DA Image
24 जनवरी, 2021|10:00|IST

अगली स्टोरी

यूपी के गढ़मुक्तेश्वर गंगा मेला क्षेत्र में छह दिन तक पूर्ण प्रतिबंध, जानें किसको और क्यों मिलेगी छूट

lockdown announced for up hapur district to six days from  25th to 30th november only vehicles comin

शासन द्वारा गंगा स्नान मेला स्थगित करने के बाद स्थानीय जिला प्रशासन ने गढ़ गंगा मेला क्षेत्र में 25 से 30 नवंबर तक पूर्ण प्रतिबंध लगा दिया है। इस दौरान 11 किमी मेला क्षेत्र में कोई भी दुकान और बाजार या पड़ाव नहीं लगेगा, न ही श्रद्धालुओं के वाहनों को आने दिया जाएगा। श्रद्धालुओं को रोकने के लिए जिले की सीमा पर बेरिकेडिंग की जा रही है। इसके अलावा, चेकिंग के बाद ही वाहन आगे जाने दिए जाएंगे। 

प्रति वर्ष गंगा किनारे खादर क्षेत्र में आयोजित होने वाले कार्तिक पूर्णिमा गंगा स्नान मेला को कोरोना के चलते इस बार शासन ने स्थगित कर दिया है। जिसके बाद जिला पुलिस तथा प्रशासन को श्रद्धालु रोकने एक चुनौती होगा। श्रद्धालुओं को रोकने के लिए जिला प्रशासन ने 25 से 30 नवंबर तक मेला क्षेत्र को पूरी तरह प्रतिबंध कर दिया है। यानि कि मेला क्षेत्र में कोई भी वाहन नहीं जाएगा। इसके अलावा इस खादर मेला क्षेत्र में 25 से 30 नवंबर तक कोई भी अस्थाई दुकान, बाजार तथा पड़ाव नहीं डाला जाएगा। एडीएम का कहना है कि मेला क्षेत्र को पूरी तरह प्रतिबंध कर दिया गया है। जिसमें किसी भी श्रद्धालु के वाहन की एंट्री, कोई भी दुकान तथा बाजार न खोले जाने तथा कोई भी अस्थाई पड़ाव नहीं डाला जाएगा।

जिले की सीमा पर चेकिंग 
एएसपी सर्वेश मिश्रा और एडीएम जयनाथ यादव ने बताया कि मेला स्थगित होने के बाद श्रद्धालुओं को रोकने के लिए मेरठ, बुलंदशहर, गाजियाबाद, नोएडा, अमरोहा से जुड़ी सीमा पर भी चेकिंग की जाएगी। जबकि, गढ़ क्षेत्र में चारों ओर बेरिकेडिंग की जा रही है। गढ़ मुक्तेश्वर में आने वाले वाहनों की सघन चेकिंग होगी। जिसमें श्रद्धालुओं के वाहनों को वापस भेजा जाएगा। इसको लेकर पुलिस बल लगाया जा रहा है। जबकि, बेरिकेडिंग कर दी गई है।

शादी के वाहन निकल सकेंगे
एडीएम जयनाथ यादव ने बताया कि प्रतिबंध की अवधि में होने वाली गढ़ क्षेत्र में शादी की बस तथा वाहनों को नहीं रोका जाएगा। शादी वाले वाहन अपना कार्ड दिखाकर आराम से आ जा सकेंगे।

गढ़ का बाजार नहीं होगा बंद
एडीएम जयनाथ यादव ने बताया कि मेला क्षेत्र खादर का प्रतिबंध किया गया है। गढ़ तथा आसपास में प्रचार कराया जा रहा है। इसके अलावा रुटीन का बाजार तथा अन्य स्कूल आदि सब खुलेंगे।

अन्य जिलों के लिए पत्राचार
एएसपी सर्वेश मिश्रा ने बताया कि आसपास के जिले समेत वेस्ट यूपी के जिलों के अधिकारियों को पत्राचार किया जा रहा है। गंगा स्नान मेला पर आने वाले श्रद्धालुओं को वहीं पर रोके जाने तथा इसका अपने जिले में प्रचार कराए जाने के लिए लिखा जा रहा है।

100 पुलिसकर्मी अतिरिक्त दिए
एएसपी सर्वेश मिश्रा ने बताया कि मेला पर आने वाले वाहनों को रोकने के लिए गढ़ के सीमा क्षेत्र पर बेरिकेडिंग करा दी गई है। उन्होंने बताया कि इसके लिए फिलहाल 100 अतिरिक्त पुलिसकर्मी गढ़ में दे दिए गए है।

श्रद्धालुओं को रोकने को मांगा पुलिस बल
एएसपी सर्वेश मिश्रा ने बताया कि खादर मेला क्षेत्र पूरी तरह प्रतिबंध कर दिया गया है। गढ़ क्षेत्र में श्रद्धालुओं को रोकने के लिए वेस्ट यूपी के जिलों से पुलिस बल तथा पीएसी मांगने को आईजी मेरठ को मांग पत्र भेज दिया गया है। उन्होंने बताया कि 25 से 30 नवंबर को बाहर से आया पुलिस बल गढ़ में लगा दिया जाएगा। जिस कारण मेला क्षेत्र में कोई भी वाहन तथा श्रद्धालु नहीं जा पाए।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Full ban in UP hapur district Garhmukteshwar Ganga Mela area for six days to six days from 25th to 30th November only vehicles coming for marriage will get exemption