ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News उत्तर प्रदेश400 करोड़ की ठगी में निहारिका वेंचर्स के MD की सास गिरफ्तार, पूछताछ में उगले कई राज 

400 करोड़ की ठगी में निहारिका वेंचर्स के MD की सास गिरफ्तार, पूछताछ में उगले कई राज 

Arrest in Fraud Case: चार सौ करोड़ रुपये की ठगी के मामले में प्रयागराज की शिवकुटी पुलिस ने एक और आरोपी निरुपमा मिश्रा को गिरफ्तार किया है। उसे प्रयाग स्टेशन के पास रविवार को पुलिस ने पकड़ा।

400 करोड़ की ठगी में निहारिका वेंचर्स के MD की सास गिरफ्तार, पूछताछ में उगले कई राज 
Ajay Singhहिन्‍दुस्‍तान,प्रयागराजMon, 24 Jun 2024 01:54 PM
ऐप पर पढ़ें

Case of fraud of Rs 400 crore: चार सौ करोड़ रुपये की ठगी के मामले में प्रयागराज की शिवकुटी पुलिस ने एक और आरोपी निरुपमा मिश्रा को गिरफ्तार किया है। उसे प्रयाग स्टेशन के पास रविवार को पुलिस ने पकड़ा। वह मुख्य आरोपी निहारिका वेंचर्स कंपनी के एमडी अभिषेक द्विवेदी की सास है। पूछताछ में उसने कई राज उगले हैं। साथ ही फरार आरोपियों के बारे में भी पुलिस को कई सुराग मिले हैं। जिसके आधार पर पुलिस जांच में जुटी है।

गौरतलब है कि निहारिका वेंचर्स कंपनी के एमडी अभिषेक द्विवेदी ने सैकड़ों लोगों को अपने जाल में फंसाया है। मोटा मुनाफा देने का झांसा देकर उसने तमाम लोगों से लोगों से 20 से 50 लाख रुपये तक निवेश कराए। उसने पहले हर महीने  रिटर्न देकर निवेशकों का भरोसा जीता लेकिन पिछले छह महीने से भुगतान नहीं कर रहा था। तब जाकर उसकी पोल खुली। एफआईआर दर्ज होने के बाद से वह फरार है। चार सौ करोड़ रुपये की ठगी के मामले में एमडी अभिषेक के साथ उसकी पत्नी निहारिका और पिता ओपी द्विवेदी भी नामजद है। शिवकुटी पुलिस अभिषेक के पिता ओपी द्विवेदी को गिरफ्तार कर पहले ही जेल भेज चुकी है। 

शुक्रवार को इस मामले में एक और एफआईआर शिवकुटी थाने में दर्ज हुई। इसमें अभिषेक द्विवेदी, उसके पिता डॉ.ओपी द्विवेदी, पत्नी निहारिका द्विवेदी और सास निरुपमा मिश्रा को आरोपी बनाया गया है। शिवकुटी पुलिस ने कमल देव और कुसुम पांडेय की तहरीर पर आरोपियों के खिलाफ धोखाधड़ी, जान से मारने की धमकी, रकम हड़पने और रंगदारी मांगने का केस दर्ज किया है। इसी मामले में रविवार को प्रयाग स्टेशन के पास से निरुपमा मिश्रा को पकड़ लिया। कोर्ट में पेश करने के बाद उसे जेल भेज दिया गया है।

राजनीतिक दल से जुड़ी रही सीडब्ल्यूसी की रह चुकी है सदस्य
पूछताछ में पता चला कि पकड़ी गई निरुपमा मिश्रा पहले बाल कल्याण समिति की सदस्य रह चुकी है। पूर्व वह अपने जिले फैजाबाद में एक राजनीतिक दल से सक्रिय रूप से जुड़ी रही। बताया जाता है कि उसकी अभिषेक के पिता से पहले जान पहचान थी। इसके बाद उसने अपनी बेटी का विवाह ओपी द्विवेदी के बेटे अभिषेक से कर दिया।

बेटी निहारिका को लेकर छह जून की शाम हुई थी फरार
छह जून को जब निवेशकों ने कंपनी एमडी अभिषेक के घर हंगामा किया तो निरुपमा भी बेटी के घर पर थी। ओपी द्विवेदी को पुलिस पकड़कर थाने ले गई तो वह बेटी को लेकर फरार हो गई। यहां से भागकर दोनों फैजाबाद पहुंचीं। इसके बाद निहारिका कहां गई, इस बारे में वह पुलिस को गोलमोल जवाब देती रही है। बताया कि इसके बाद निहारिका से उसका संपर्क नहीं हुआ।

कहां हैं अभिषेक-निहारिका, कुछ नहीं पता
गिरफ्तार निरुपमा ने बताया कि अभिषेक और निहारिका कहां हैं। इस बारे में कुछ नहीं पता। उसने बताया कि अभिषेक तो पहले से ही गायब था। निहारिका उसके साथ फैजाबाद तक गई थी। इसके बाद वह भी लापता है। कहां गई कुछ नहीं बता रही है। 

Advertisement