ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News उत्तर प्रदेशयूपी के इस शहर में दौड़ेगी लाइट मेट्रो, अफसरों के प्रजेंटेशन पर सीएम योगी ने लगाई मुहर 

यूपी के इस शहर में दौड़ेगी लाइट मेट्रो, अफसरों के प्रजेंटेशन पर सीएम योगी ने लगाई मुहर 

बरेली विकास प्राधिकरण (बीडीए) की महायोजना-2031 को मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने रजामंदी दे दी है। नाथ नगरी को नए सिरे से विकसित करने की रूपरेखा तैयार की जा रही है। नेशनल कैपिटल रीजन (एनसीआर)...

यूपी के इस शहर में दौड़ेगी लाइट मेट्रो, अफसरों के प्रजेंटेशन पर सीएम योगी ने लगाई मुहर 
Dinesh Rathourकार्यालय संवाददाता,बरेली Sat, 24 Feb 2024 10:22 PM
ऐप पर पढ़ें

बरेली विकास प्राधिकरण (बीडीए) की महायोजना-2031 को मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने रजामंदी दे दी है। नाथ नगरी को नए सिरे से विकसित करने की रूपरेखा तैयार की जा रही है। नेशनल कैपिटल रीजन (एनसीआर) की तर्ज पर प्राधिकरण अपने क्षेत्र को विकसित करेगा। लाइट मेट्रो के संचालन की भी उम्मीद बढ़ गई है। महायोजना-2031 के तहत शहर में जल्द ही लाइट मेट्रो दौड़ाई जाएगी। शनिवार को लखनऊ में बरेली महायोजना का प्रारूप का सीएम के सामने प्रस्तुतीकरण किया गया। मुख्यमंत्री योगी ने बीडीए उपाध्यक्ष को इस कार्ययोजना को तैयार करने के दिशा निर्देश दिए हैं। 

बरेली महायोजना 2031 को लेकर बरेली विकास प्राधिकरण की तरफ से किया जा रहा प्रयास रंग ला चुका है। लंबे वक्त के बाद बरेली महायोजना 2031 को मंजूरी मिली है। बीडीए उपाध्यक्ष मानिकंदन ए ने महायोजना के प्रारूप का मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के सामने प्रस्तुतीकरण किया। उन्होंने एक-एक बिंदु पर विस्तार से चर्चा करते हुए बताया कि शहर के विकास के लिए किस तरह के प्रावधान अलग-अलग क्षेत्रों में किए गए हैं। उन्होंने कहा कि आने वाली विकास योजनाओं, आधारभूत संरचना को ध्यान में रखकर महायोजना तैयार की गई है। उपाध्यक्ष ने महायोजना में निर्धारित भू-उपयोगों को मानचित्र के माध्यम से समझाया। उपाध्यक्ष ने बताया कि हमने प्रजेंटाश्न के दौरान बताया कि स्थापना के बाद से अब तक बीडीए का क्षेत्र कई गुना बढ़ चुका है। 

रफ्तार पकड़ेगी लाइट मेट्रो की योजना

बरेली को लाइट मेट्रो के संचालन को पहले ही मंजूरी मिल चुकी है। इसलिए महायोजना-2031 को भी उसी के अनुसार तैयार किया गया है। वर्तमान महायोजना में रखा है। जल्द ही इस प्रोजेक्ट को धरातल पर उतारने की कार्ययोजना की अनुमति शासन से मिलेगी। विनियमितीकरण के रूप में प्रस्तावित महानगर की कई कॉलोनियों में आवासीय भू उपयोग प्रस्तावित किया जा रहा है। इससे करीब 5 लाख की जनसंख्या को लाभ होगा। शहर में भू उपयोगों के अंतर्गत वर्तमान में कई तरह के विकास हो गए हैं। इन विकास कार्यों के अनुरूप महायोजना में प्रस्ताव दिया गया है।

जलभराव की समस्या के निदान के लिए बीडीए द्वारा तैयार ड्रेनेज प्लान को महायोजना में समावेशित किया गया है। लाइट मेट्रो ट्रांजिट कारीडोर यानी मेट्रो रूट पर बाजार मार्ग होगा। यहां व्यावसायिक गतिविधियां हो सकेंगी। बीडीए उपाध्यक्ष मानिकंदन ए ने बताया, कई गांवों तक बीडीए विकास कराएगा। सड़कें बनेंगी। जल निकासी के इंतजाम होंगे। क्षेत्र में अगर कोई नया मकान बनाना चाहता है तो उसे प्राधिकरण से नक्शा पास कराना पड़ेगा। तमाम योजनाओं को लाभ मिलेगा। 

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें