ट्रेंडिंग न्यूज़

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

हिंदी न्यूज़ उत्तर प्रदेशकानपुर हिंसाः ईरान, ओमान और पाकिस्तान कनेक्शन की जांच एनआईए ने संभाली

कानपुर हिंसाः ईरान, ओमान और पाकिस्तान कनेक्शन की जांच एनआईए ने संभाली

नई सड़क हिंसा के तार आसपास के जिलों के अलावा खाड़ी देशों में मौजूद लोगों से भी जुड़ते नजर आ रहे हैं। साजिशकर्ताओं ने ईरान, ओमान और पाकिस्तान तक भी एक व्हाट्सएप ग्रुप के जरिए संदेश भेजा था।

कानपुर हिंसाः ईरान, ओमान और पाकिस्तान कनेक्शन की जांच एनआईए ने संभाली
Rishiकानपुर। प्रमुख संवाददाताFri, 24 Jun 2022 02:24 AM

इस खबर को सुनें

0:00
/
ऐप पर पढ़ें

नई सड़क हिंसा के तार आसपास के जिलों के अलावा खाड़ी देशों में मौजूद लोगों से भी जुड़ते नजर आ रहे हैं। साजिशकर्ताओं ने ईरान, ओमान और पाकिस्तान के लोग तक भी  एक व्हाट्सएप ग्रुप के जरिए संदेश भेजा था कि तीन जून को कानपुर में क्या होने वाला है। खाड़ी देशों का कनेक्शन सामने आने के बाद अब इस मामले में एनआईए भी सक्रिय हो गई है। एनआईए के दो अफसर गुरुवार को शहर में मौजूद थे। उन्होंने व्हाट्सएप ग्रुप, इसमें जुड़े नम्बरों की जानकारी के लिए एटीएस से मदद मांगी है। 
सूत्रों के मुताबिक पहली जून को व्हाट्सएप पर एक ग्रुप बनाया गया जिसके लिंक सैकड़ों लोगों को भेजे गए। उस लिंक इनवाइट के जरिए लोग उसमें जुड़ना शुरू हुए जिसमें ईरान से  96.....9431,  96.....3231, पाकिस्तान से  92.....8767,  92.....3211, ओमान से   968.....2343 और शहर से  91....034 नम्बर के स्क्रिन शॉट सामने आए हैं। इस स्क्रीन शॉट के बैकग्राउंड पर एक व्यक्ति की फोटो लगी है जो काले जूते, सफेद जींस, कोट और काला चश्मा लगाए है। इस स्क्रीन शॉट से यह भी जानकारी मिली है कि दो जून की देर रात 3:06 मिनट तक लोगों ने इसमें ग्रुप कॉल करके बात की है। इसके बाद तीन जून को पाकिस्तान से  92.....8767 ग्रुप लेफ्ट कर गया। 
शेख साहब का हुक्म है...दौड़ पड़ना हाते की तरफ
इसी ग्रुप में तीन जून की दोपहर 12:45 पर एक मैसेज पोस्ट किया गया जिसमें लिखा है अल बरकत मार्केट पेंचबाग लड़कों को लेकर आना और झोले में बम भी लाना। दो बजे तक  गुड्डे भाई के फ्लैट के नीचे हर हाल मे पहुंच जाना और गुड्डे भाई के लड़के अंशु के नंबर पर कॉल कर लेना वो नीचे आ जाएगा। फिर सीधे चन्द्रेश्वर हाते पर दौड़ पड़ना। अब कोई भी पीछे नहीं हटेगा। सुन लो कान खोल कर शेख साहब का हुकुम है।
पूरे प्रकरण में जांच कराई जा रही है
ज्वाइंट सीपी आनंद प्रकाश तिवारी ने बताया कि एक व्हाट्सएप चैट और कुछ नम्बरों के बारे में सोशल मीडिया से जानकारी मिली है। उसमें ओमान, ईरान और पाकिस्तान के भी नम्बर मौजूद हैं। यह जांच कराई जा रही है कि कुछ शातिर कई इंटरनेट कॉलिंग के जरिए तो इस ग्रुप से नहीं जुड़े थे। जो बैठे यहां पर थे मगर नम्बर खाड़ी देश के दर्शा रहे थे। पूरे प्रकरण में जांच कराई जा रही है। 

 


 

epaper