DA Image
23 मई, 2020|11:14|IST

अगली स्टोरी

लवीश हत्याकाण्ड के वादी की गैंगवार में हत्या, आरोपी भी घायल

murder

मोहनलालगंज में बागपत निवासी लवीश चौधरी उर्फ जॉनी की सिर काटकर की गई हत्या की रंजिश में शुक्रवार देर रात मृतक और आरोपी पक्ष के बीच मुजफ्फरनगर में गैंगवार हो गई। बुढ़ाना थानाक्षेत्र के मिडकाली जंगल में हुई इस गैंगवार में दोनों तरफ से ताबड़तोड़ गोलियां चलीं, जिसमें लवीश के फुफेरे भाई प्रशांत की मौत हो गई। जबकि, लवीश हत्याकाण्ड का आरोपी सौरभ उर्फ गोटी घायल हो गया। घटना की सूचना पर पहुंची पुलिस ने सौरभ को मेरठ मेडिकल कॉलेज में भर्ती कराया है। लखनऊ पुलिस की टीम उससे पूछताछ करने के लिए रवाना हो गई है। 

देर रात सूचना मिलते ही बुढ़ाना सीओ गिरजा शंकर त्रिपाठी व कोतवाली प्रभारी कुशलपाल सिंह मिडकाली के जंगल में पहुंचे। वहां एक खेत मे बागपत के वाजिदपुर गांव निवासी प्रशांत का शव पड़ा था। वहीं, कुछ दूरी पर एक ट्यूबवेल के पास बुढ़ाना के इटावा गांव निवासी सौरभ उर्फ गोटी घायल अवस्था में पड़ा मिला।

गौरतलब है कि 16 मई को मोहनलालगंज के खुजौली गांव में प्रदीप चौधरी के फार्म हाउस में लवीश की सिर काटकर हत्या कर दी गई थी। इस मामले में लवीश के फुफेरे भाई प्रशांत की ओर से सौरभ व अनिल उर्फ धनपत के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज कराई गई थी। एसीपी मोहनलालगंज संजीव कुमार सिन्हा ने बताया कि सौरभ से पूछताछ करने के लिए टीम मेरठ भेजी गई है। इसी के साथ लवीश हत्याकाण्ड के दूसरे आरोपी अनिल की तलाश तेज कर दी गई है।  

पिता ने कहा.. फैसले के लिए बुलाया था 

प्रशांत के पिता सतीश ने बुढ़ाना कोतवाली में रिपोर्ट दर्ज कराते हुए बताया कि उसके साले का बेटा लवीश लखनऊ में  प्रदीप चौधरी के फार्म हाउस पर गया हुआ था। फार्म हाउस मालिक के ड्राइवर अनिल और सौरभ ने मिलकर लवीश की हत्या कर दी थी। उनके बेटे प्रशांत ने दोनों के खिलाफ मोहनलालगंज कोतवाली में रिपोर्ट दर्ज करवाई थी। घरवालों के मुताबिक हत्यारोपी सौरभ व अनिल तभी से प्रशांत पर समझौते के लिए दबाव बना रहे थे।

इसी क्रम में आरोपियों ने प्रशांत को फैसले के लिए मिडकाली के जंगल में बुलाया था और वहां उसकी हत्या कर दी। प्रशांत के घरवालों का कहना है कि फायरिंग के दौरान सौरभ अपने ही साथियों की गोली से घायल हुआ है। वहीं, स्थानीय लोगों का दावा है कि दोनों ओर से गोलियां चली थीं। पुलिस को मौके से कारतूस के खोखे मिले हैं। 

शार्प शूटर है घायल सौरभ 

पुलिस के अनुसार गैंगवार में घायल हुआ सौरभ शार्प शूटर है। वह बुढ़ाना पुलिस का वांछित भी है। 15 दिसम्बर 2019 को उसने बुढ़ाना के गांव इटावा निवासी विजय राठी उर्फ उत्थान की हत्या कर दी थी। उसके मकान पर कुर्की वारंट भी चस्पा हो चुके हैं। गिरफ्तारी से बचने के लिए वह लखनऊ में रह रहा था। वहां लवीश की हत्या में नाम सामने आने के बाद वह भागकर वापस आया था।