DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

गजब! टेंट लगाकर दूरबीन से ईवीएम की निगरानी कर रहे दल

evm monitoring with telescope

ईवीएम में छेड़छाड़ की आशंका के बीच राजनीतिक दल कड़ी चौकसी बरत रहे हैं। मेरठ में स्ट्रांग रूम पर नजर रखने के लिए विपक्षी दलों के समर्थक टेंट लगाकर दिन में सीसीटीवी कैमरों से और रात में दूरबीन से निगेहबानी कर रहे हैं। 

दरअसल, विपक्षी दलों को अंदेशा है कि ऐन वक्त पर ईवीएम में गड़बड़ी हो सकती है। मेरठ में महागठबंधन प्रत्याशी हाजी याकूब कुरैशी के समर्थकों ने स्ट्रांग रूम पर नजर रखने के लिए कताई मिल के गेट पर टेंट लगा रखा है। इसमें दो एलईडी स्क्रीन लगी हैं। दोनों पर स्ट्रांग रूम के बाहर लगे सीसीटीवी कैमरों की लाइव फीड आती है। अगर यह बंद हो जाती है तो समर्थक तत्काल चुनाव अधिकारी से बात करते हैं। मालूम हो कि प्रशासन ने प्रत्याशियों को सीसीटीवी कैमरों की लाइव फीड देखने की अनुमति दे रखी है। स्ट्रांग रूम के आसपास की गतिविधियों पर नजर रखने के लिए वे दूरबीन का सहारा ले रहे हैं। समर्थकों के पास दिन और रात में दोनों तरह के विजन के लिए दूरबीन उपलब्ध हैं। 


तीन पालियों में करते हैं निगेहबानी
रालोद नेता अर्जुन ढिंडाला के मुताबिक, समर्थक तीन पालियों में ड्यूटी दे रहे हैं। रात के लिए विशेष तौर पर 10 लोग रहते हैं। बसपा जिलाध्यक्ष डॉ. सुभाष प्रधान 11 अप्रैल से ही टेंट में डेरा जमाए हैं। यहां खाने-पीने और सोने का इंतजाम है। सपा जिलाध्यक्ष चौधरी राजपाल सिंह भी लगातार डटे हैं।


एसएसपी को रोका: लखनऊ में निरीक्षण करने पहुंचे एसएसपी को सुरक्षा बलों ने स्ट्रांग रूम के बाहर ही रोक दिया। दरअसल, उनका पास गाड़ी में रखा था जो दिख नहीं रहा था। पास दिखाने पर उन्हें जाने दिया गया। 

टेबल पर डटे कार्यकर्ता: देहरादून में कांग्रेस ने पोलिंग एजेंट को हिदायत दी कि वे टेबल छोड़कर न जाएं। छोटी-सी चूक नुकसानदायक होगी। 

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:many party worker keeping eye on EVMs with telescope from their tents in meerut