DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

बकरीद पर कुर्बानी नहीं दे सका तो थाने में बांधा ऊंट, जानें क्या है पूरा मामला

मेरठ कोतवाली थाने में मंगलवार को एक व्यक्ति ऊंट लेकर पहुंचा। उसने कोतवाली के बाहर ऊंट बांध दिया। पुलिस से बोला- प्रतिबंध होने की वजह से ऊंट की कुरबानी नहीं दे सका। वह ऊंट की देखभाल करने में सक्षम नहीं है। इसलिए पुलिस ही इस ऊंट की देखरेख करे। पिछले 24 घंटे से पुलिस इस ऊंट की सेवा-पानी कर रही है।

सएसपी अजय साहनी ने बकरीद पर ऊंट की कुर्बानी पर प्रतिबंध लगा दिया। उन्होंने सुप्रीम कोर्ट और हाईकोर्ट के आदेश का हवाला दिया। पुलिस ने सख्ती कर कुर्बानी के लिए आए 22 ऊंट पकड़े और राजस्थान के संरक्षण केंद्र भिजवा दिया। पुलिस की सख्ती का नतीजा यह रहा कि मेरठ के इतिहास में पहली बार बकरीद पर ऊंट की कुरबानी नहीं हो पाई।

सीओ दिनेश शुक्ला ने बताया कि मंगलवार को बनीसराय का निजामुद्दीन शहर कोतवाली पर अपना ऊंट लेकर पहुंचा। निजामुद्दीन ने पुलिस को बताया कि हाईकोर्ट के आदेशानुसार प्रतिबंध होने की वजह से वह ऊंट की कुरबानी नहीं कर सका। अब ऊंट को वापस राजस्थान भी नहीं छुड़वा सकता। विक्रेता ने ऊंट वापस लेने से मना कर दिया है। वह खुद भी ऊंट की देखभाल नहीं कर सकता। इसलिए पुलिस ही इस ऊंट की देखरेख करे। एक पत्र पर लिखकर निजामुद्दीन ऊंट को कोतवाली पर बांधकर चला गया। सीओ ने बताया कि पुलिस ऊंट की देखरेख कर रही है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:man tied camel in Police station because he could not sacrifice it on Bakrid Know what is the whole matter