ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News उत्तर प्रदेशमंदिर के पास जमीन में दबा है अकूत खजाना, एक ट्रक से ज्यादा है सोना-चांदी, यूपी के साधु का बड़ा दावा

मंदिर के पास जमीन में दबा है अकूत खजाना, एक ट्रक से ज्यादा है सोना-चांदी, यूपी के साधु का बड़ा दावा

साधना से खुश होकर देवताओं ने सपने में आकर अकूत खजाने का पता बताया है। ये कहना है कि संभल जिले की गुन्नौर तहसील क्षेत्र में रहने वाले एक साधु का। साधु का दावा है कि सपने में उसके देवत आए थे।

मंदिर के पास जमीन में दबा है अकूत खजाना, एक ट्रक से ज्यादा है सोना-चांदी, यूपी के साधु का बड़ा दावा
Dinesh Rathourहिन्दुस्तान,संभलFri, 21 Jun 2024 06:58 PM
ऐप पर पढ़ें

साधना से खुश होकर देवताओं ने सपने में आकर अकूत खजाने का पता बताया है। ये कहना है कि संभल जिले की गुन्नौर तहसील क्षेत्र में रहने वाले एक साधु का। साधु का दावा है कि सपने में उसके देवत आए थे। देवताओं ने उसे बताया कि मंदिर के पास खाली पड़ी जमीन में अकूत खजाना छिपा है। उसका दावा है कि जमीन के नीचे एक ट्रक से ज्यादा का सोना और चांदी समेत कई चीजें दबी हुई हैं। उसने दिल्ली से मशीन मंगवाकर खजाने की जांच भी कराई है। साधु ने जमीन की खुदाई के लिए एसडीएम को लेटर लिखकर मंदिर के पास वाली जमीन की खुदाई कराए जाने की मांग की है।

मामला गुन्नौर तहसील क्षेत्र के गांव बाघऊ का है। यहां स्थित खेड़ेश्वर मंदिर के पुजारी साधु धर्मदास ने दावा किया है कि मंदिर के पास खाली पड़ी जमीन में अकूत खजाना दबा है। उनका कहना है कि सपने में यह खजाना उन्होंने देखा है। इतना ही नहीं खजाने की खुदाई के लिए जमीन पर हवन और अन्य धार्मिक कर्मकांड पूरे करने का भी साधु ने दावा किया। साधु ने बताया कि सपने में उन्हें जब एक ट्रक से ज्यादा का खजाना दिखाई दिया तो उन्होंने दिल्ली से मशीन मंगाकर इसकी जांच कराई। जांच में भी खजाना होने की पुष्टि हुई है। साधु ने बताया, देवताओं के द्वारा मुझे बताया गया है यहां पर खजाना है। अब केवल खुदाई ही बाकी रह गई है। साधु का दावा है कि उसकी साधना से खुश होकर देवताओं ने उसे खजाने की जगह बताई है।

साधु ने एसडीएम को पत्र भेजकर खजाने वाली जगह की खुदाई कराने की मांग की है। साधु अपने इस दावे पर पूरी तरह से कायम है। हालांकि ग्राम प्रधान पति खजाने की जानकारी से इंकार कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि बुजुर्ग कंकड़ पत्थर निकलने की बात पहले से कहते आए हैं, मगर अभी तक किसी ने खजाना देखा नहीं है। बिना देखे कुछ नहीं कहा जा सकता। मंदिर के पास जमीन में खजाना होने की चर्चा पूरे क्षेत्र में हो रही है। लोग तरह तरह की बाते कर रहे हैं। इस मामले में प्रशासन चुप्पी साधे हुए हैं।

सीएम से मिले, पीएम से लगाएंगे गुहार

पुजारी धर्मदास खजाना खोजने के लिए वह लगातार अधिकारियों से गुहार लगा रहे हैं। यही नहीं वह गोरखपुर में सीएम योगी आदित्यनाथ से भी मिले और प्रधानमंत्री के लिए भी पत्र बना लिया है। इसे वह जल्द पोस्ट करेंगे। करीब एक माह पूर्व दो जेसीबी से संत ने खुदाई भी कराई थी, लेकिन किसी कारणवश बाद में खुदाई रुक गई।

गुरु पूर्णिमा पर खुद जेसीबी से करेंगे खुदाई

पुजारी धर्मदास ने कहा कि मैं अधिकारियों के समक्ष कई लिखित प्रार्थना पत्र दे चुका हूं, लेकिन, मेरी कोई सुनवाई नहीं हो रही है। अगर प्रशासन इस जमीन की खुदाई खजाना खोजने के लिए नहीं करवाता है तो वह गुरु पूर्णिमा के जाप के बाद खुद जेसीबी से खुदाई शुरू करा देंगे। 

नौ स्थानों पर खजाना होने का कर चुके हैं दावा

पुजारी धर्मदास जुनावई थाना क्षेत्र के गांव दबथरा के रहने वाले हैं और वह क्षेत्र में कई मंदिरों पर महंत के रूप में कार्य कर चुके हैं। कई सालों से संत उत्तर प्रदेश में नौ जगहों पर खजाना होने का दावा कर चुके हैं। उन्होंने यह भी कहा कि सारा खजाना सरकार अपने हैंड ओवर कर ले। सिर्फ मंदिरों की जरूरत के लिए कुछ खजाना दे दें। ताकि, वह मंदिर में जरूरी कार्य को पूरा करा सकें।