ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News उत्तर प्रदेशफ्री राशन के लिए अब कार्ड धारकों को करना होगा ये काम, वरना नहीं मिलेगा गेहूं-चावल का लाभ 

फ्री राशन के लिए अब कार्ड धारकों को करना होगा ये काम, वरना नहीं मिलेगा गेहूं-चावल का लाभ 

फ्री राशन का लाभ ले रहे कार्ड धारकों के लिए जरूरी सूचना है। राशन की दुकान पर गेहूं-चावल लेने से पहले आपको एक काम करना होगा। ये काम राशन कार्ड में अंकित सभी सदस्यों के लिए जरूरी है।

फ्री राशन के लिए अब कार्ड धारकों को करना होगा ये काम, वरना नहीं मिलेगा गेहूं-चावल का लाभ 
Dinesh Rathourहिन्दुस्तान,लखीमपुरWed, 29 May 2024 06:06 PM
ऐप पर पढ़ें

फ्री राशन का लाभ ले रहे कार्ड धारकों के लिए जरूरी सूचना है। राशन की दुकान पर गेहूं-चावल लेने से पहले आपको एक काम करना होगा। ये काम राशन कार्ड में अंकित सभी सदस्यों के लिए जरूरी है। इसके बिना आपको फ्री राशन का लाभ नहीं मिल पाएगा। दरअसल राशन कार्ड धारकों को अब ईकेवाईसी कराना होगा। राशन कार्ड में जितनी भी यूनिट शामिल हैं उन सभी का अंगूठा पॉस मशीन में लगाना जरूरी है। राशन कार्ड में शामिल परिवार के सभी सदस्यों का अंगूठा लग जाने पर राशन कार्ड की ई-केवाईसी हो जाएगी। इसकी प्रक्रिया शुरू हो गई है। आने वाले कुछ महीनों में सभी के अंगूठा लगने के बाद ई-केवाईसी पूरी होगी और कार्ड में शामिल जिस भी सदस्य का अंगूठा एक बार भी नहीं लगा होगा उसकी यूनिट ब्लॉक हो सकती है। इसलिए कोटे की दुकान पर जब भी राशन लेने  जाएं तो बारी-बारी से परिवार के सभी सदस्य एक बार अपना अंगूठा जरूर लगाएं।

राशन कार्ड धारकों को कोटे की दुकानों पर पॉस मशीनों पर अंगूठा लगाने के बाद भी राशन मिलता है। अब राशन कार्ड में शामिल सभी सदस्यों का एक बार अंगूठा लगना जरूरी है। इससे राशन कार्ड की ईकेवाईसी हो जाएगी और यह भी सत्यापन हो जाएगा कि राशन कार्ड में जो यूनिट दर्ज हैं वह सभी एक ही परिवार की हैं। बताते हैं कि इस बात की शिकायतें मिली हैं कि राशन कार्ड में परिवार के अलावा अन्य लोगों के नाम शामिल हैं। इसका सत्यापन होने के बाद राशन कार्ड में शामिल सभी सदस्यों का जब एक बार अंगूठा लग जाएगा तो सत्यापन हो जाएगा और जिनका अंगूठा नहीं लगेगा उन यूनिटों का ब्लॉक किया जा सकता है। विभाग के अधिकारी बताते हैं कि जिले में करीब 50 प्रतिशत तक ईकेवाईसी का काम पूरा हो चुका है।

बाकी का चल रहा है। जिला पूर्ति अधिकारी अंजनी कुमार सिंह ने बताया कि राशन कार्ड में दर्ज मुखिया के साथ ही राशन कार्ड में शामिल सभी सदस्य बारी-बारी से कोटे की दुकान पर जाकर अपना अंगूठा लगाकर ईकेवाईसी करा सकते हैं। उन्होंने बताया कि राशन कार्ड में दर्ज पति ने अगर इस महीने कोटे की दुकान पर जाकर अंगूठा लगाया है तो अगले महीने पत्नी का अंगूठ लगवाएं इसके बाद बच्चों का लगवाएं जिससे सभी के अंगूठा लग जाएंगे और ईकेवासी आसानी से हो जाएगा। एक ही बार में एक साथ कोटे की दुकान पर नहीं जाना है।