ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News उत्तर प्रदेशइलेक्ट्रिक गाड़ी से अब दिल्‍ली से पूर्वांचल-बिहार तक नो टेंशन, जानें कहां-कहां बन रहे चार्जिंग स्‍टेशन

इलेक्ट्रिक गाड़ी से अब दिल्‍ली से पूर्वांचल-बिहार तक नो टेंशन, जानें कहां-कहां बन रहे चार्जिंग स्‍टेशन

Electric Vehicle Charging Station: इलेक्‍ट्र‍िक वाहनों की डिमांड बढ़ने के साथ इनके लिए चार्जिंग स्‍टेशनों का इंतजाम किया जा रहा है। जगह-जगह EV चार्जिंग स्‍टेशन स्‍थापित करने की योजना पर काम चल रहा है।

इलेक्ट्रिक गाड़ी से अब दिल्‍ली से पूर्वांचल-बिहार तक नो टेंशन, जानें कहां-कहां बन रहे चार्जिंग स्‍टेशन
Ajay Singhमुख्‍य संवाददाता,लखनऊ गोरखपुरWed, 21 Feb 2024 03:16 PM
ऐप पर पढ़ें

Electric Vehicle Charging Station: देश में इलेक्‍ट्र‍िक वाहनों की डिमांड बढ़ रही है। इसी के साथ इन वाहनों के लिए चार्जिंग स्‍टेशनों का इंतजाम भी किया जा रहा है। इस मामले में यूपी सरकार ने बड़ी पहल की है। योगी सरकार का प्‍लान ऐसा है कि जल्‍द ही दिल्‍ली से पूर्वांचल और बिहार तक इलेक्ट्रिक वाहन से टेंशन  फ्री यात्रा की जा सकेगी। यूपी के पांच एक्‍सप्रेस वे दोनों ओर पीपीपी मॉडल पर इलेक्ट्रिक वाहनों के लिए 72 फास्‍ट चार्जिग स्‍टेशन बनाए जाने हैं। पहले चरण में 26 स्‍टेशन विकसित होंगे। इन स्‍टेशनों पर इलेक्ट्रिक बसों की चार्जिंग की भी व्‍यवस्‍था होगी। प्रदूषण कम करने को लेकर सतर्क योगी सरकार इलेक्ट्रिक वाहनों को बढ़ावा देने के लिए किस हद तक गंभीर है इसका अंदाजा इसी से लगाया जा सकता है कि वो हर इलेक्ट्रिक बस में 20 लाख रुपये तक का इन्सेंटिव दे रही है। इलेक्‍ट्र‍िक वाहनों की आसान चार्जिंग के लिए निकट भविष्‍य में प्रदेश में दो हजार से अधिक चार्जिंग स्‍टेशनों की योजना है। सीएम के शहर गोरखपुर में ही नौ चार्जिंग स्‍टेशन बन रहे हैं। 

हाल ही में सरकार ने जिन पांच एक्‍सप्रेस वे पर इलेक्‍ट्रिक वाहन चार्जिंग स्‍टेशन बनाने का निर्णय लिया है। उनमें आगरा-लखनऊ एक्सप्रेसवे वे पर आगरा, मैनपुरी, इटावा, कानपुर नगर, उन्नाव और लखनऊ में चार्जिंग स्‍टेशन बनेंगे। आगरा और लखनऊ में एक्सप्रेसवे के दोनों ओर चार्जिंग स्टेशन बनाने की तैयारी है।  बुंदेलखंड एक्सप्रेसवे के रास्ते में  च‍ित्रकूट, बांदा, हमीरपुर, जालौन, इटावा में चार्जिंग स्‍टेशन बनेंगे। इटावा और जालौन में दोनों ओर चार्जिंग स्टेशन बनेंगे। पूर्वांचल एक्सप्रेसवे पर बाराबंकी में बाईं ओर, अमेठी में दाहि‍नी ओर, सुल्तानुपर में बाईं और दाहिनी ओर, आजमगढ़ में बाईं और दाहिनी ओर,  मऊ में बाईं ओर और गाजीपुर में दाहिनी ओर चार्जिंग स्टेशन बनाए जाने हैं। योजना के मुताबिक गोरखपुर लिंक एक्सप्रेसवे पर गोरखपुर और अम्बेडकर नगर में चार्जिंग स्टेशन बनेंगे। इसी तरह गंगा एक्सप्रेसवे का निर्माण पूरा होने पर वहां भी दूसरे चरण में चार्जिंग स्टेशन बनाए जाएंगे। 

