अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

पहले रेप, फिर निकाह कर दिया तीन तलाक, हलाला के बाद भी पत्नी को ठुकराया

उत्तर प्रदेश के रामपुर गांव की लड़की की जिंदगी किश्तों में बर्बादी के कगार पर पहुंच गई है। गांव के ही एक युवक ने शादी का झांसा देकर पहले दुष्कर्म किया बाद में जेल जाने के डर से निकाह कर लिया। बात यहीं तक नहीं रुकी। कुछ ही दिन में युवक ने उसे तीन तलाक दे दिया। पंचायत के बीच मामला पहुंचा तो दोबारा निकाह के लिए युवती के जेठ से हलाला भी हो गया। हलाला के बाद भी युवक ने दोबारा निकाह से इनकार कर दिया। पीड़िता ने एसपी से मिलकर न्याय की गुहार लगाई है। इस बीच पति और जेठ दोनों फरार हैं।
 
कोतवाली क्षेत्र अंतर्गत एक गांव की युवती का पड़ोस के ही एक युवक से प्रेम प्रसंग चल रहा था। युवक ने शादी का झांसा देकर उसके साथ दुष्कर्म किया जब मामला उजागर हुआ तब मामले की रिपोर्ट दर्ज कराने की बात आई। लेकिन पंचायत ने गांव की बदनामी न हो इसके चलते युवती का निकाह आरोपी युवक से करा दिया गया। निकाह इसी साल फरवरी में हुआ था। बताते हैं कि जेल जाने के भय से निकाह तो हो गया लेकिन युवक और उसके परिजन इस निकाह से खुश नहीं थे। 

लगभग ढाई महीने बाद ही मई में युवक ने उसे तलाक दे दिया गया लेकिन युवती ने अपनी ससुराल नहीं छोड़ा और वह वहीं रहती रही। हालांकि उसका पति घर छोड़ कर दूसरे प्रदेश में कारोबार करने चला गया। विवाहिता का आरोप है कि उसके जेठ ने आश्वस्त किया कि वह अपने भाई से दोबारा निकाह करा देगा। यह आश्वासन देकर उसे जिला मुख्यालय ले गया जहां तलाक के कागजात तैयार करा लिए। विवाहिता का यह भी आरोप है कि उसका गर्भपात करा दिया गया।

मामला जब ज्यादा ही बढ़ा तो मायके के लोगों के अलावा ग्रामीणों ने इस मामले में हस्तक्षेप किया। इसके चलते एक बार फिर ससुराल वाले दबाव में आए और उन्होंने बेटे से दोबारा निकाह कराने की हामी भर ली लेकिन निकाह से पहले जेठ से हलाला करने को कहा। आरोप है कि उसका जबरन हलाला करा दिया गया। इसके बावजूद युवक उसके साथ दोबारा निकाह करने से मुकर गया है। मुकरने के बाद युवक और जेठ दोनों ही घर से फरार हो गए। पीड़िता अपने परिजन के साथ पुलिस अधीक्षक से मिली और ससुरालियों के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज कराने की गुहार लगाई। पुलिस अधीक्षक से की गई शिकायत में कई महिलाएं भी आरोपी बनाई गई हैं। 

शिकायत मिली तो कार्रवाई होगी: कोतवाल
प्रभारी निरीक्षक राजेश कुमार तिवारी का कहना है कि इस मामले की उन्हें कोई तहरीर प्राप्त नहीं हुई है। यदि कोई प्रार्थना पत्र मिलता है तो जांच कराके उचित कार्रवाई की जाएगी।

राज्यसभा में नहीं पेश हुआ तीन तलाक बिल, अगले सत्र तक के लिए टला

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Man Rape with Girl and after Nikah give her triple Talaq Brother in Law did Halala