अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

मुन्ना बजरंगी हत्याकांड: हाईकोर्ट में जवाब दाखिल करने के लिए विवेचक इलाहाबाद रवाना

मुन्ना बजरंगी हत्याकांड

पूर्वांचल के कुख्यात बदमाश मुन्ना बजरंगी हत्याकांड की सीबीआई जांच की याचिका में जवाब दाखिल करने के लिए विवेचक इलाहाबाद के लिए रवाना हो गए है। 17 सितम्बर को उच्च न्यायालय इलाहाबाद में सीबीआई जांच की याचिका पर सुनवाई होगी।

पूर्वांचल के कुख्यात बदमाश मुन्ना बजरंगी की नौ जुलाई को बागपत जिला जेल में गोलियों से भूनकर हत्या कर दी गई थी। उसकी हत्या का आरोप वेस्ट यूपी के कुख्यात बदमाश सुनील राठी पर लगा था। तत्कालीन जेलर यूपी सिंह ने उसके खिलाफ खेकड़ा थाने पर हत्या की धाराओं में मुकदमा दर्ज कराया था। मुन्ना बजरंगी की पत्नी सीमा सिंह ने भी घटना वाले रोज ही एक तहरीर पुलिस को दी थी। जिसमें पूर्वांचल के कई सफेदपोशों, अधिकारियों और बदमाशों पर पति की हत्या कराने का आरोप लगाया गया था। पुलिस ने इस तहरीर को मुकदमे की विवेचना में शामिल कर लिया था।

सीमा सिंह ने तभी उच्च न्यायालय इलाहाबाद में रिट दायर करते हुए घटना की सीबीआई जांच कराने की मांग की थी। आरोप था कि बागपत पुलिस राजनैतिक दवाब के चलते मुकदमे की सही विवेचना नहीं कर रही है। वह हत्यारोपियों को बचाने में लगी है। उच्च न्यायालय ने रिट पर सुनवाई के लिए 17 सितम्बर की तारिख नियत की हुई है। पिछले एक सप्ताह के भीतर ही विवेचक पूर्व सांसद धनंजय सिंह, विकास कुमार, जीएन सिंह और प्रदीप सिंह आदि के बयान दर्ज कर चुके है। बुधवार को वे इलाहाबाद के लिए रवाना हो गए। वहां वे उच्च न्यायालय में शासन की और से जवाब दाखिल करेंगे। विवेचक एसपी सिंह ने बताया कि याचिका पर 17 सितम्बर को सुनवाई होनी है। उससे पहले ही वे जवाब दाखिल कर देंगे।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Munna Bajrangi massacre: Vivekchak going to Allahabad to file a reply in High Court