ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News उत्तर प्रदेशएक 5 किलो राशन देकर नौकरी खा गया, दूसरा 10 किलो.... दस दिन बाद मायावती के भतीजे आकाश आनंद ने तोड़ी चुप्पी

एक 5 किलो राशन देकर नौकरी खा गया, दूसरा 10 किलो.... दस दिन बाद मायावती के भतीजे आकाश आनंद ने तोड़ी चुप्पी

UP LOK SABHA ELECTION 2024: मायावती के भतीजे आकाश आनंद ने दस दिनों बाद रविवार को अपनी चुप्पी तोड़ी है। आकाश आनंद ने भाजपा पर निशाना साधने के साथ ही कांग्रेस पर जोरदार हमला किया है।

एक 5 किलो राशन देकर नौकरी खा गया, दूसरा 10 किलो.... दस दिन बाद मायावती के भतीजे आकाश आनंद ने तोड़ी चुप्पी
Yogesh Yadavलाइव हिन्दुस्तान,लखनऊSun, 19 May 2024 11:07 PM
ऐप पर पढ़ें

बहुजन समाज पार्टी की प्रमुख मायावती के भतीजे आकाश आनंद ने दस दिनों बाद रविवार को अपनी चुप्पी तोड़ी है। आकाश आनंद ने भाजपा पर निशाना साधने के साथ ही कांग्रेस पर जोरदार हमला किया है। यह संयोग की बात है कि एक दिन पहले ही समाजवादी पार्टी के प्रमुख अखिलेश यादव ने आकाश आनंद की तारीफ की थी। आज आकाश आनंद ने सपा पर चुप्पी साधे रखी और भाजपा-कांग्रेस पर हमला किया है। मई के पहले हफ्ते में आकाश आनंद की सभी रैलियां निरस्त कर दी गई थी। इसके बाद सात मई को मायावती ने आकाश आनंद को नेशनल कोर्डिनेटर के पद से हटाने के साथ ही अपने उत्तराधिकारी बनाने की घोषणा भी वापस ले ली थी। मायावती ने आकाश आनंद को अपरिपक्व बताते हुए जिम्मेदारियां वापस ले ली थी।

अब आकास आनंद की फिर चुप्पी टूटी है तो इसके कई मायने निकाले जा रहे हैं। कुछ लोगों का मानना है कि आकाश आनंद छठे और सातवें चरण के चुनाव के लिए एक बार फिर मैदान में आ सकते हैं। दोनों चरण में मतदान पूर्वांचल की 27 सीटों पर होगा। यह वह क्षेत्र है जहां छोटी-छोटी पार्टियों में वोट काफी बंटे हुए हैं। अनुप्रिया पटेल की अपना दल, ओपी राजभर की सुभासपा, संजय निषाद की निषाद पार्टी इसी इलाके में लड़ रही है। ऐसे में थोड़ा सा भी इधर उधर होने से रिजल्ट बदल जाने की उम्मीद है। पिछले चुनाव में बसपा ने इस इलाके में काफी अच्छा प्रदर्शन भी किया था। बसपा ने जौनपुर, गाजीपुर, घोसी सीटें जीती थीं।

Video: आकाश आनंद का वो आखिरी भाषण जिसके बाद मायावती ने भतीजे की क्रैश लैंडिंग करवा दी

मायावती ने सात मई को आकाश आनंद पर एक्शन लिया था। एक्शन के 48 घंटे तक तो आकाश आनंद बिल्कुल चुप रहे लेकिन नौ मई को अपनी भावनाएं सोशल मीडिया प्लेटफार्म एक्स पर व्यक्त करते हुए अपनी बुआ की तारीफ करने के साथ ही लिखा था कि आप हमारी सर्वमान्य नेता हैं और आपका आदेश सिर माथे पर है। अंतिम सांस तक भीम मिशन और अफने समाज के लिए लड़ता रहूंगा। 

9 मई को की गई पोस्ट के बाद से आकाश आनंद न कहीं किसी सार्वजनिक कार्यक्रम में दिखाई दिए थे और न ही उनकी कोई पोस्ट सोशल मीडिया पर आई थी। अब दस दिनों बाद रविवार को उनकी पहली पोस्ट एक्स पर आई है। उन्होंने राहुल गांधी का एक वीडियो शेयर करते हुए लिखा कि ये तब भी जनता को गुलाम समझते थे। ये आज भी सबको गुलाम समझते हैं। एक (NDA) 5 किलो राशन देकर ढाई लाख की नौकरी खा गया। दूसरा (इंडिया एलायंस) 10 किलो राशन का लालच देकर वोट खाना चाहता है। सावधान रहिएगा।

आकाश आनंद ने जो वीडियो शेयर किया है उसमें राहुल गांधी कह रहे हैं कि कांग्रेस एहसान नहीं जताती, जनता को अधिकार देती है। भोजन का अधिकार कांग्रेस पार्टी और UPA की सरकार ले कर आई। और, अब हम आपको BJP से दोगुना अनाज देंगे - वो 5 किलो देते हैं, हम 10 किलो देंगे!