ट्रेंडिंग न्यूज़

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

हिंदी न्यूज़ उत्तर प्रदेशमेरठ में नोएडा पुलिस पर हमला, पथराव कर गाड़ियों के शीशे तोड़े, भागकर बचाई जान 

मेरठ में नोएडा पुलिस पर हमला, पथराव कर गाड़ियों के शीशे तोड़े, भागकर बचाई जान 

मेरठ जिले के सरधना के खिर्वा गांव में पशु चोरी के मामले में दबिश देने गई गौतमबुद्धनगर पुलिस पर हमला कर दिया गया। युवक को पकड़ने व कैमरे की डीवीआर कब्जे में लेने पर लोग भड़क गए।

मेरठ में नोएडा पुलिस पर हमला, पथराव कर गाड़ियों के शीशे तोड़े, भागकर बचाई जान 
Dinesh Rathourहिन्दुस्तान टीम ,मेरठ सरधनाThu, 29 Sep 2022 09:53 PM

इस खबर को सुनें

0:00
/
ऐप पर पढ़ें

मेरठ जिले के सरधना के खिर्वा गांव में पशु चोरी के मामले में दबिश देने गई गौतमबुद्धनगर पुलिस पर हमला कर दिया गया। युवक को पकड़ने व कैमरे की डीवीआर कब्जे में लेने पर लोग भड़क गए। पुलिस ने लाठी चलाई तो लोगों ने पथराव कर दिया। पुलिस की गाड़ियों के शीशे टूट गए। किसी तरह पुलिस ने गांव से भागकर जान बचाई। स्थानीय पुलिस ने मामले की जानकारी से ही इंकार कर दिया। 

गौतमबुद्धनगर पुलिस कई गाड़ियों में सवार होकर गुरुवार सुबह खिर्वा गांव पहुंची। कुछ लोग सिविल ड्रेस में थे, जबकि कुछ वर्दी में थे। पुलिस ने आते ही एक युवक को हिरासत में ले लिया। एक डेयरी में लगे सीसीटीवी की डीवीआर कब्जे में ले ली। इसे लेकर ग्रामीणों में रोष फैल गया। लोगों ने डीवीआर उतारने का विरोध करते हुए हंगामा कर दिया।

आरोप है कि पुलिस ने बल प्रयोग करते हुए लाठियां बरसा दी। इससे गुस्साए ग्रामीणों ने पुलिस को घेरकर पथराव कर दिया। पुलिसकर्मियों ने गाड़ी में बैठकर जान बचाई और वहां से भागे। इस दौरान पुलिस के वाहनों के शीशे टूट गए। सरधना गंगनहर पुल पर पुलिस ने पकड़े गए युवक को छोड़ दिया। डीवीआर अपने साथ लेकर वहां से चली गई। उधर, पुलिस द्वारा की गई इस तरह की घटना की शिकायत स्थानीय लोगों ने सरधना पुलिस से की। सरधना पुलिस ने किसी भी थाना पुलिस की आमद से इंकार किया है। ग्रामीणों की शिकायत पर जांच कर कार्रवाई का आश्वासन दिया। 

दो दिन पहले भी आई थी पुलिस

ग्रामीणों के अनुसार दो दिन पहले भी गांव में गौतमबुद्धनगर पुलिस आई थी। दो युवकों को पुलिस ने हिरासत में लिया था। ग्रामीणों ने दोनों युवकों को निर्दोष बताया तो पुलिस ने पूछताछ के बाद उन्हें छोड़ दिया और वहां से चली गई थी। गुरुवार को अचानक से कई गाड़ियों में पुलिस गांव में आ धमकी। 

सरधना थाना प्रभारी जितेन्द्र कुमार ने बताया, हमारे थाने में गौतमबुद्धनगर पुलिस की कोई आमद दर्ज नहीं है। पुलिस ने सीधे गांव पहुंचकर दबिश दी। उनके साथ क्या घटना हुई इसकी जानकारी नहीं है। ग्रामीणों ने पुलिस पर मारपीट के आरोप लगाए हैं। जांच की जा रही है। 

epaper