ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News उत्तर प्रदेशदिल्ली-हरिद्वार नेशनल हाईवे पर आज ट्रैक्टरों के साथ किसानों का बड़ा जमावड़ा, यात्रा से बचने की सलाह

दिल्ली-हरिद्वार नेशनल हाईवे पर आज ट्रैक्टरों के साथ किसानों का बड़ा जमावड़ा, यात्रा से बचने की सलाह

दिल्ली-हरिद्वार नेशनल हाईवे पर कल किसानों का बड़ा जमावड़ा होने जा रहा है। दो दर्जन स्थानों पर ट्रैक्टर खड़ा कर डब्लूटीओ का पुतला दहन करेंगे। सुबह 11 बजे दिल्ली की तरफ मुंह करके ट्रैक्टर खड़ा करेंगे।

दिल्ली-हरिद्वार नेशनल हाईवे पर आज ट्रैक्टरों के साथ किसानों का बड़ा जमावड़ा, यात्रा से बचने की सलाह
Yogesh Yadavहिन्दुस्तान,मेरठMon, 26 Feb 2024 12:02 AM
ऐप पर पढ़ें

दिल्ली-हरिद्वार नेशनल हाइवे-58 पर दिल्ली की ओर जाने वाले लोग सोमवार को अपनी यात्रा को स्थगित रखें तो ज्यादा अच्छा रहेगा। किसान आंदोलन के समर्थन और विश्व व्यापार संगठन के विरोध में संयुक्त किसान मोर्चा सोमवार को हाइवे पर ट्रैक्टरों के साथ प्रदर्शन करेगा। पूरे हाइवे पर ट्रैक्टरों की शृंखला दिल्ली की तरफ मुंह कर खड़ी की जाएंगी। उत्तराखंड के भूरा खेड़ी चेकपोस्ट से लेकर यूपी-दिल्ली बॉर्डर गाजीपुर तक किसान अपने ट्रैक्टरों को लेकर हाइवे पर खड़े रहेंगे। भाकियू ने हरिद्वार से गाजीपुर बार्डर तक ट्रैक्टर मार्च की तैयारी की है। भाकियू ने प्रदर्शन को शांतिपूर्वक करने की बात कहते हुए हाइवे पर किसी तरह की आवाजाही को बाधित नहीं करने की बात कही है। हालांकि अति उत्साह के चलते किसान एक तरफ के हाइवे को बाधित कर सकते हैं। पुलिस प्रशासन भी अलर्ट है ताकि लोगों को आवागमन में परेशानी न हो। 

गुरुवार को चंडीगढ़ में हुई बैठक में लिए गए निर्णय के अनुसार संयुक्त किसान मोर्चा ने 26 फरवरी को ट्रैक्टर मार्च का ऐलान किया था। देशभर में ट्रैक्टर श्रृंखला बनाकर प्रदर्शन जाएगा। जनपद से दिल्ली को जोड़ने वाला हाईवे पर ट्रैक्टर मार्च निकाला जाएगा। हाईवे के दूसरी ओर की रोड को बाधित नहीं किया जाएगा। राकेश टिकैत ने कहा इस प्रदर्शन से आम आदमी को आने-जाने में कठिनाइयों का सामना नहीं करना पड़ेगा। उनके लिए हाईवे की एक लेन सुचारू रूप से चलती रहेगी।  

चार घंटे हाइवे पर रहेंगे किसान 
भारतीय किसान यूनियन युवा के राष्ट्रीय अध्यक्ष गौरव टिकैत ने बताया कि दिल्ली-हरिद्वार हाइवे चार घंटे तक किसानों के हवाले रहेगा। दिल्ली की तरफ जाने वाली लाइन पर सुबह 11 बजे से शाम 3 बजे तक किसान अपने ट्रैक्टरों की शृंखला बनाकर खड़े रहेंगे। उत्तराखंड के भूराखेड़ी चेकपोस्ट से ट्रैक्टरों की लाइन की शुरुआत होगी जो यूपी-दिल्ली के गाजीपुर बॉर्डर तक मिलेगी। जिलाध्यक्षों के साथ ब्लॉक अध्यक्षों को इसकी जिम्मेदारी दी गई है। सभी ब्लॉक अध्यक्ष अपने क्षेत्र से निकल रहे हाइवे पर ट्रैक्टरों की लाइन लगाएंगे। 

ये रहेंगे मुख्य प्वाइंट 
उत्तराखंड का भूराहेड़ी चेकपोस्ट, पुरकाजी, सदर, मोरना, शाहपुर, मोरना, खतौली, सकौती, दौराला, जिटौली, कैलाशी अस्पताल, डुंगरावली, परतापुर, मोहिउद्दीनपुर, मोदीनगर, मुरादनगर, गाजियाबाद, ग्रेटर नोएडा, नोएडा, गाजिपुर। 

सरकार को देंगे संदेश, किसान दिल्ली के लिए तैयार : राकेश टिकैत 
भारतीय किसान यूनियन के राष्ट्रीय प्रवक्ता राकेश टिकैत ने बताया कि 26 फरवरी को होने वाला ट्रैक्टर मार्च एमएसपी की मांग के लिए किसान आंदोलन के समर्थन के लिए किया जा रहा है। इसमें हाइवे पर ट्रैक्टरों का मुंह दिल्ली की तरफ कर खड़ा किया जाएगा ताकि सरकार को संदेश दिया जा सके कि किसान दिल्ली के लिए तैयार खड़े हैं। ये अपने आप में अनोखा प्रदर्शन होगा जिसमें उत्तराखंड से लेकर दिल्ली बॉर्डर तक किसानों के ट्रैक्टरों की लंबी शृंखला देखने को मिलेगी।

नरेश टिकैत और गौरव टिकैत भी रहेंगे प्रदर्शन में शामिल 
ट्रैक्टर मार्च में भाकियू के राष्ट्रीय अध्यक्ष नरेश टिकैत व युवा भाकियू नेता गौरव टिकैत ट्रैक्टर श्रृंखला के दौरान जनपद में हाईवे पर किसानों के साथ मौजूद रहेंगे। सम्पर्क मार्गो से होते हुए किसानों के ट्रैक्टर हाईवे पर पहुंचकर ट्रैक्टर श्रंखला बनाएंगे।  

मार्च के दौरान पुलिस रहेगी अलर्ट
सोमवार को हाईवे पर होने वाले भाकियू के ट्रैक्टर मार्च को लेकर पुलिस ने अपनी तैयारियां पुरी कर ली है। शहर से लेकर देहात क्षेत्र में पुलिस सभी मुख्य चौराहों व सम्पर्क मार्गों पर तैनात रहेगी। शहर में शिवचौक, मीनाक्षी चौक समेत अन्य चौराहों पर पुलिस को तैनात किया जाएगा। एसएसपी अभिषेक सिंह ने बताया कि ट्रैक्टर मार्च हाईवे पर एक लेन में चलेंगे। ऐसे में दूसरी लेन में हाईवे पर ट्रैफिक को निकाला जाएगा। हाईवे व सम्पर्क मार्गो पर जाम व किसी तरह का टकराव न हो। इसके लिए पुलिस को सतर्कता बरतने के निर्देश दिए गए हैं।

किसान आंदोलन में हिंसा सही नहीं :  नरेश टिकैत
भारतीय किसान यूनियन के राष्ट्रीय अध्यक्ष नरेश टिकैत ने छपरौली में कहा कि किसान आंदोलन में हिंसा होना सही बात नहीं है। हथियारों के साथ सरकार से मुकाबला नहीं किया जा सकता। उनका ट्रैक्टर काफिला भी आन्दोलन में शामिल होगा, लेकिन दिल्ली में नहीं घुसेगा । वे रमाला के जय पार्वती ग्लोबल स्कूल के वार्षिकोत्सव पर पहुँचे थे। उन्होंने कहा कि भाकियू चोरी छिपे ट्रैक्टरों के काफिले के साथ दिल्ली में नहीं घुसेगी। यदि जायंगे, तो ऐलान करके जायंगे।

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें