आत्मविश्वास डगमगा गया है। पार्टी के मौजूदा प्रदेश नेतृत्व के लिए यह आत्मविश्वास वापस लाना एक चुनौती है। इंडिया गठबंधन में शामिल सपा के साथ तल्ख होते रिश्तों के बीच यह चुनौती और गहराने लगी है। प्रदेश की सभी 80 लोकसभा सीटों पर अकेले चुनाव लड़ने की स्थिति में पार्टी को मजबूत उम्मीदवारों की जरूरत भी होगी।

ऐसे में सपा और बसपा के कद्दावर नेताओं को पार्टी में शामिल कराने के बाद अब भाजपा के दिग्गज नेताओं पर भी नजर है। कांग्रेस की नजर भाजपा के उन नेताओं पर है, जो पिछड़ा वर्ग से आते हैं और पार्टी में खुद को उपेक्षित महसूस कर रहे हैं। जातीय जनगणना के बहाने भाजपा को घेरने की अपनी योजना के तहत कांग्रेस सभी दिलों के पिछड़ा वर्ग के नेताओं को लुभाने में लगी है। 

कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष अजय राय ने हाल ही में भाजपा में भारी अंतर्कलह होने का दावा किया। किसी का नाम लिए बगैर उन्होंने भाजपा के एक प्रभावशाली नेता की सरकार से नाराजगी को रेखांकित किया। पार्टी पदाधिकारियों के साथ एक बैठक में उन्होंने कहा कि भाजपा में आपसी कलह चरम पर है। सरकार में चल रही गुटबाजी से प्रदेश की व्यवस्था बदहाल हो गई है। दरअसल अपने इस बयान से वह पार्टी कार्यकर्ताओं में उत्साह भरने की कोशिश भी कर रहे थे। पार्टी की योजना है कि किसी भी तरह भाजपा को कमजोर दिखाया जा सके।