ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News उत्तर प्रदेशमायावती का अटल फैसला, बीएसपी अकेले लड़ेगी लोकसभा चुनाव; 6 दिसंबर को नोएडा-लखनऊ में शक्ति प्रदर्शन

मायावती का अटल फैसला, बीएसपी अकेले लड़ेगी लोकसभा चुनाव; 6 दिसंबर को नोएडा-लखनऊ में शक्ति प्रदर्शन

मायावाती आने वाले लोकसभा चुनाव की तैयारियों में जुट गई हैं। इस बार मायावाती अकेले अपने बलबूते पर लड़ने क अटल फैसला लिया है। 6 दिसंबर को बसपा नोएडा और लखनऊ शक्ति प्रदर्शन करेगी।

मायावती का अटल फैसला, बीएसपी अकेले लड़ेगी लोकसभा चुनाव; 6 दिसंबर को नोएडा-लखनऊ में शक्ति प्रदर्शन
Pawan Kumar Sharmaलाइव हिन्दुस्तान,लखनऊThu, 30 Nov 2023 02:59 PM
ऐप पर पढ़ें

यूपी की पूर्व सीएम और बसपा प्रमुख मायावाती आने वाले लोकसभा चुनाव की तैयारियों में जुट गई हैं। इस बार मायावाती अकेले अपने बलबूते पर लड़ने का अटल फैसला लिया है। इसे लेकर गुरुवार को बसपा की बैठक हुई। जिसमें यूपी और उत्तराखंड में पार्टी के कार्यक्रमों और तैयारियों की गहन समीक्षा की गई है। इसके अलावा 6 दिसंबर को बाबा साहेब के परिनिर्वाण दिवस के मौके पर नोएडा और लखनऊ में बसपा शक्ति प्रदर्शन करेगी। 

मध्य प्रदेश, छत्तीसगढ़, राजस्थान और तेलंगाना विधानसभा चुनाव के बीच बसपा चीफ मायावती आम चुनाव की तैयारियों में भी जुटी हुई हैं। गुरुवार को लखनऊ में हुए बसपा की मीटिंग में मायवाती ने कहा कि यूपी समेत विभिन्न राज्य सरकारों की संकीर्ण, जातिवादी, जनविरोधी नीतियों और कार्यप्रणीली के कारण राजनीतिक हालात तेजी से बदल रहे हैं। ऐसे में किसी एक पार्टी का वर्चस्व नहीं होकर बहुकोणीय संघर्ष का रास्ता लोग चुनने को आतुर नजर आ रहे हैं। ऐसे में आने वाले लोकसभा चुनाव संघर्षपूर्ण, व्यापक जनहित और देशहित में साबित होने वाला है। जिसमें बीएसपी की महत्वपूर्ण भूमिक होगी। 

मायावाती ने आगे कहा कि ऐसे में पार्टी को समय-समय पर दिये जा रहे ज़रूरी दिशा-निर्देशों पर ईमानदारी और निष्ठापूर्वक मेहनत करके अच्छा रिज़ल्ट जरूर हासिल किया जा सकता है। ऐसा हो जाने पर परमपूज्य बाबा साहेब डा. भीमराव अंबेडकर के आत्म सम्मान व स्वाभिमानी मूवमेंट  और उनके कारवां को केवल यूपी जैसे राज्यों में ही नहीं बल्कि पूरे देश में मज़बूती मिलेगी। समस्त गरीबों, वंचितों, शोषितों- पीड़ितों में से ख़ासकर सदियों से जातिवाद के शिकार दलित, आदिवासी और अन्य पिछड़े वर्गों के साथ-साथ धार्मिक अल्पसंख्यकों में से विशेषकर मुस्लिम समाज के करोड़ों लोगों को जुल्म-ज्यादती, नफरत, भेदभाव और दूसरे दर्जे के नागरिक की तरह के सरकारी व्यवहार से मुक्ति मिल जाएगी।

पदाधिकारियों से मांगा रिपोर्ट कार्ड

मायावाती ने अपने भाषण से पहले पिछली बैठक में दिए गए जरूरी दिशा-निर्देशों पर जिला और मंडलवार समीक्षा रिपोर्ट ली। इसमें आने वाली कमियों को दूर करने के नए दिशा-निर्देश भी दिए। मायावाती ने आगामी संसदीय चुनाव में युवा मिशनरी लोगों को तैयार करने के भी बात कही। उन्होंने कहा कि पांच राज्यों में विधानसभा चुनाव के बाद अब लोकसभा के लिए फिर से माहौल गरमाने लगा है साथ ही नई सरगरमी भी शुरू हो गई है। इसके अलावा 6 दिसंबर को संविधान निर्माता बाबा साहेब के परिनिर्वाण दिवस पर इस बार कार्यक्रम में थोड़ा बदलाव किया गया है। जिसके तहत अब पश्चिमी यूपी के आगरा, अलीगढ़, बरेली, मुरादाबाद, मेरठ और सहारनपुर मंडल के लोग नोएडा में बीएसपी की सरकार द्वारा दिल्ली-यूपी सीमा पर निर्मित भव्य "राष्ट्रीय दलित प्रेरणा स्थल व ग्रीन गार्डेन” में पूरी सामूहिकता के साथ अपने मसीहा बाबा साहेब डा. भीमराव अंबेडकर को श्रद्धांजलि व श्रद्धा सुमन अर्पित करेंगे। जबकि यूपी के शेष 12 मंडलों में पार्टी के लोग राजधानी लखनऊ में गोमती नदी के तट पर स्थापित भव्य, विशाल एवं विश्व-विख्यात "डा. भीमराव अंबेडकर सामाजिक परिवर्तन स्थल" प्रांगण में स्थित "डा. अंबेडकर स्मारक" में अपने मसीहा को भावभीनी श्रद्धांजलि व अपार श्रद्धा-सुमन अर्पित करने के लिए पहुँचेंगे।

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें