अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

ट्रेनों में वारदात: मुजफ्फरनगर में छेड़छाड़, बरेली में लूट, मुरादाबाद में फौजी को फेंका

Molested

रेल सफर दुश्वारियों भरा होने के साथ ही बेहद असुरक्षित हो गया है। मुरादाबाद और दिल्ली रेल मंडल में गुरुवार की रात और शुक्रवार की सुबह रेल यात्रियों के साथ तीन दुस्साहिक वारदातें हुईं। मुरादाबाद में गुरुवार की रात में सीट के विवाद में फौजी ट्रेन से फेंक दिया गया। शुक्रवार की सुबह फौजी घायल अवस्था में मिला। पुलिस ने अस्पताल पहुंचाया गया, लेकिन कुछ ही देर में उसकी मौत गई। बीती रात ही शाहजहांपुर में बदमाशों ने लखनऊ-चंडीगढ़ एक्सप्रेस को निशाना बनाया। चेन पुलिंग करके ट्रेन रोकी और महिलाओं से जेवर, नगदी, सामान आदि लूटकर फरार हो गए। शुक्रवार की सुबह अहमदाबाद मेल में मुजफ्फरनगर में आरक्षित कोच में सीट पर जबरन बैठने को लेकर युवकों ने गुजरात की महिलाओं से अभद्रता की हदें पार दीं। पुलिस ने छेड़छाड़ के मामले में तीन युवकों को गिरफ्तार कर लिया है।
 
पहली घटना: 
सीट विवाद में फौजी को ट्रेन से फेंका, मौत
 

हरियाणा के महेंद्रगढ़ सहलोम निवासी फौजी रजनीश पुत्र राजेंद्र सिंह नैनीताल आर्मी कैंप में लांस नायक के पद पर तैनात था। पुलिस के मुताबिक गुरुवार रात वह काठगोदाम एक्सप्रेस से दिल्ली से काठगोदाम जा रहा था। मुरादाबाद से ट्रेन के चलते ही उसका सीट पर बैठने को लेकर कुछ यात्रियों से विवाद हो गया। 

आरोप है कि सीट विवाद में उसे बुरी तरह से पीटा गया और चलती ट्रेन से उसे धक्का दे दिया गया। इससे वह गंभीर रूप से जख्मी हो गया। सूचना पर पीआरवी टीम ने कटघर थाना क्षेत्र स्थित अंबेडकर नगर रेलवे ट्रैक किनारे बेहोश मिले रजनीश को जिला अस्पताल पहुंचाया, जहां पर उसकी कुछ समय बाद मौत हो गई।

रजनीश के पास मिले आईकार्ड से उसकी शिनाख्त हुई और परिजनों को सूचना दी गई। देर शाम हुए पोस्टमार्टम में रजनीश के शरीर पर एक दर्जन चोटों के निशान मिले हैं। उसका दायां फेफड़ा, लीवर, किडनी फेंके जाने से फट गईं। दोनों हाथों में भी चोटों के निशान मिले हैं। इंस्पेक्टर कटघर संजय गर्ग ने बताया कि नैनीताल आर्मी कैंप से पहुंचे रविकुमार और परिवार वालों को शव को सौंप दिया गया है। तहरीर पर मुकदमा दर्ज कर लिया गया है। 

दूसरी घटना : 
लखनऊ-चंडीगढ़ एक्सप्रेस की तीन बोगियों में छह महिलाओं को लूटा
शाहजहांपुर में गुरुवार रात डेढ़ बजे गर्रा रेलवे क्रासिंग के बीच बदमाशों ने लखनऊ-चंडीगढ़ एक्सप्रेस को निशाना बनाया। गुरुवार रात 1.11 बजे शाहजहांपुर रेलवे स्टेशन से ट्रेन में सवार बदमाशों के एक साथी ने गर्रा निजामपुर गौटिया के पास चेन पुलिंग कर दी। ट्रेन के रुकते ही झाड़ियों से निकले बदमाशों ने कोच नंबर एस-1, एस-3 और एस-6 में खिड़कियों से हाथ डालकर वहां बैठी महिलाओं से जेवर,  बैग और सामान लूट लिया। वारदात के बाद गार्ड ने कंट्रोल को मेमो दिया। इस पर आरपीएफ-जीआरपी घटनास्थल की ओर दौड़ीं। इस दौरान करीब 25 मिनट तक ट्रेन घटनास्थल पर खड़ी रही। पीड़ित सहारनपुर निवासी अनीता वर्मा, पूजा, शिमला की खुशबू वर्मा, शिमला की पुष्पा ने जीआरपी में तहरीर दी है। शुक्रवार को आईजी रेलवे ने घटनास्थल का निरीक्षण कर वारदात के खुलासे के निर्देश दिए हैं।

तीसरी घटना: 
अहमदाबाद-हरिद्वार एक्सप्रेस में गुजराती महिलाओं से अभद्रता, मारपीट

दिल्ली रेल मंडल से जुड़े मुजफ्फरनगर में अहमदाबाद मेल ट्रेन में शुक्रवार सुबह मेरठ से सवार हुए छह युवकों ने रिजर्व कोच में जबरन घुसकर सीट को लेकर गुजराती महिलाओं से अभद्रता कर दी। खतौली स्टेशन पर यात्रियों ने हंगामा किया तो पुलिस ने तीन आरोपियों को पकड़ लिया जबकि तीन अन्य फरार हो गए। 

पीड़ित गुजराती महिलाओं ने आरोप लगाया कि पकड़े गए युवक समेत छह युवक मेरठ से रिजर्व कोच में चढ़े थे। युवकों ने सीट पर लेटी महिलाओं से उठकर बैठने को कहा। विरोध करने पर आरोपी युवकों ने अभद्रता करते हुए मारपीट शुरू कर दी। कुछ युवकों ने एक महिला से छेड़छाड़ भी की। 
पुलिस ने बताया कि पकड़ा गया एक युवक मुजफ्फरनगर में एक बैंक में कर्मचारी है। युवक के साथ उसके पांच साथी और भी थे जो भाग गए। इतना ही नहीं सभी ट्रेन में बेटिकट यात्रा कर रहे थे। महिलाओं ने युवकों के खिलाफ तहरीर दी है।
 

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Molestation in Muzaffarnagar looting in Bareilly Throwing the Army in Moradabad