ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News उत्तर प्रदेशयूपी की इस यूनिवर्सिटी में असिस्‍टेंट प्रोफेसर ने की छात्रा से छेड़छाड़, छात्रों का गुस्‍सा भड़का; हंगामा

यूपी की इस यूनिवर्सिटी में असिस्‍टेंट प्रोफेसर ने की छात्रा से छेड़छाड़, छात्रों का गुस्‍सा भड़का; हंगामा

मामला एमसडब्ल्यू विभाग से जुड़ा हुआ है। मास्टर ऑफ सोशल वर्क अंतिम सेमेस्टर की छात्रा का कहना है कि वह दोपहर लगभग एक बजे असिस्‍टेंट प्रोफेसर राजीव वर्मा के पास अपना लघु शोध प्रबंध जमा करने गयी।

यूपी की इस यूनिवर्सिटी में असिस्‍टेंट प्रोफेसर ने की छात्रा से छेड़छाड़, छात्रों का गुस्‍सा भड़का; हंगामा
Ajay Singhकार्यालय संवाददाता,आगराSat, 25 May 2024 09:48 AM
ऐप पर पढ़ें

Molestation of student: डॉ. भीमराव आंबेडकर विवि की एमएसडब्ल्यू की छात्रा ने शिक्षक पर शोध प्रबंध जमा करने के दौरान छेड़छाड़ करने और आपत्तिजनक व्यवहार करने के आरोप लगाए। इसके बाद साथी छात्रों ने शुक्रवार को विवि के पालीवाल पार्क परिसर स्थित समाज विज्ञान संस्थान और फिर खंदारी परिसर स्थित कुलपति आवास पर प्रदर्शन किया। छात्रों ने कुलपति आवास पर शिक्षक के खिलाफ कार्रवाई की मांग की। वहीं छात्रा की ओर से हरीपर्वत थाने में तहरीर दी गयी है।

मामला एमसडब्ल्यू विभाग से जुड़ा हुआ है। मास्टर ऑफ सोशल वर्क अंतिम सेमेस्टर की छात्रा का आरोप था कि वह शुक्रवार को दोपहर लगभग एक बजे शिक्षक डॉ. राजीव वर्मा के पास अपना लघु शोध प्रबंध जमा करने गयी। समाज विज्ञान संस्थान स्थित कार्यालय में उन्होंने कहा कि अभी रुको, कुछ जरूरी काम कर रहा हूं। इसके बाद मैं कार्यालय के बाहर इंतजार करने लगी। काफी देर तक उन्होंने नहीं बुलाया, तो मैंने फिर से पूछा। इस पर उन्होंने मुझे अंदर बुला लिया, उस समय कार्यालय में कोई और मौजूद नहीं था। इसी दौरान उन्होंने मुझसे छेड़छाड़ की। विरोध करने पर जिंदगी बर्बाद करने की धमकी दी और वहां से चले गए।

कार्यालय से बाहर आकर डॉ. राजीव वर्मा की हरकत अपने साथियों को बतायी। साथी छात्रों का कहना था कि घटना की जानकारी होने पर इसकी शिकायत निदेशक प्रो. मो. अरशद से की गयी। इसके बाद छात्रों ने संस्थान में हंगामा किया और वहां से कुलपति आवास, खंदारी परिसर में पहुंच गए। घटना की जानकारी होने पर छात्रा के परिजन भी वहां पहुंच गए। इसके बाद कुलपति आवास पर कुलपति प्रो. आशु रानी ने छात्रा से बात की। काफी देर तक बातचीत के बाद छात्र बाहर आ गए और विवि अधिकारियों, जिम्मेदारों पर छात्रा का साथ न देने का आरोप लगाते हुए हंगामा किया। इसके बाद छात्रा ने परिजनों के साथ हरीपर्वत थाने में डॉ. राजीव वर्मा के खिलाफ तहरीर दे दी।

आक्रोशित हुए छात्र, किया हंगामा

घटना के बाद आक्रोशित छात्रों ने छात्रा का साथ दिया। छात्रों का आरोप था कि विवि के जिम्मेदारों ने उनकी साथी को समझाने के दौरान ऐसी बात कही, जो गैरजिम्मेदाराना थी। कुलपति आवास के बाहर एकत्रित छात्रों का आरोप था कि विवि बेशक अब कार्रवाई की बात कर रहा हो, लेकिन उसके जिम्मेदारों का व्यवहार संवेदनशील नहीं था। इसके साथ ही एमएसडब्ल्यू के छात्रों का आरोप था कि गुरुवार को भी छात्रा के साथ शिक्षक ने आपत्तिजनक व्यवहार किया। इसके बाद छात्रा ने किसी को कुछ नहीं बताया, लेकिन शुक्रवार को हद पार होने पर उसने अपने साथियों को इसकी जानकारी दी, तो वह सभी संस्थान में पहुंच गए। उसके बाद सभी कुलपति आवास पर पहुंचकर कार्रवाई की मांग करने लगे।

आरोपों को शिक्षक ने बताया निराधार

मामले में शिक्षक डॉ. राजीव वर्मा का कहना था सभी शिक्षकों के नंबर जा चुके थे। इसके कारण से संस्थान में मुझसे सवाल पूछे जा रहे थे। इस छात्रा और एक अन्य छात्र की ओर से लधु शोध प्रबंध जमा नहीं किया था। इसके लिए इनको फोन किए गए थे। पिछले कई दिनों से छात्रा के भी फोन आए और उसने अलग-अलग बात कहते हुए शोध प्रबंध जमा करने के लिए समय मांगा। छात्र ने भी इसी तरह से बात कही। उस दौरान भी मैनें दोनों से इसको जल्द से जल्द जमा करने की बात कही। गुरुवार को मेरी छात्रा से कोई मुलाकात नहीं हुई थी। शुक्रवार को जब छात्रा आयी तो उस समय कार्यालय में कर्मचारी मौजूद थे। जब यह आयी तो भी इनकी ओर से लधु शोध प्रबंध नहीं दिया गया। इसके बाद मैं लगभग चार बजे ऑफिस से चला गया। थोड़ी देरी बाद मुझे फोन आया कि छात्रा की ओर से इस प्रकार के आरोप लगाए गए हैं। मैं इस प्रकार के आरोपों से निशब्द हूं।

विवि प्रशासन ने कहा 

कुलसचिव डॉ.राजीव कुमार ने कहा कि छात्रा की शिकायत के आधार पर मामला विश्वविद्यालय के महिलाओं एवं छात्राओं के यौन उत्पीड़न सम्बन्धी शिकायतों एवं उन पर समाधान, कार्यवाही प्रकोष्ठ को भेजा गया है। प्रकोष्ठ की बैठक में छात्रा की शिकायत को रखा जाएगा। इसके बाद दोनों पक्षों को सुना जाएगा। कमेटी की रिपोर्ट के आधार पर विश्वविद्यालय कदम उठाएगा।