DA Image
31 अक्तूबर, 2020|10:45|IST

अगली स्टोरी

शहीद सीओ का SSP को लिखा पत्र वायरल, कहा था- विकास दुबे बड़ी वारदात को दे सकता है अंजाम

vikas dubey and devendra mishra

कानपुर के बिकरू कांड में शहीद हुए सीओ बिल्हौर देवेंद्र मिश्र ने कुख्यात विकास दुबे द्वारा किसी बड़ी वारदात को अंजाम देने की आशंका जताई थी, जो सच साबित हुई। उन्होंने एसओ चौबेपुर की भूमिका व निष्ठा पर भी सवाल उठाए थे। सोशल मीडिया पर वायरल हो रहे सीओ देवेंद्र मिश्र के तत्कालीन एसएसपी अनंत देव तिवारी को लिखे इस पत्र ने पुलिस महकमे में हलचल बढ़ा दी है। शहीद सीओ के परिजनों से मिलने पहुंचे आप नेता संजय सिंह को भी परिजनों की ओर से यह पत्र सौंपा गया है। इस पत्र को लेकर अधिकारी जांच की बात कर रहे हैं।

सोशल मीडिया पर वायरल रिपोर्ट के मुताबिक देवेंद्र मिश्र ने 14 मार्च को चौबेपुर थाने का निरीक्षण किया था। उन्हें पता चला कि 13 मार्च को विकास के खिलाफ वसूली के लिए धमकी, बलवा, मारपीट, जान से मारने की धमकी के तहत एफआईआर दर्ज हुई थी। जांच दरोगा अजहर इशरत को सौंपी गई। अगले ही दिन अजहर ने जान से मारने की धमकी देने की धारा 386 हटा दी। सीओ ने इसका कारण पूछा तो अजहर ने बताया कि थानेदार के कहने पर धारा हटाई गई। इस पर तत्काल सीओ ने थानेदार विनय तिवारी के खिलाफ एसएसपी को रिपोर्ट भेजी। इसमें लिखा कि एक दबंग कुख्यात अपराधी के विरुद्ध थानाध्यक्ष द्वारा सहानुभूति रखना व अब तक कार्रवाई न करना सत्यनिष्ठा को संदिग्ध करता है। रिपोर्ट के मुताबिक विनय का विकास दुबे के घर आना-जाना था। यदि थानेदार के खिलाफ कार्रवाई न की गई तो गंभीर घटना हो सकती है।

बेटी ने की उच्चस्तरीय जांच की मांग
शहीद सीओ की बेटी वैष्णवी ने वायरल रिपोर्ट पर कहा कि इस मामले में शासन को उच्चस्तरीय जांच करानी चाहिए। उसने कहा कि पिता के कातिलों को ऐसे नहीं जाने दिया जा सकता। उनके खिलाफ कड़ी से कड़ी कार्रवाई होनी चाहिए। वह सरकार से जांच कर दोषियों को कड़ी सजा दिलाने की मांग करती है।

क्या बोले अधिकारी
वायरल रिपोर्ट के बारे में बिल्हौर सीओ ऑफिस, एसपी ग्रामीण दफ्तर, एसएसपी के स्टाफ और दंड बाबू के ऑफिस में रिसीविंग और डिस्पैच रजिस्टर चेक कराया गया है। फिलहाल 14 मार्च की कोई रिपोर्ट या पत्र की रिसीविंग नहीं मिली है। इसके बावजूद जांच जारी है। यदि इसमें कोई तथ्य निकलता है तो उसी के अनुसार कार्रवाई की जाएगी। - दिनेश कुमार पी, एसएसपी

मीडिया के माध्यम से जानकारी मिली थी। तत्कालीन सीओ ने एसओ के लिए रिपोर्ट दी थी। पता लगाया जा रहा कि क्या आरोप और क्या मामला था। इसे सत्यापित किया जा रहा है। जांच रिपोर्ट के आधार पर पुलिस आगे की कार्रवाई करेगी।- मोहित अग्रवाल, आईजी रेंज

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Martyred CO Devendra Mishra Letter Written To SSP About Kanpur Encounter Main Accused Vikas Dubey Gone Viral