ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News उत्तर प्रदेशपवन सिंह के बाद अब यूपी से भाजपा प्रत्याशी ने टिकट लौटाया, कहा- निर्दोष साबित होने के बाद ही लड़ूंगा कोई चुनाव

पवन सिंह के बाद अब यूपी से भाजपा प्रत्याशी ने टिकट लौटाया, कहा- निर्दोष साबित होने के बाद ही लड़ूंगा कोई चुनाव

यूपी की बाराबंकी सीट से लोकसभा प्रत्याशी घोषित उपेंद्र रावत ने चुनाव लड़ने से इनकार कर दिया है। उपेंद्र रावत इस समय बाराबंकी सीट से सांसद भी हैं। उन्होंने जेपी नड्डा को इस बारे में पत्र लिखा है।

पवन सिंह के बाद अब यूपी से भाजपा प्रत्याशी ने टिकट लौटाया, कहा- निर्दोष साबित होने के बाद ही लड़ूंगा कोई चुनाव
Yogesh Yadavलाइव हिन्दुस्तान,बाराबंकीMon, 04 Mar 2024 05:29 PM
ऐप पर पढ़ें

यूपी की बाराबंकी सीट से लोकसभा प्रत्याशी घोषित उपेंद्र रावत ने चुनाव लड़ने से इनकार कर दिया है। उपेंद्र रावत इस समय बाराबंकी सीट से सांसद भी हैं। दो दिन पहले ही आई भाजपा की पहली सूची में उपेंद्र रावत का भी नाम था। उन्हें बाराबंकी से ही दोबारा भाजपा ने टिकट मिला था। सोमवार को उपेंद्र रावत ने चुनाव नहीं लड़ने का ऐलान अपने सोशल मीडिया प्लेटफार्म पर करते हुए लिखा कि जब तक निर्दोष साबित न हो जाऊं तब तक कोई चुनाव नहीं लड़ूंगा।

उपेंद्र रावत ने लिखा कि मेरा एक एडिटेड वीडियो वायरल किया जा रहा है, जो डीपफेक AI तकनीक के जरिए बनाया गया है और मैंने इसकी FIR मैंने दर्ज करा दी है। उन्होंने कहा,  "मैंने पार्टी अध्यक्ष जे पी नड्डा  से भी निवेदन किया है कि इसकी जांच करवाई जाए। जबतक मैं निर्दोष साबित नहीं होता सार्वजनिक जीवन में कोई चुनाव नहीं लड़ूंगा। इससे पहले भाजपा प्रत्याशी और भोजपुरी स्टार पवन सिंह भी टिकट मिलने के बाद चुनाव लड़ने से इनकार कर चुके हैं। पवन को भाजपा ने  पश्चिम बंगाल के आसनसोल से टिकट दिया था।

बगावती मूड में ओपी राजभर, भाजपा प्रत्याशी का खुलकर विरोध, बीजेपी में खलबली

क्या है अश्लील वीडियो का मामला
भाजपा सांसद उपेंद्र सिंह रावत को दोबारा टिकट मिलने के 24 घंटे के अंदर ही कई अश्लील वीडियो तेजी से वायरल होने लगे। इसमें विदेशी महिलाओं के साथ दिखाई दे रहे व्यक्ति को उपेंद्र रावत बताया जा रहा है। हालांकि सांसद का कहना है कि यह डीप फेक वीडियो एआई से बनाया गया है। उनकी छवि खराब करने के लिए इसे एडिट करके बनाया गया है।

इसे लेकर सांसद के निजी सचिव ने कोतवाली में मुकदमा दर्ज कराया है। इसमें कहा गया है कि वायरल किया गया वीडियो एडिट करके बनाया गया है। किसी ने सांसद की छवि को धूमिल करने के लिए यह शर्मनाक कार्य किया है। कोतवाली नगर में पुलिस ने केस दर्ज कर लिया है। 

शनिवार को भाजपा ने बाराबंकी के सांसद उपेन्द्र सिंह रावत को दोबारा चुनाव लड़ने पर मुहर लगाते हुए टिकट दिया था। अगले दिन रविवार की सुबह से सोशल मीडिया पर सांसद उपेन्द्र रावत के चार वीडियो वायरल किए गए। आपत्तिजनक वीडियो को लेकर तरह-तरह की चर्चाएं होने लगी। 

वायरल हो रहे वीडियो अलग-अलग तारीखों में होटल के कमरे में महिलाओं के साथ अश्लील हरकत करते हुए बनाए गए हैं। मीडिया रिपोर्ट के अनुसार कुल सात वीडियो क्लिप वायरल हैं। सभी पांच मिनट एक सेकेंड के हैं। ऐसा प्रतीत हो रहा है कि वीडियो सीसीटीवी कैमरा से बनाए गए हैं। पहले वीडियो के बैक ग्राउंड से डीजे की आवाज भी आ रही है। इससे लगता है कि कोई ऐसा स्थान है, जहां कोई कार्यक्रम चल रहा है।

लोकसभा चुनाव से पहले साजिश
इस बारे में सांसद में कहा कि यह तो सोचने की बात है कि जैसे ही मुझे लोकसभा का टिकट मिला, उसी के बाद कुछ वीडियो को वायरल कर दिया गया। यह तो स्पष्ट तौर पर राजनीतिक साजिश है। यह मेरी और मेरी पार्टी की छवि को धूमिल करने का प्रयास है लेकिन हम विरोधियों की इस चल को सफल नहीं होने देंगे। केस दर्ज होने के बाद पुलिस विवेचना में लगी हुई है। जल्द ही यह पकड़ में आ जाएगा कि किसने ऐसा किया। कहा कि एआई तकनीकी से यह वीडियो बनाए गए हैं।

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें