ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News उत्तर प्रदेशआधी रात महिला अफसर के कमरे में घुसा नायब तहसीलदार, रेप का प्रयास, विरोध करने पर हुईं घायल

आधी रात महिला अफसर के कमरे में घुसा नायब तहसीलदार, रेप का प्रयास, विरोध करने पर हुईं घायल

यूपी के बस्ती जिले में सनसनीखेज वारदात हुई है। राजस्व अधिकारी के पद पर तैनान महिला से नायब तहसीलदार ने रेप की कोशिश की है। आधी रात नायब तहसीलदार महिला अफसर के कमरे में घुस गए। विरोध में अफसर घायल हैं।

आधी रात महिला अफसर के कमरे में घुसा नायब तहसीलदार, रेप का प्रयास, विरोध करने पर हुईं घायल
Yogesh Yadavहिन्दुस्तान,बस्तीFri, 17 Nov 2023 08:46 PM
ऐप पर पढ़ें

यूपी के बस्ती जिले में सनसनीखेज वारदात सामने आई है। यहां तैनात एक महिला राजस्व अधिकारी से सदर के नायब तहसीलदार ने रेप की कोशिश की है। आधी रात नायब तहसीलदार महिला अफसर के सरकारी आवास में घुस गए थे। इस दौरान महिला अफसर के विरोध करने पर उनसे हाथापाई भी की। उन पर जानलेवा हमला किया। शुक्रवार को महिला अफसर ने अधिकारियों को इसकी शिकायत की। इसके बाद महिला पुलिस अधिकारी के समक्ष 161 का बयान दर्ज किया गया।

महिला अफसर की तरफ से दी गई तहरीर के मुताबिक नायब तहसीलदार घनश्याम शुक्ल छोटी दीपावली की रात एक बजे उनके सरकारी आवास का पिछला दरवाजा तोड़कर अंदर घुस आया। उनसे जबरदस्ती करने की कोशिश की। महिला अफसर ने विरोध किया तो उनके साथ मारपीट और गालीगलौज की। विरोध पर उसने पीड़िता का गला दबाकर मारने का भी प्रयास किया। महिला अफसर ने किसी तरह खुद को बचाया और घर के अंदर छिप गई।

नायब तहसीलदार घनश्याम रात ढाई बजे तक महिला अफसर के आवास के आसपास मंडराता रहा। घटना के बाद खौफजदा अधिकारी तीन दिनों तक आवास से बाहर नहीं निकलीं। चौथे दिन परिवार के लोगों को घटना की जानकारी देने के साथ गुरुवार को पुलिस को तहरीर दी गई। शुक्रवार को उनकी तहरीर पर कोतवाली पुलिस ने मुकदमा दर्ज किया। महिला अधिकारी गोरखपुर की जबकि आरोपी नायब तहसीलदार महराजगंज जिले का रहने वाला है।

पुलिस अधीक्षक गोपाल कृष्ण चौधरी के अनुसार इस मामले में गंभीर धाराओं में केस दर्ज कर लिया गया है। साक्ष्य संकलन की कार्रवाई त्वरित रूप से की जा रही है। पुलिस अधिकारी हर पहलू की बारीकी से जांच कर रहे हैं। 

रात में मेडिकोलीगल, हाथों में चोट के निशान
शिकायत मिलने के बाद गुरुवार रात में ही पुलिस ने जिला अस्पताल में पीड़ित महिला राजस्व अधिकारी का मेडिकोलीगल कराया। मेडिकल रिपोर्ट में पीड़िता के दोनों हाथों में चोट के निशान की पुष्टि हुई है।

खाली रही नायब तहसीलदार की कुर्सी
मुकदमा दर्ज होने के बाद आरोपी नायब तहसीलदार फरार हो गया। उसका कार्यालय तो खुला था और मेज पर फाइलें लगी हुई थीं। लेकिन कुर्सी खाली थी। 

तीन महिला अधिकारियों की जांच कमेटी गठित
डीएम अंद्रा वामसी ने विशाखा कमीशन की संस्तुतियों के अनुसार तीन महिला अधिकारियों की जांच कमेटी गठित कर दी है। कमेटी में दो ईओ और एक डीपीओ शामिल हैं। इनकी रिपोर्ट के आधार पर प्रशासनिक कार्रवाई की संस्तुति दी जाएगी। पीड़िता ने डीएम को प्रार्थना-पत्र देकर अपने साथ हुई घटना की जानकारी दी थी। बताते हैं कि गठित कमेटी ने गुरुवार की शाम को पीड़िता महिला अधिकारी से मुलाकात की और उनका पक्ष जानने का प्रयास किया।

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें