ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News उत्तर प्रदेशअयोध्या को लेकर मौसम विभाग की भविष्यवाणी, फिर भी रामभक्तों का उमड़ा सैलाब, तीन लाख से ज्यादा श्रद्धालुओं ने किए दर्शन

अयोध्या को लेकर मौसम विभाग की भविष्यवाणी, फिर भी रामभक्तों का उमड़ा सैलाब, तीन लाख से ज्यादा श्रद्धालुओं ने किए दर्शन

रामलला की प्राण-प्रतिष्ठा के बाद से लगातार बढ़ रही भीड़ के बीच प्रतिदिन औसतन तीन लाख श्रद्धालु यहां दर्शन कर रहे हैं। रविवार को अवकाश का दिन होने के कारण भीड़ अधिक बढ़ गई।

अयोध्या को लेकर मौसम विभाग की भविष्यवाणी, फिर भी रामभक्तों का उमड़ा सैलाब, तीन लाख से ज्यादा श्रद्धालुओं ने किए दर्शन
Dinesh Rathourहिन्दुस्तान,अयोध्याSun, 04 Feb 2024 10:46 PM
ऐप पर पढ़ें

रामलला की प्राण-प्रतिष्ठा के बाद से लगातार बढ़ रही भीड़ के बीच प्रतिदिन औसतन तीन लाख श्रद्धालु यहां दर्शन कर रहे हैं। रविवार को अवकाश का दिन होने के कारण भीड़ अधिक बढ़ गई। हालांकि अयोध्या में मौसम का मिजाज बदल गया था और मौसम विभाग भविष्यवाणी भी कर रहा था। फिर भी श्रद्धालुओं के उत्साह में कहीं कोई कमी नहीं दिखाई दी। रिमझिम हो रही बारिश पर रामभक्तों की आस्था भारी पड़ गई। कतारबद्ध श्रद्धालुओं ने श्रीरामजन्म भूमि के साथ-साथ हनुमानगढ़ी में भी दर्शन पूजन किया। श्रीरामजन्मभूमि में मध्याह्न के बाद एकाएक भीड़ का दबाव इस कदर बढ़ा कि फ्रीस्किंग एरिया में डी-वन बैरियर के पास धक्का- मुक्की की स्थिति पैदा हो गयी। फिलहाल कोई अप्रिय घटना नहीं हुई और सभी को दर्शन सुलभ हो गया। श्रीरामजन्म भूमि तीर्थ क्षेत्र के न्यासी डा अनिल मिश्र ने बताया कि औसत की दृष्टि से प्रतिदिन तीन लाख श्रद्धालु दर्शन कर रहे हैं।

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के निर्देश पर शासन- प्रशासन के अधिकारी भी समन्वय के साथ व्यवस्था में सहयोग दें रहे हैं। उन्होंने बताया कि फिलहाल तीन पंक्तियों में श्रद्धालुओं को दर्शन कराया जा रहा है। भविष्य में चार पंक्तियों में दर्शन की योजना बनाई जा रही है। उन्होंने बताया कि ऐसे श्रद्धालु जिन्हें पीएफसी में मोबाइल या प्रतिबंधित सामानों को जमा नहीं कराना है, उनके लिए अलग पंक्ति की व्यवस्था कर दी गयी है जिससे वह सीधे दर्शन के लिए जा सकें।

हनुमानगढ़ी में दो पंक्तियों के बाद भी करीब एक किमी. लंबी लगी कतार

श्रीरामजन्म भूमि के साथ-साथ हनुमानगढ़ी में भी श्रद्धालुओं का दबाव बराबर बना रहा। यहां अर्द्धसैनिक बलों के जवान एक दिन पूर्व से पंक्ति बद्ध कर श्रद्धालुओं को दर्शन कराना शुरू कर चुके हैं। रविवार को अवकाश के कारण बढ़ी भीड़ को ध्यान में रखकर दो पंक्तियों में दर्शन शुरू कराया गया। फिर भी यह लाइन एक किमी से भी अधिक श्रृंगार हाट तक लग गई। यहां भीड़ को देखकर नजरबाग गुरुद्वारा की तरफ जाने वाले सम्पर्क मार्ग को भी बैरीकेडिंग लगाकर बंद कर दिया गया। इसके कारण स्थानीय लोगों ही नहीं श्रद्धालुओं को भी परेशानी का सामना करना पड़ा।

भीड़ के कारण यातायात प्रतिबंध फिर लागू हुआ 

रामलला के दर्शन के लिए उमड़े आस्था के सैलाब से हलकान पुलिस प्रशासन ने रविवार को फिर से राम पथ पर यातायात प्रतिबंध लागू कर दिया। राम पथ की ओर पूरब व पश्चिम की तरफ से आने वाले सभी रास्तों को बैरीकेडिंग लगाकर बंद कर दिया गया और वाहनों को राम पथ पर नहीं आने दिया गया। यद्यपि कि बारिश के दौरान यातायात पुलिस व सिविल पुलिस के जवान इधर-उधर छिप गये । इसके कारण यात्रियों को लेकर सवारी वाहन राम पथ पर आ गये लेकिन उन्हें दोबारा भगा दिया गया और वाहनों का चालान करने की भी चेतावनी दी गई।

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें