ट्रेंडिंग न्यूज़

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

हिंदी न्यूज़ उत्तर प्रदेशबाहुबली विधायक विजय मिश्रा के कब्जे से मुक्त जमीन पुलिस को सौंपी, बनेगा पर्यटक थाना

बाहुबली विधायक विजय मिश्रा के कब्जे से मुक्त जमीन पुलिस को सौंपी, बनेगा पर्यटक थाना

भदोही में बाहुबली विधायक विजय मिश्रा के कब्जे से सरकारी जमीन मुक्त कराई गई। इस जमीन पर अब पर्यटक थाना का निर्माण किया जाएगा। प्रशासन ने यह जमीन पुलिस विभाग को हस्‍तांतरित कर दी है। विजय मिश्रा इस...

बाहुबली विधायक विजय मिश्रा के कब्जे से मुक्त जमीन पुलिस को सौंपी, बनेगा पर्यटक थाना
Yogesh Yadavभदोही भाषाMon, 11 Jan 2021 04:43 PM
ऐप पर पढ़ें

भदोही में बाहुबली विधायक विजय मिश्रा के कब्जे से सरकारी जमीन मुक्त कराई गई। इस जमीन पर अब पर्यटक थाना का निर्माण किया जाएगा। प्रशासन ने यह जमीन पुलिस विभाग को हस्‍तांतरित कर दी है। विजय मिश्रा इस समय आगरा जेल में बंद हैं।

भदोही के जिलाधिकारी राजेंद्र प्रसाद ने सोमवार को बताया कि नेशनल हाइवे की सड़क पर ऊंज थाना क्षेत्र के नवधन की मुक्‍त कराई गई सरकारी ज़मीन पुलिस विभाग को हस्तांतरित कर दी गई है।

भदोही पुलिस अधीक्षक राम बदन सिंह ने बताया कि सरकार द्वारा हर जिले में पर्यटकों की सुविधा के लिए एक पर्यटक थाना बनाने के निर्देश दिये गये हैं। काशी (वाराणसी), विंध्याचल (मिर्ज़ापुर), सीतामढ़ी (भदोही) और प्रयागराज जिले के महत्वपूर्ण धार्मिक और पर्यटन स्थलों के बीच में पड़ने वाला ऊंज थाना के नवधन क्षेत्र का यह स्थल सबसे उपयुक्त है, जहां से चारों जिले के पर्यटकों को सुविधा और सुरक्षा मिलेगी। सावन में कांवरियों द्वारा जलाभिषेक के लिए भी यह हाइवे काफी महत्वपूर्ण है।

उन्होंने बताया कि 6 हज़ार वर्ग मीटर भूमि में यहां एक थाना भवन के साथ पर्यटक पुलिस के अधिकारी और कर्मचारियों के रहने को आवास भी एक कालोनी के रूप में विकसित किया जायेगा। साथ ही एक सरकारी पर्यटक अतिथि गृह भी बनाने की योजना है। उन्‍होंने कहा कि दो हज़ार वर्ग मीटर के बाहरी क्षेत्र में पार्किंग एरिया होगा।

जिलाधिकारी राजेंद्र प्रसाद ने बताया कि सरकारी लगभग आठ हज़ार वर्ग मीटर की इस भूमि पर ज्ञानपुर के विधायक विजय मिश्रा ने कई साल से परशुराम मंदिर का बोर्ड लगाकर, चाहरदीवारी से घेर कर कब्ज़ा कर रखा था। इसकी शिकायत भाजपा विधायक रविंद्र नाथ त्रिपाठी ने की थी, जिसकी जांच तहसील प्रशासन से कराई गई और जांच में उक्त भूमि पर विजय मिश्रा का अवैध कब्ज़ा पाते हुए 18 दिसंबर 2020 को बुल्डोज़र से ध्वस्त कर प्रशासन ने अपने कब्ज़े में ले लिया और इस मामले में विजय मिश्रा के खिलाफ ऊंज थाना में मुकदमा कायम कर पांच लाख सत्तर हज़ार रूपये का जुर्माना भरने को नोटिस दिया गया है।

विजय मिश्रा उनकी पत्नी और बेटा पर उनके एक रिश्तेदार कृष्ण मोहन तिवारी की चल-अचल संपत्ति सहित कई अन्य मामलों पर चार अगस्त को दर्ज हुए मामले में विजय मिश्रा को मध्य प्रदेश से पुलिस ने चौदह अगस्त को गिरफ्तार किया गया था। इसके बाद से वह आगरा जेल में बंद हैं, जबकि उनकी विधान परिषद सदस्य पत्नी रामलली मिश्रा उच्च न्यायालय से सशर्त ज़मानत पर हैं और बेटा विष्णु मिश्रा अभी तक फरार है। पुलिस ने विष्‍णु की गिरफ़्तारी के लिए लुकआउट नोटिस जारी किया हुआ है। 

epaper