सीएम के शहर में नौ स्‍थानों पर शुरू हुआ चार्जिंग स्‍टेशन बनाने का काम 
वहीं सीएम योगी आदित्‍यनाथ के शहर गोरखपुर में इलेक्ट्रिक वाहनों (ईवी) के चार्जिंग के लिए नौ स्थानों पर इलेक्ट्रिक व्हीकल चार्जिंग स्टेशन बनाए जाने का काम शुरू हो गया है। गोरखपुर विकास प्राधिकरण एवं अडानी समूह की कंपनी मेसर्स अडानी टोटल एनर्जीज ई-मोबिलिटी लिमिटेड (एटीईएल) ने महानगर में चार स्थानों पर फाउंडेशन निर्माण के साथ बिजली विभाग में 60-60 किलोवॉट के चार ट्रांसफार्मर एवं विद्युत कनेक्शन के लिए आवेदन भी कर दिया है। इलेक्ट्रिक व्हीकल चार्जिंग मशीनें भी प्राधिकरण कार्यालय में पहुंच चुकी हैं। इस पूरी परियोजना पर एटीईएल दो करोड़ रुपये का निवेश करेगा।

एटीईएल के निदेशक विवेक आनंद ने प्राधिकरण को नौ स्थानों पर ईवी चार्जिंग स्टेशन बनाने का प्रस्ताव दिया था। जिसके अनुपालन में प्राधिकरण 10 साल (2033 तक) के लिए महानगर में नौ स्थान एटीईएल को सौंप चुका है। एटीईएल के अमित मिश्रा ने बताया कि फिलहाल जीडीए, पैड़लेगंज शुलभ शौचालय, मल्टीलेवल पार्किंग गोलघर और गोरखपुर हाट पार्किंग सिटी माल के सामने फाउंडेशन का काम चल रहा है। बिजली कनेक्शन के लिए आवेदन कर चुके हैं। इस्टीमेट मिलते ही कनेक्शन एवं ट्रांसफार्मर की धनराशि जमा करा देंगे। दो स्थानों, मल्टीपरपज काम्पलेक्स सेल्स टैक्स ऑफिस तारामण्डल और लोहिया इन्क्लेव आवासीय योजना में क्रमश सेल्स टैक्स कार्यालय एवं आरडब्ल्यूए की ओर से दिक्कत आ रही है जिसके समाधान में प्राधिकरण जुटा हुआ है।

हर स्टेशन पर होंगे दो तरह के चार्जिंग प्वाइंट 
ईवी चार्जिंग स्टेशन पर दो तरह के चार्जिंग प्वाइंट बनाए जाएंगे। एक चार्जिंग प्वाइंट 10 किलोवॉट की क्षमता का होगा, जहां एक गन होंगी। यहां ई रिक्शा, थ्री व्हीलर ऑटो एवं दो पहिया वाहन गाड़ियां चार्ज कर सकेंगे। दूसरा चार्जिंग प्वाइंट 60 किलोवॉट का होगा, जहां दो गन होंगी। इनमें 30 किलोवॉट की क्षमता का सीसीएस सेकेंड डीसी फास्ट ड्यूयल चार्जर लगेगा। ताकि लोगों को दिक्कत न होने पाए।

गोरखपुर में यहां स्थापित किए जाएंगे ईवी चार्जिंग स्टेशन
जीडीए कार्यालय परिसर, लोहिया इंक्लेव आवासीय योजना, मल्टीपरपज कॉम्पलेक्स सेल्स टैक्स ऑफिस तारामंडल, पैडलेगंज चौराहा शुलभ शौचालय के निकट, वसुंधरा आवासीय योजना, पत्रकारपुरम राप्ती नगर विस्तार, गोलघर मल्टी लेवल पार्किंग एरिया, गोरखपुर हाट पार्किंग सिटी मॉल, सर्किट हाउस पार्किंग

क्‍या बोले अफसर 
जीडीए के उपाध्‍यक्ष आनंद वर्द्धन ने बताया कि पर्यावरण प्रदूषण की चुनौतियों के बीच इलेक्ट्रिक व्हीकल पर निर्भरता व आकर्षण दोनों बढ़ रहा है। ऐसे वाहनों को लोकप्रिय बनाने को ईवी चार्जिंग स्टेशन की स्थापना को बढ़ावा देना होगा। उम्मीद है कि इसी महीने कम से कम चार ईवी स्टेशन सेवाएं देने लगेंगे। बाकी मार्च तक लग जाएंगे।

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें