DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

लोकसभा चुनावः कानपुर लोस क्षेत्र में एनआरआई कई, मतदाता कोई नहीं,अकबरपुर में मिला एक मतदाता

आजादी के बाद 70 साल में पहली बार कानपुर में दो एनआरआई वोट डालेंगे। हालांकि, ये दोनों ही अकबरपुर लोकसभा क्षेत्र का सांसद चुनेंगे। दोनों ही एनआरआई मतदाता कल्याणपुर विधानसभा क्षेत्र के निवासी हैं। हकीकत में कानपुर के दस विधानसभा क्षेत्रों में सैकड़ों एनआरआई रहते हैं। इनमें करीब 65 एनआरआई का डाटा जिला प्रशासन के रिकॉर्ड में भी दर्ज है। इसके बावजूद एनआरआई वोटर नहीं हैं।
2014 में कानपुर लोकसभा क्षेत्र के 51.83 फीसदी मतदाताओं ने मताधिकार का प्रयोग किया था। चुनाव आयोग के आंकड़ों के अनुसार मतदान करने वालों में थर्ड जेंडर भी शामिल थे, लेकिन एक भी एनआरआई ने वोट नहीं दिया था। यही हाल अकबरपुर लोकसभा क्षेत्र का भी था। 2017 में हुए विधानसभा चुनाव में भी कानपुर नगर के सभी दस विधानसभा क्षेत्रों में किसी एनआरआई मतदाता ने पहचान पत्र तक नहीं बनवाया। करीब 70 साल बाद 2018 में मतदाता पुनरीक्षण अभियान के दौरान कल्याणपुर क्षेत्र में रहने वाले दो एनआरआई ने मतदाता पहचान पत्र के लिए आवेदन किया था। इन दोनों ही मतदाताओं का पहचानपत्र बनकर आ गया है। इस बार ये मतदान करेंगे। बताते चलें कि गोविंद नगर, सीसामऊ, आर्य नगर, किदवई नगर, छावनी विधानसभा क्षेत्र में कई एनआरआई हैं। 
कानपुर नगर लोकसभा क्षेत्र
गोविंद नगर, सीसामऊ, आर्य नगर, किदवई नगर, छावनी
अकबरपुर लोकसभा क्षेत्र
बिठूर, कल्याणपुर, महाराजपुर, घाटमपुर, अकबरपुर रनियां
 

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Lok Sabha elections: NRIs no voters in Kanpur