ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News उत्तर प्रदेशफेसबुक पर दिखी शादीशुदा दरोगा की रंगीनी, लड़की से फ्रेंडशिप कर बिछाया जाल; 10 महीने तक करता रहा रेप

फेसबुक पर दिखी शादीशुदा दरोगा की रंगीनी, लड़की से फ्रेंडशिप कर बिछाया जाल; 10 महीने तक करता रहा रेप

कानपुर के कोतवाली थाने में तैनात दरोगा ने एक युवती से फेसबुक पर दोस्ती की। उसे अपने प्रेम जाल में फंसाया और फिर उसके साथ रेप किया। दरोगा पहले से शादीशुदा है यह बात उसने पीड़िता से छुपाई।

फेसबुक पर दिखी शादीशुदा दरोगा की रंगीनी, लड़की से फ्रेंडशिप कर बिछाया जाल; 10 महीने तक करता रहा रेप
Ajay Singhप्रमुख संवाददाता,कानपुरFri, 24 May 2024 08:30 AM
ऐप पर पढ़ें

Sub Inspector accused of rape: कानपुर के कोतवाली थाने में तैनात दरोगा ने एक युवती से फेसबुक पर दोस्ती की। उसे अपने प्रेम जाल में फंसाया और फिर उसके साथ रेप किया। दरोगा पहले से शादीशुदा है यह बात भी उसने पीड़िता से छुपाई। पीड़िता ने वरिष्ठ अधिकारियों से शिकायत की। जिसके बाद हरबंशमोहाल थाने में दरोगा समेत दो के खिलाफ एफआईआर दर्ज कर ली गई है।

बिठूर निवासी युवती प्राइवेट नौकरी करती है। उसका आरोप है कि कोतवाली थाने में तैनात दरोगा सचिन कुमार मोरल ने उससे फेसबुक के माध्यम से दोस्ती की। बातचीत कर विश्वास में लिया और शादी का झांसा देकर शारीरिक संबंध बनाए। विरोध किया तो आरोपित ने अपनी मां से भी बात करा दी, उसने भी पीड़िता को घर की बहू बनाने पर सहमति दी। कुछ समय बाद पीड़िता को जानकारी हुई कि सचिन पहले से शादीशुदा है। उसका अपनी पत्नी से मुकदमा चल रहा है। पूछने पर आरोपित मुकर गया और इसके बाद भी दस माह तक शारीरिक शोषण करता रहा। जब पूरी जानकारी कर विरोध किया तो आरोपित ने जान से मारने की धमकी दी। इस दौरान आरोपित ने अभिलाषा तिवारी नाम की महिला से भी फोन पर धमकी दिलाई।

निलंबन होगा कि नहीं इसे लेकर मंथन जारी
एडीसीपी ईस्ट लखन सिंह यादव ने बताया कि मामले में जांच चल रही है। दरोगा की अपनी पत्नी से कुछ विवाद चल रहा है। निलम्बन को लेकर उच्च अधिकारियों के दिशा निर्देश पर आगे की कार्रवाई की जाएगी।

क्‍या बोले अधिकारी 

कानपुर के डीसीपी ईस्‍ट श्रवण कुमार सिंह ने कहा कि दरोगा और एक महिला के खिलाफ दुष्कर्म व धमकी देने की धारा में रिपोर्ट दर्ज की गई है। मामले में जांच की जा रही है। आरोप साबित होने पर दरोगा के खिलाफ कठोर कार्रवाई होगी।