DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

ये 'ग्राउंड ब्रेकिंग सेरेमनी' नहीं 'रिकॉर्ड ब्रेकिंग सेरेमनी' है: पीएम मोदी

नरेंद्र मोदी, प्रधानमंत्री

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने रविवार को लखनऊ स्थित इंदिरा गांधी प्रतिष्ठान में हुए ग्राउंड ब्रेकिंग सेरेमनी में 60 हजार करोड़ रुपये से ज्यादा के उद्योगों की नींव रखीं। इन परियोजनाओं से तकरीबन दो लाख युवाओं को रोजगार देने के अवसर पैदा होंगे। इस दौरान पीएम मोदी ने कहा, ये 'ग्राउंड ब्रेकिंग सेरेमनी' नहीं 'रिकॉर्ड ब्रेकिंग सेरेमनी' है। एक समय था जब यूपी में निवेश को लोग चुनौती मानते थे लेकिन अब इसे अवसर मानते है। आज का आयोजन यूपी के प्रति बढ़ते विश्वास का प्रतीक है। यहां पहले की सरकार की उद्योगपतियों के साथ एक फोटो नहीं होगी क्योंकि सब कुछ पर्दे के पीछे होता था, घर पर जाकर उद्योगपति साष्टांग प्रणाम करते थे। यहां अमर सिंह बैठे है उनको पूरी जानकारी है इसकी, जब नीयत साफ हो तो किसी के साथ खड़े होने में कोई परेशानी नही होनी चाहिए।

‪पीएम मोदी आगे कहा कि भगवान शिव का मास सावन शुरू हो चुका है। अब से लेकर दीवाली तक त्यौहार का माहौल होता है। आप सभी को अभी से इन त्योहारों को बधाई देता हूं, एक संवेदनशील सरकार होने के नाते आमजन को संकट से निकालना और उसके जीवन को सुगम बनाना हमारा ध्येय है। आज मुझे खुशी है कि हम सब यूपी के कोने-कोने को बदलने के लिए यहां इकठ्ठा हुए है। 60 हजार करोड़ की निवेश परियोजनाओं की शुरुआत करना एक बड़ा कदम है। यूपी के लिए महज 5 महीने में इसे मूर्तरूप देने के लिए सीएम योगी और उनकी टीम बधाई का पात्र है क्योंकि ऐसा करने के लिए बहुत संकट और बाधाएं सामने आती है। आप इसे पार करके यहां तक पहुंचे है ये बड़ी बात है क्योंकि सरकारी तंत्र में कदम-कदम पर परेशानियां आती है। किसान से जमीन लेने के लिए कई बार पटवारी भी आड़े आ जाता है क्योंकि इस देश को या तो प्रधानमंत्री चला पाता है या पटवारी चला पाता है।

लखनऊ में PM मोदी बोले, देश प्रधानमंत्री चला पाता है या पटवारी

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:narendra modi said it is not a Ground Breaking Ceremony its a Record Breaking Ceremony