ट्रेंडिंग न्यूज़

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

हिंदी न्यूज़ उत्तर प्रदेशआगरा: बुर्का पहनाकर लड़की को तीसरी बार अगवा करने वाले मेहताब पर शिकंजा कसा, बीवी और भाभी गिरफ्तार, भाई हिरासत में

आगरा: बुर्का पहनाकर लड़की को तीसरी बार अगवा करने वाले मेहताब पर शिकंजा कसा, बीवी और भाभी गिरफ्तार, भाई हिरासत में

उत्‍तर प्रदेश के आगरा के दयालबाग से नाबालिग लड़की के अपहरण का मामला लगातार गरमाता जा रहा है। सोशल मीडिया पर सरगर्मी बढ़ी तो शुक्रवार को पुलिस ने अपहरण में मददगार आरोपी की पत्नी और दो भाभियों...

आगरा: बुर्का पहनाकर लड़की को तीसरी बार अगवा करने वाले मेहताब पर शिकंजा कसा, बीवी और भाभी गिरफ्तार, भाई हिरासत में
Ajay Singhप्रमुख संवाददाता ,आगराSat, 27 Feb 2021 07:02 AM
ऐप पर पढ़ें

उत्‍तर प्रदेश के आगरा के दयालबाग से नाबालिग लड़की के अपहरण का मामला लगातार गरमाता जा रहा है। सोशल मीडिया पर सरगर्मी बढ़ी तो शुक्रवार को पुलिस ने अपहरण में मददगार आरोपी की पत्नी और दो भाभियों को गिरफ्तार कर लिया। उसके एक भाई को हिरासत में लेकर पूछताछ की जा रही है। आरोपी मेहताब की गिरफ्तारी और किशोरी की बरामदगी के लिए पुलिस टीमें मेरठ-एनसीआर में लगातार छापामारी कर रही हैं। इधर, किशोरी के परिजनों ने मामला ‘लव जेहाद’ का बताते हुए इस प्रकरण से जुड़े अन्य लोगों पर भी कार्रवाई की मांग की है। 

न्यू आगरा के दयालबाग से नौवीं की छात्रा को अगवा करने के मामले के मुख्य आरोपी की गिरफ्तारी और पीड़िता की बरामदगी न होने से प्रकरण तूल पकड़ता जा रहा है। आरोपी के बारे में सनसनीखेज खुलासों से आम लोगों में भी घटना को लेकर गुस्सा बढ़ता जा रहा है। 72 घंटे बाद भी आरोपी की गिरफ्तारी न होने से विभिन्न संगठनों के लोग मामले को लेकर बयानबाजी करने लगे हैं, जिससे पुलिस पर दवाब बढ़ता जा रहा है। पुलिस के मुताबिक, किशोरी को अगवा करने वाला आरोपित मेहताब इसी लड़की के मामले में पहले एक बार जेल भी जा चुका है। पुलिस उसकी तलाश में लगातार छापेमारी कर रही है। थाना न्यू आगरा की एक टीम ने मेरठ में डेरा डाल रखा है। छानबीन में पुलिस को जानकारी मिली है कि आरोपित दिल्ली चला गया है। वहां किसी परिचित के घर उसने शरण ली है। पुलिस ने बताया कि मेहताब राणा मूलत: मेरठ में भावनपुर थाना क्षेत्र के रसूलपुर औरंगाबाद गांव का निवासी है।

यह भी पढ़ें:आगरा में फिल्‍मी अंदाज में तीसरी बार लड़की का अपहरण, बुर्का पहनाकर लड़की को हॉस्पिटल से किया गायब

तीसरी बार अगवा की किशोरी 
छानबीन में पुलिस को पता चला कि मेहताब राणा ने पहली बार ताजगंज की किशोरी का अपहरण वर्ष 2018 में किया था। मामले को लव जेहाद का बताया गया था। पुलिस ने मेरठ में दबिश दी थी। दबाव में मेहताब के परिजन किशोरी को मेरठ के एक थाने में छोड़ गए थे। इस घटना के दो माह बाद मेहताब राणा किशोरी को दूसरी बार अगवा करके ले गया था। इस बार पुलिस ने उसे पकड़ा था। उसके पास हाईकोर्ट का स्टे था। पुलिस ने पहले स्टे खारिज कराया था। बाद में उसे जेल भेजा था। मुकदमे में दो नाम और बढ़ाए गए थे। उस मुकदमे की विवेचना आज तक लंबित चल रही है। उन दोनों मददगारों की गिरफ्तारी नहीं हुई। मेहताब राणा किशोरी को तीसरी बार अगवा करके ले गया। 

छह बच्चों का बाप है मेहताब 
एसपी सिटी बोत्रे रोहन प्रमोद ने बताया कि वर्ष 2018 में मेहताब राणा मेरठ से आगरा होटल में नौकरी करने आया था। वहां उसकी पहचान किशोरी के पिता से हुई थी। आरोपित ताजगंज क्षेत्र में किराए का मकान लेकर रहता था। किशोरी के घर आना-जाना था। उसने किशोरी को अपने जाल में फंसा लिया था। आरोपित विवाहित है। दस साल पहले उसकी शादी हो चुकी है। छह बच्चे हैं। पहली बार किशोरी का अपहरण करके वह उसे अपने घर मेरठ लेकर पहुंचा था। उसकी और अन्य परिजनों को इसकी जानकारी थी। इस बार भी परिवारीजनों ने अपहरण के बाद आरोपित को शरण दी। भागने में उसकी मदद की है।

यह भी पढ़ें: लड़की के तीसरी बार अपहरण का मामला सोशल मीडिया पर गरमाया, 'हैशटैग जस्टिस फॉर आगरा की बेटी' मुहिम शुरू

पुलिस के व्यवहार से पीड़ित खौफजदा 
इधर, पीड़ित परिवार का आरोप है कि महिला हेल्पलाइन पर शिकायत करने के तीन घंटे बाद भी कोई मदद को नहीं पहुंचा। परिजन और पड़ोसी जब थाना न्यू आगरा पहुंचे तब पुलिस ने तहरीर ली। दीगर है कि इसके बाद भी रिसीविंग नहीं दी। पहले मुकदमा दर्ज नहीं किया। पुलिस के इस तरह के व्यवहार से पीड़ित परिवार खौफजदा है। परिजनों का कहना है कि आरोपी परिवार उनके घर के पास ही रहते हैं। दबंग किस्म के हैं। एक युवक के पिता पुलिस में हैं। इसलिए पुलिस मुकदमा लिखने में आनाकानी कर रही थी। बाद में माहौल गरमाया तो केस दर्ज किया गया। 

यह था प्रकरण 
ताजगंज की 17 वर्षीय किशोरी अपनी बुआ के साथ मंगलवार को दयालबाग स्थित हॉस्पीटल में दवा लेने आई थी। हॉस्पीटल से वह गायब हो गई। सीसीटीवी फुटेज खंगाले गए। मेरठ का मेहताब राणा कंधे पर बैग टांगकर हॉस्पीटल में आया। उसे देखते ही परिजन पहचान गए। जब बाहर निकला तो उसके साथ बुर्के में एक लड़की थी। जानकारी के बाद किशोरी के पिता ने न्यू आगरा थाने में मुकदमा दर्ज कराया।  

epaper