Kumbh 2019 fomalities starts from today sant fair - Kumbh mela 2019: मौजगिरी से संगम तक आज संतों का रेला DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

Kumbh mela 2019: मौजगिरी से संगम तक आज संतों का रेला

कुम्भ मेला 2019: मौजगिरी से संगम तक आज संतों का रेला

कुम्भ मेले की औपचारिक शुरुआत मंगलवार को जूना अखाड़े की पेशवाई के साथ हो जाएगी। यमुना बैंक रोड स्थित मौजगिरि आश्रम से लेकर संगम की रेती तक हजारों की संख्या में साधु-महात्मा जुटेंगे।

अखाड़े की पेशवाई के लिए जूना अखाड़े के पीठाधीश्वर आचार्य महामंडेश्वर अवधेशानंद गिरि प्रयागराज पहुंच गए। पेशवाई में 50 से अधिक महामंडेश्वर शामिल होंगे।.

पेशवाई दोपहर 12 बजे मौजगिरि आश्रम से शुरू होगी। आगे भगवान दत्तात्रेय की सोने के हौदे पर सवार प्रतिमा होगी। इसके पीछे नागा साधु संतों का हुजूम होगा। अखाड़े की पेशवाई तमाम रास्तों से होते हुए मेला क्षेत्र में शाम पांच बजे पहुंचेगी। 

पेशवाई की तैयारी के लिए मौजगिरि आश्रम में सोमवार को संरक्षक महंत हरिगिरि, जगद्गुरु पंचानंद गिरि, संन्यासिनी अखाड़े की पदाधिकारियों और राष्ट्रीय प्रवक्ता श्रीमहंत विद्यानंद सरस्वती ने बैठक की। अखाड़े की पेशवाई में हाथी, घोड़े, ऊंट, रथ, ट्रैक्टर-ट्राली को रखा जाएगा। देश के तमाम कोने के बैंड पेशवाई की शोभा बढ़ाएंगे। .

हाथी, घोड़े, ऊंट होंगे पेशवाई में शामिल-
पेशवाई में शामिल होने के लिए हाथी-घोड़े और ऊंट प्रयागराज आ रहे हैं। सुबह सात बजे तक इनके यहां आने की उम्मीद है। दर्जन भर घोड़े और कुछ हाथी व आधा दर्जन ऊंट पेशवाई में होंगे। लाठी-डंडों के करतब, तलवारबाजी और रमता पंच के कलाकार पेशवाई की शोभा बढ़ाएंगे। .

पेशवाई का ये होगा रूट-
यमुना बैंक रोड मौजगिरि आश्रम से दोपहर 12 बजे शुरू होगी। यमुना किनारे, मिंटो पार्क चौराहे से एडीसी रोड, एडीसी के सामने नए यमुना ब्रिज के नीचे से परेड में प्रवेश करेगी। यहां से त्रिवेणी मार्ग, फोर्ट रोड चौराहा के रास्ते प्रशासन के कार्यालय के सामने, त्रिवेणी बांध से पीपा पुल पार कर पेशवाई जूना अखाड़े के प्लाट में *शाम पांच से साढ़े पांच के बीच *प्रवेश करेगी। .

नागाओं के होंगे हैरतअंगेज करतब-
नागाओं के हैरत अंगेज करतब भी यहां पर होंगे। लाठी-डंडों के करतब, तलवारबाजी और रमता पंच के कलाकार अपने ढंग से पेशवाई की शोभा बढ़ाएंगे। .

50 से अधिक महामंडेश्वर होंगे शामिल-
जूना अखाड़े की ओर से पेशवाई में शामिल होने के लिए 50 महामंडलेश्वरों की सहमति मिल गई है। फ्लाइट से ये लोग, दिल्ली, लखनऊ और वाराणसी आएंगे। यहां से सड़क मार्ग से प्रयागराज पहुंचेंगे। अखाड़े के संरक्षक महंत हरिगिरि ने बताया कि यह संख्या मंगलवार सुबह तक और बढ़ सकती है। .

करेंगे पूजन और अर्चन-

अखिल भारतीय सर्वमंगला संत समिति की ओर से अखाड़े के आराध्य भगवान दत्तादेय का पूजन और अर्चन मौजगिरि आश्रम में किया जाएगा। स्वामी माधवानंद, महंत मोहन गिरि, सत्यम, ओम प्रकाशानंद, राजेश पालीवाल, प्रभाशंकर त्रिपाठी, सुभाष पांडेय, शाश्वत पांडेय, रामकृष्ण तिवारी, मनोज भारतीय, शंकरपुरी, बलदेव गिरि, आत्मानंद आदि शामिल होंगे।

300 वाहनों का होगा काफिला-
पेशवाई में वाहनों का काफिला शामिल होगा। इसमें तमाम लग्जरी गाड़ियां होंगी।

प्रमुख संत-
आचार्य महामंडलेश्वर स्वामी अवधेशानंद गिरि, पीठाधीश्वर, श्रीपंचदशनाम जूना अखाड़ा.
महंत हरिगिरि, संरक्षक जूना अखाड़ा.
जगद्गुरु स्वामी पंचानंद गिरि, पदाधिकारी, जूना अखाड़ा.
महामंडलेश्वर कैलाशानंद ब्रह्मचारी, श्रीपंच अग्नि अखाड़ा.


अखाड़ा                               धर्म ध्वजा    पेशवाई.

जूना अखाड़ा, अग्नि अखाड़ा    20 दिसंबर   25 दिसंबर
आह्ववन अखाड़ा                    20 दिसंबर   27 दिसंबर
महानिर्वाणी अखाड़ा              27 दिसंबर   एक जनवरी
निरंजनी अखाड़ा                   28 दिसंबर   दो जनवरी
आनंद अखाड़ा                      28 दिसंबर   3 जनवरी
अटल अखाड़ा                       27 दिसंबर   3 जनवरी
बड़ा उदासीन अखाड़ा             12 जनवरी    11 जनवरी
निर्मला अखाड़ा                    4 जनवरी     13 जनवरी
नया उदासीन अखाड़ा            9 जनवरी    10 जनवरी

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Kumbh 2019 fomalities starts from today sant fair