ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News उत्तर प्रदेशसीएम योगी की आज हाईकमान के साथ अहम मीटिंग, जातीय जनगणना की काट क्या?

सीएम योगी की आज हाईकमान के साथ अहम मीटिंग, जातीय जनगणना की काट क्या?

सीएम योगी की आज हाईकमान के साथ अहम मीटिंग है। भाजपा प्रदेश में पिछड़ों को साधने के लिए गुरुवार को रणनीति तय करेगी। नई दिल्ली में होने वाली बैठक में इस मुद्दे पर आगामी रूपरेखा तय होगी।

सीएम योगी की आज हाईकमान के साथ अहम मीटिंग, जातीय जनगणना की काट क्या?
Deep Pandeyहिन्दुस्तान,लखनऊThu, 02 Nov 2023 06:02 AM
ऐप पर पढ़ें

भाजपा विपक्ष के जातीय जनगणना के दांव की काट खोजने में जुट गई है। गुरुवार को दिल्ली में इसे लेकर एक महत्वपूर्ण बैठक बुलाई गई है। इस बैठक में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के साथ ही प्रदेश के सभी प्रमुख पिछड़े नेताओं को बुलाया गया है। इस बैठक के चलते गुरुवार को लखनऊ में होने वाले अवध क्षेत्र के अनुसूचित सम्मेलन को स्थगित कर दिया गया है।

भाजपा प्रदेश में पिछड़ों को साधने के लिए गुरुवार को रणनीति तय करेगी। नई दिल्ली में होने वाली बैठक में इस मुद्दे पर आगामी रूपरेखा तय होगी। दरअसल, 2014 और 2019 के लोकसभा चुनाव में भाजपा सरकार बनवाने में पिछड़े वोट बैंक की प्रमुख भूमिका रही है। पार्टी इस बार भी पिछड़ों को साधने में कोई चूक नहीं करना चाहती। पार्टी का यूपी में मिशन 80 भी तभी परवान चढ़ सकता है। इसी के मद्देनजर गुरुवार को दोपहर 3.30 बजे से यह महत्वपूर्ण बैठक पार्टी के राष्ट्रीय कार्यालय में बुलाई गई है। हालांकि इसका स्थान बदल भी सकता है। बैठक में केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह, भाजपा अध्यक्ष जेपी नड्डा सहित कुछ और लोग मौजूद रहेंगे।

यूपी से इस बैठक में सीएम योगी के अलावा प्रदेश भाजपा अध्यक्ष भूपेंद्र सिंह चौधरी, उपमुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य, जलशक्ति मंत्री स्वतंत्रदेव सिंह, केंद्रीय मंत्री बीएल वर्मा और साध्वी निरंजन ज्योति, राज्यसभा सांसद सुरेंद्र नागर, संगम लाल गुप्ता को बुलाया गया है।

दलित सम्मेलन किया स्थगित
भाजपा यूपी में दलितों को साधने के लिए क्षेत्रवार अनुसूचित सम्मेलन कर रही है। दो नवंबर को लखनऊ के स्मृति उपवन में होने वाले अनुसूचित सम्मेलन को बहुत बड़े पैमाने पर करने की पार्टी की योजना थी। इसके लिए प्रदेश सरकार के मंत्री असीम अरुण, राज्यसभा सांसद ब्रजलाल, पूर्व सांसद जुगल किशोर सहित अन्य दलित चेहरे जुटे थे। विधानसभा वार भीड़ लाने को लक्ष्य तय करने के साथ ही बड़े पैमाने पर बसों और अन्य वाहनों की व्यवस्था की गई थी। इस कार्यक्रम में मुख्य अतिथि के रूप में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को रहना था। मगर सीएम और प्रदेश भाजपा अध्यक्ष के गुरुवार को दिल्ली की बैठक में रहने के चलते इस सम्मेलन को स्थगित किया गया है।