ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News उत्तर प्रदेशसोलह नाती-पोतों वाले 70 साल के बुजुर्ग को महंगी पड़ी शादी, कोर्ट मैरिज के दो साल बाद 50 साल की दुल्हन ने कर दिया खेल

सोलह नाती-पोतों वाले 70 साल के बुजुर्ग को महंगी पड़ी शादी, कोर्ट मैरिज के दो साल बाद 50 साल की दुल्हन ने कर दिया खेल

16 नाती-पोतों वाले 70 वर्षीय बुजुर्ग को शादी की हसरत महंगी पड़ गई। उसकी 50 वर्षीया दुल्हनिया सारी जमा पूंजी लेकर फरार हो गई। अब बुजुर्ग पत्नी के लिए मारा-मारा फिर रहा है।

सोलह नाती-पोतों वाले 70 साल के बुजुर्ग को महंगी पड़ी शादी, कोर्ट मैरिज के दो साल बाद 50 साल की दुल्हन ने कर दिया खेल
Dinesh Rathourहिन्दुस्तान,हसनपुर (अमरोहा)Tue, 21 May 2024 09:48 PM
ऐप पर पढ़ें

16 नाती-पोतों वाले 70 वर्षीय बुजुर्ग को शादी की हसरत महंगी पड़ गई। उसकी 50 वर्षीया दुल्हनिया सारी जमा पूंजी लेकर फरार हो गई। अब बुजुर्ग पत्नी के लिए मारा-मारा फिर रहा है। सीओ कार्यालय में शिकायत करते हुए पत्नी को बरामद करने की गुहार लगाई है। रहरा थाना क्षेत्र के गांव गंगवार निवासी 70 वर्षीय सुबराती की पत्नी की कई वर्ष पहले मौत हो गई थी। सुबराती के परिवार में कई बेटे-बेटी संग 16 नाती-पोते हैं। करीब तीन वर्ष पूर्व सुबराती के दिल में शादी की हसरत जाग गई। सुबराती ने कई लोगों से अपनी शादी कराने के लिए लड़की तलाशने की गुहार लगाई। इस दौरान नजदीकी गांव निवासी युवक ने उसे सैदनगली थाना क्षेत्र के गांव में 50 वर्षीया विधवा महिला के बारे में जानकारी दी।

बताया कि विधवा पर तीन बच्चे हैं और वह शादी के लिए तैयार है। इतना ही नहीं युवक ने सुबराती की मुलाकात उस महिला से करा दी। इसके बाद दोनों में प्यार हो गया। दो वर्ष पूर्व सुबराती ने महिला के संग कोर्ट मैरिज कर ली। दोनों पति-पत्नी के रूप में साथ रहने लगे। सुबराती का कहना है कि महिला ने ताउम्र साथ जीने-मरने की कसम देकर करीब पांच लाख रुपये ले लिए। दो लाख रुपये अपने बेटे की शादी पर भी खर्च करा लिए। महिला की मांग पर सुबराती ने अपनी पहली पत्नी के कीमती जेवर भी उसके हवाले कर दिए। करीब छह माह पहले पत्नी ने अपने गांव जाने की इच्छा जताई। आरोप है कि वह खासा रुपया व जेवर लेकर कोतवाली क्षेत्र के गांव निवासी युवक के संग चंपत हो गई। अब दिल्ली में वह अपनी बेटी के पास रह रही है। मंगलवार को सुबराती सीओ कार्यालय पहुंचा और प्रार्थना पत्र सौंपते हुए गुहार लगाई कि उसकी पत्नी को बरामद कर उसके साथ भेजा जाए। 

सीओ दीप कुमार पंत का कहना है कि मैं दो बजे तक कार्यालय में था। मेरे सामने कोई बुजुर्ग शिकायती पत्र लेकर नहीं पहुंचा था। अगर बुजुर्ग को किसी तरह की परेशानी है तो वह बुधवार को कार्यालय में मुलाकात कर सकते हैं। मामला समझने के बाद विधि सम्मत तरीके से समाधान कराया जाएगा।