ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News उत्तर प्रदेशकौशांबी की पटाखा फैक्‍ट्री में भीषण विस्‍फोट, पांच की मौत, कई की हालत गंभीर

कौशांबी की पटाखा फैक्‍ट्री में भीषण विस्‍फोट, पांच की मौत, कई की हालत गंभीर

कौशांबी में पटाखा फैक्‍ट्री में भीषण विस्‍फोट हुआ है। इस हादसे में कम से कम पांच लोगों की मौत की सूचना मिल रही है। एक के बाद एक धमाकों से पूरा इलाका थर्रा हुआ है। 5 लोगों की मौत की सूचना मिल रही है।

कौशांबी की पटाखा फैक्‍ट्री में भीषण विस्‍फोट, पांच की मौत, कई की हालत गंभीर
Ajay Singhलाइव हिन्‍दुस्‍तान,कौशांबीSun, 25 Feb 2024 02:18 PM
ऐप पर पढ़ें

Explosion in Kaushambi firecracker factory: यूपी के कौशांबी में पटाखा फैक्‍ट्री में भीषण विस्‍फोट हुआ है। इस हादसे में कम से कम पांच लोगों की मौत की सूचना मिल रही है। एक के बाद एक धमाकों से पूरा इलाका थर्रा हुआ है। मौके पर पहुंचे आसपास के लोगों ने 10 लोगों को बाहर निकाला है। प्रत्‍यक्षदर्शियों के मुताबिक कम से कम पांच लोगों की मौत हो चुकी है। धमाकों से झुलसे कई लोगों की हालत गंभीर है। विस्‍फोट के एक घंटे बाद तक दमकल गाड़ियों के न पहुंचने के चलते स्‍थानीय लोग गुस्‍से में हैं। सीएम योगी आदित्‍यनाथ ने हादसे पर गहरा दुख जताते हुए अधिकारियों को राहत के काम में तेजी लाने के आदेश दिए हैं। 

हादसे की शिकार हुई पटाखा फैक्‍ट्री कौशांबी के कोखराज थाना क्षेत्र के भरवारी कस्‍बे की है। पुलिस के मुताबिक‍ हादसे के वक्‍त फैक्‍ट्री में कई लोग काम कर रहे थे। पुलिस ने उनमें से चार की मौत की पुष्टि की है।जबकि प्रत्‍यक्षदर्शियों का कहना है कि कम से कम पांच लोगों की मौत हुई है। कई लोगों की हालत गंभीर बताई जा रही है। पुलिस के मुताबिक तीन लोगों की मौत मौके पर ही हो गई थी जबकि एक की मौत अस्‍पताल में इलाज के दौरान हुई। मौके पर रेस्‍क्‍यू ऑपरेशन अभी भी जारी है। पटाखा फैक्‍ट्री में पहले विस्‍फोट के बाद करीब एक घंटे तक रुक-रुक कर धमाके होते रहे। फायर ब्रिगेड के पहुंचने तक स्‍थानीय लोगों ने पुलिस के साथ मिलकर अंदर फंसे लोगों को बाहर निकलवाया। उन्‍हें आनन-फानन में अस्‍पताल पहुंचाया गया।

कौशांबी के एसपी बृजेश कुमार श्रीवास्‍तव ने मीडिया को बताया कि हादसे की चपेट में वही लोग आए जो पटाखा फैक्‍ट्री में काम कर रहे थे। उनके मुताबिक पटाखा फैक्‍ट्री  संचालक के पास पटाखा बनाने का लाइसेंस है। उन्‍होंने कहा कि यह फैक्‍ट्री रिहायशी इलाके से काफी दूर स्थित है। दमकल गाड़ि‍यों के देरी से पहुंचने पर उन्‍होंने कहा कि हादसे के वक्‍त फायर ब्रिगेड के कर्मचारी एक अन्‍य स्‍थान पर ड्यूटी पर थे। सूचना मिलते ही उन्‍हें वहां से मौके के लिए रवाना किया गया। 

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें