DA Image
23 अक्तूबर, 2020|2:18|IST

अगली स्टोरी

इंडो-नेपाल बॉर्डर पर नेपाली नागरिक दफना रहे थे शव, सुरक्षाकर्मियों ने खदेड़ा

dead body burying

उत्तर प्रदेश के पलियाकलां-खीरी में गौरीफंटा पुलिस चौकी के पीछे जंगल के पास बह रही मोहाना नदी के पार भारतीय सीमा में नेपाली एक व्यक्ति के शव के दाह संस्कार को पहुंचे। सूचना मिलते ही गौरीफंटा पुलिस वनकर्मियों के साथ मौके पर पहुंच गई। पूरा प्रकरण उच्चाधिकारियों को बताया दिया।

एसएसबी व अन्य सुरक्षाकर्मियों की मदद से मृतक के शव को दफनाने पहुंचे नेपालियों को खदेड़ा गया। कुछ दिन पूर्व ही कोविड-19 से संक्रमित एक युवक की मौत के बाद नेपालियों ने शव को गुपचुप तरीके से भारतीय सीमा में दफना दिया था।
पड़ोसी मित्र राष्ट्र नेपाल में भी लोग कोरोना संक्रमण के शिकार हो रहे हैं। कुछ समय पूर्व कोविड-19 से संक्रमित एक नेपाली व्यक्ति की मौत के बाद गुपचुप तरीके से उसके शव को मोहाना नदी के पार भारतीय सीमा में दफना दिया गया था।

सूचना मिलने पर भारतीय सुरक्षा एजेंसियों में हड़कंप मच गया था जिसके बाद उच्चाधिकारियों ने बॉर्डर पर पहुंचकर नेपाली अधिकारियों के साथ वार्ता की थी। एक बार फिर संदिग्ध परिस्थितियों में युवक की मौत के बाद उसके शव को नेपालियों ने मोहाना नदी के पार भारतीय सीमा में उसके शव को दफनाने की कोशिश की। सूचना गौरीफंटा कोतवाली पुलिस को लग गई। 

गौरीफंटा कोतवाल रमेश चंद्र यादव पुलिस व वन कर्मियों के साथ मौके पर जा पहुंचे। मामले की सूचना उच्चाधिकारियों को दी गई। एसएसबी जवान भी मौके पर पहुंच गए और नेपाली अधिकारियों से वार्ता के बाद शव को नेपाल सीमा में दफनाए जाने तक वहीं मौजूद रहे। कोतवाल रमेश चंद यादव ने बताया कि उन्हें मोहाना नदी के पार भारतीय सीमा में भीड़ के आने की सूचना मिली। पुलिस व वन कर्मी, एसएसबी जवान भी मौके पर पहुंच गए। शव को दफनाने आई भीड़ को नेपाल अधिकारियों से वार्ता कर उनकी सीमा में दफनाए जाने को कहा गया। बाद में नेपाल सीमा में शव दफनाया गया।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Nepali citizens were burying a dead body near Indo-Nepal border Security personnel shoo them