ट्रेंडिंग न्यूज़

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

हिंदी न्यूज़ उत्तर प्रदेशमुस्लिम युवती को मिली हिंदू लड़के से शादी करने की सजा, परिजनों ने पहले की पिटाई फिर सिर मुंडवाकर घुमाया

मुस्लिम युवती को मिली हिंदू लड़के से शादी करने की सजा, परिजनों ने पहले की पिटाई फिर सिर मुंडवाकर घुमाया

उत्तर प्रदेश के बाराबंकी जिले के फतेहपुर कोतवाली क्षेत्र के एक गांव में बालिग अनाथ युवती ने गैर धर्म के अनाथ युवक से विवाह कर लिया। इस शादी से युवती के चाचा व अन्य परिजन इस कदर नाराज हुए कि...

मुस्लिम युवती को मिली हिंदू लड़के से शादी करने की सजा, परिजनों ने पहले की पिटाई फिर सिर मुंडवाकर घुमाया
Sneha Baluniहिन्दुस्तान संवाद,फतेहपुर (बाराबंकी)Tue, 22 Jun 2021 06:01 AM
ऐप पर पढ़ें

उत्तर प्रदेश के बाराबंकी जिले के फतेहपुर कोतवाली क्षेत्र के एक गांव में बालिग अनाथ युवती ने गैर धर्म के अनाथ युवक से विवाह कर लिया। इस शादी से युवती के चाचा व अन्य परिजन इस कदर नाराज हुए कि उन्होंने सोमवार सुबह लड़की को मारा-पीटा और उसका मुंडवा दिया। बताते हैं कि लड़की को इसी दशा में घर के आसपास कुछ देर घुमाया भी गया। 

युवती के साथ इस अमानवीय घटना की खबर फैलते ही गांव में आक्रोश का माहौल हो गया। सूचना पर गांव पहुची पुलिस युवती को कोतवाली ले आयी। घटना में शामिल युवती के सगे और चचेरे चाचा और चचेरे भाई को गिरफ्तार कर लिया गया। इन तीनों समेत आठ लोगों के विरुद्ध विभिन्न धाराओं में मुकदमा दर्ज हुआ है।

रविवार की सुबह की थी शादी
फतेहपुर कोतवाली क्षेत्र के एक गांव में मिथुन नाम का मजदूरपेशा अनाथ युवक गांव के बाहर एक जर्जर कमरे में रहता आ रहा है। उसके माता-पिता की मौत हो चुकी है। कुछ ही दूर एक झोपड़े में मां-बाप की मौत के बाद युवती अपनी दादी के साथ रहती थी। कुछ दिनों से युवक-युवती के बीच प्रेम संबंध बन गए। रविवार सुबह गांव के ही एक धार्मिक स्थल के फेरे लेकर दोनों ने विवाह रचा लिया। युवती राजी खुशी लड़के के घर चली गई थी।

सूचना पाकर भड़के परिजन, सिर मुंडवाया
लड़की के विवाह करने की सूचना जब उसके चाचा व चचेरे भाइयों को मिली तो उनका गुस्सा इस कदर भड़का कि वह सोमवार की सुबह 8 बजे लड़के के घर पर आ गए। मिथुन उस समय किसी कार्य से निकला हुआ था। थाने में दी गई तहरीर में लड़की ने बताया कि सोमवार को चाचा रिजवान पुत्र अली हुसैन, नूर आलम, मो. शब्बीर, समी मुझे अपने घर से बुला लाए और चाचा रिजवान की पत्नी नजीरा, शबनम और मो. यूनुस आदि ने लात-घूंसे, चप्पल और डंडों से मारा पीटा। 

पहले सिर के बाल काटे और फिर पूरे सिर के बाल छील दिए। इतना ही नहीं, सभी लोग कहीं जाने नहीं दे रहे थे। लड़की ने तहरीर में कहा कि परिवारीजन भद्दी-भद्दी गालियां देते हुए जान से मारने की धमकी दे रहे थे। रिजवान कह रहा था इसे जिंदा छोड़ना ठीक नहीं होगा। उसने बताया कि वह किसी प्रकार जान बचाकर भाग कर आई।

आठ पर मुकदमा दर्ज, तीन गिरफ्तार
युवती की तहरीर पर पुलिस ने अपराधिक कानून संशोधन अधिनियम, महामारी अधिनियम के अलावा विभिन्न धाराओं में मुकदमा दर्ज कर लिया है, जिसमें युवती के चाचा रिजवान के अलावा नूर आलम, मो. शब्बीर, समी, नजीरा, शब्बीर की पत्नी नाम अज्ञात, शबनम व मो. यूनुस को नामजद किया है। जिसमें पुलिस ने गांव से रिजवान, नूरआलम व शब्बीर को गिरफ्तार कर लिया है।